आतंकी विरोधी अभियानों में साहस दिखाने वाले 15 जवान पाएंगे सेना मेडल

0
18

जम्मू एवं कश्मीर में आतंकवाद के खिलाफ कार्रवाई के दौरान वीरता का प्रदर्शन करने के लिए कुल 15 भारतीय सेना के अधिकारियों और सैनिकों को शुक्रवार को सेना पदक से सम्मानित किया जाएगा। सेना दिवस के मौके पर शुक्रवार को 15 में से पांच जवानों को मरणोपरांत सेना मेडल से सम्मानित किया जाएगा।

देश की रक्षा करते हुए जवानों द्वारा दिखाए गए अदम्य साहस पर सेना मेडल सम्मान के तौर पर दिया जाता है। 19 राष्ट्रीय राइफल्स (इंजीनियर्स) के मेजर केतन शर्मा को 16 जून, 2019 को जम्मू एवं कश्मीर में आतंकवाद विरोधी अभियान के दौरान अनुकरणीय साहस दिखाने के लिए मरणोपरांत सम्मानित किया जाएगा। उन्होंने एक आतंकवादी को ढेर कर दिया और दुश्मन द्वारा लगातार गोलीबारी के कारण गंभीर रूप से घायल होने के बावजूद एक सहयोगी की जान भी बचाई। बाद में यह वीर जवान शहीद हो गया।

यह भी पढ़ें : Indian Army Day 2021: है शौर्य बड़ा विश्वास नया

वहीं इसके अलावा पांचवीं बटालियन लद्दाख स्काउट्स रेजिमेंट के नायब सूबेदार त्सवांग गालशान को भी अपनी जान की परवाह न करते हुए सियाचिन ग्लेशियर की कंसिंग पोस्ट के पास हिमस्खलन में फंसे एक सैनिक की जान बचाने के लिए मरणोपरांत सम्मानित किया जाएगा। उन्होंने 30 नवंबर, 2019 को शहादत प्राप्त की। इसके अलावा 34 बटालियन राष्ट्रीय राइफल्स (जाट रेजिमेंट) के सिपाही रामबीर को मरणोपरांत यह सम्मान दिया जाएगा। जबकि 10 पैरा (विशेष बल) के नायक संदीप सिंह को भी मरणोपरांत सम्मानित किया जाएगा।

इसके साथ ही ग्रेनेडियर्स रेजिमेंट से चार बटालियन के ग्रेनेडियर हरि भाकर के परिजनों को भी मरणोपरांत सेना मेडल प्रदान किया जाएगा। वहीं पैराशूट रेजिमेंट (स्पेशल फोर्सेज) से चार बटालियन के मेजर अर्चित गोस्वामी, 34 बटालियन राष्ट्रीय राइफल्स के मेजर सचिन अंदोत्रा जैसे अन्य कई वीर सैनिकों को सेना मेडल से नवाजा जाएगा। (आईएएनएस)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here