Sunday, June 13, 2021
Home व्यवसाय वित्त वर्ष 2021-22 में चार लाख टन उड़द आयात का कोटा तय...

वित्त वर्ष 2021-22 में चार लाख टन उड़द आयात का कोटा तय : केंद्र सरकार

वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय ओर से बुधवार को जारी अधिसूचना में कहा गया है कि प्रतिबंधित आयात नीति के तहत वित्त वर्ष 2021-22 के लिए उड़द आयात का चार लाख टन का कोटा है|

केंद्र सरकार ने आगामी वित्त वर्ष (Fiscal Year) 2021-22 में चार लाख टन उड़द आयात का कोटा तय किया है, जिसकी अधिसूचना जारी कर दी गई है। वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय की ओर से जारी अधिसूचना के अनुसार, दाल (Pulses) मिल मालिक या रिफाइन अगले वित्त वर्ष के दौरान चार लाख टन उड़द आयात कर सकते हैं। दलहन बाजार विशेषज्ञ बताते हैं कि उड़द आयात होने से देश में दालों के दाम में वृद्धि पर लगाम लग सकती है। देश के विभिन्न शहरों में इस समय उड़द दाल (Black Gram) का खुदरा भाव 100 रुपये किलो से ऊंचा चल रहा है।

वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय(Ministry of Commerce and Industry) की ओर से बुधवार को जारी अधिसूचना में कहा गया है कि प्रतिबंधित आयात नीति के तहत वित्त वर्ष 2021-22 के लिए उड़द आयात का चार लाख टन का कोटा है जो 31 मार्च 2022 तक की अवधि के लिए अधिसूचित किया गया है।

उड़द दाल का खुदरा भाव 100 रुपये किलो से ऊंचा चल रहा है। (Unsplash)

मंत्रालय में संयुक्त सचिव दिवाकर नाथ मिश्रा(Divakar Nath Mishra) की ओर से जारी अधिसूचना में कहा गया है कि विदेश व्यापार निदेशालय द्वारा अलग से अधिसूचित किए जाने की प्रक्रिया के अनुसार आयात प्रतिबंध के तहत उड़द के आयात की अनुमति सिर्फ मिल मालिकों/रिफाइनरों को दी जाएगी और इसका वितरण बराबर अथवा आवेदन की गई मात्रा, जो भी कम हो, के लिए किया जाएगा।

यह भी पढ़े : ‘बुद्ध के प्रसाद’ कालानमक चावल का स्वाद अब सिंगापुर भी चखेगा

केंद्रीय उपभोक्ता मामले के विभाग की वेबसाइट पर उपलब्ध आवश्यक वस्तुओं की कीमत सूची के अनुसार, देश भर में उड़द दाल (Black Gram) की खुदरा कीमत तीन मार्च 2021 को न्यूनतम 70 रुपये और अधिकतम 160 रुपये किलो थी जबकि मॉडल रेट 11 रुपये किलो था। देश की राजधानी दिल्ली (Delhi) में बुधवार को उड़द दाल का भाव 118 रुपये किलो था। (आईएएनएस-SM)

POST AUTHOR

न्यूज़ग्राम डेस्क
संवाददाता, न्यूज़ग्राम हिन्दी

जुड़े रहें

7,623FansLike
0FollowersFollow
177FollowersFollow

सबसे लोकप्रिय

धर्म निरपेक्षता के नाम पर हिन्दुओ को सालों से बेवकूफ़ बनाया गया है: मारिया वर्थ

यह आर्टिक्ल मारिया वर्थ के ब्लॉग पर छपे अंग्रेज़ी लेख के मुख्य अंशों का हिन्दी अनुवाद है।

विज्ञापनों पर पानी की तरह पैसे बहा रही केजरीवाल सरकार, कपिल मिश्रा ने लगाया आरोप

पिछले 3 महीनों से भारत, कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहा है। इन बीते तीन महीनों में, हम लगातार राज्य सरकारों की...

भारत का इमरान को करारा जवाब, दिखाया आईना

भारत ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान द्वारा संयुक्त राष्ट्र महासभा में दिए गए भाषण पर आईना दिखाते हुए करारा जवाब दिया...

जब इन्दिरा गांधी ने प्रोटोकॉल तोड़ मुग़ल आक्रमणकारी बाबर को दी थी श्रद्धांजलि

ये बात तब की है जब इन्दिरा गांधी भारत की प्रधानमंत्री हुआ करती थी। वर्ष 1969 में इन्दिरा गांधी काबुल, अफ़ग़ानिस्तान के...

दिल्ली की कोशिश पूरे 40 ओवर शानदार खेल खेलने की : कैरी

 दिल्ली कैपिटल्स के विकेटकीपर एलेक्स कैरी ने कहा है कि टीम के लिए यह समय है टूर्नामेंट में दोबारा शुरुआत करने का।...

गाय के चमड़े को रक्षाबंधन से जोड़ने कि कोशिश में था PETA इंडिया, विरोध होने पर साँप से की लेखक शेफाली वैद्य कि तुलना

आज ट्वीटर पर मचे एक बवाल में PETA इंडिया का हिन्दू घृणा खुल कर सबके सामने आ गया है। ये बात...

दिल्ली दंगा करवाने में ‘आप’ पार्षद ताहिर हुसैन ने खर्च किए 1.3 करोड़ रूपए: चार्जशीट

इस साल फरवरी में हुए हिन्दू विरोधी दिल्ली दंगों को लेकर आज दिल्ली पुलिस ने कड़कड़डूमा कोर्ट में चार्ज शीट दाखिल किया।...

क्या अमनातुल्लाह खान द्वारा लिया गया ‘दान’, दंगों में खर्च हुए पैसों की रिकवरी थी? बड़ा सवाल!

फरवरी महीने में हुए दिल दहला देने वाले हिन्दू विरोधी दंगों को लेकर दिल्ली पुलिस आक्रमक रूप से लगातार कार्यवाही कर रही...

हाल की टिप्पणी