अमेरिकी दूतावास के सहयोग से प्रशिक्षित हुए दिल्ली के 800 शिक्षक

0
12

 दिल्ली के सरकारी स्कूलों में अंग्रेजी शिक्षकों के लिए टीचिंग इंगलिश टू स्टूडेंट्स ऑफ अदर लैंगवेजेज (टीईएसओएल) का कोर सर्टिफिकेट प्रोग्राम लॉन्च किया गया है। दिल्ली के सरकारी विद्यालयों में यह कार्यक्रम दिल्ली सरकार और अमेरिकी दूतावास के सहयोग से शुरू किया गया है। अभी तक इसके अंतर्गत 800 शिक्षकों को प्रशिक्षित किया गया है। भारत स्थित अमेरिकी दूतावास के क्षेत्रीय अंग्रेजी भाषा अधिकारी रूथ गूड की मौजूदगी में उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने इस कोर्स की शुरूआत की। इस सर्टिफिकेट प्रोग्राम का उद्देश्य दिल्ली के सरकारी स्कूलों के अंग्रेजी शिक्षकों की भाषा शिक्षण क्षमता बढ़ाकर अंग्रेजी की उत्कृष्ट पढ़ाई सुनिश्चित करना है। इस सर्टिफिकेट प्रोग्राम में 50 शिक्षकों को शामिल किया गया है।

इस दौरान डिप्टी सीएम सिसोदिया ने कहा, “शिक्षकों को अपना कौशल लगातार बढ़ाते रहना जरूरी है। हम चाहते हैं कि हमारे शिक्षक जिन चीजों को पहले से जानते हैं, उन्हें खास तरीके से करें। इस सर्टिफिकेट पाठ्यक्रम से शिक्षकों को अपनी कक्षाओं में अधिक रचनात्मकता लाने में मदद मिलेगी।”

लॉन्च के दौरान भारत स्थित अमेरिकी दूतावास के क्षेत्रीय अंग्रेजी भाषा अधिकारी रूथ गूड भी मौजूद थीं। उन्होंने दिल्ली सरकार के साथ अमेरिकी दूतावास के लंबे अरसे से जारी सहयोग का उल्लेख करते हुए कहा, “दिल्ली सरकार के शिक्षकों के उत्कृष्ट प्रशिक्षण की दिशा में उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के प्रयास सराहनीय हैं। दिल्ली सरकार के साथ हमारे संबंध काफी महत्वपूर्ण हैं। हमने अब तक लगभग 800 शिक्षकों को प्रशिक्षित किया है और भविष्य में और ऐसे प्रशिक्षण जारी रखेंगे।”

यह भी पढ़ें : पीएम मोदी के दिल में है जम्मू-कश्मीर : गृह मंत्री अमित शाह

अंग्रेजी का महत्व 

उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि अंग्रेजी अब एक जरूरी भाषा बन चुकी है। हमारे शिक्षक अपने छात्रों को अंग्रेजी पढ़ाना जानते हैं। लेकिन हम शिक्षकों को और अधिक रचनात्मक तरीके से छात्रों को पढ़ाने में मदद करना चाहते हैं। इस पाठ्यक्रम के जरिए हम शिक्षण के नए तरीके सीखने के लिए शिक्षकों को हर तरह की सहायता एवं प्रशिक्षण प्रदान करेंगे।

उल्लेखनीय है कि अन्य भाषाओं के स्टूडेंट्स को अंग्रेजी पढ़ाने के लिए इस खास प्रशिक्षण की अवधि कुल 140 घंटे है। टीचिंग इंगलिश टू स्टूडेंट्स ऑफ अदर लैंगवेजेज नामक यह सर्टिफिकेट प्रोग्राम छह माह में पूरा होगा। अमेरिकी दूतावास के क्षेत्रीय अंग्रेजी भाषा कार्यालय ने 2017 से अब तक दिल्ली सरकार के स्कूलों के लगभग 800 शिक्षकों को प्रशिक्षित किया है। उन्होंने मास्टर ट्रेनर भी विकसित किए हैं जो प्राथमिक और माध्यमिक स्कूल के शिक्षकों को बेहतर अंग्रेजी शिक्षण का प्रशिक्षण देते हैं। (आईएएनएस)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here