Tuesday, June 15, 2021
Home मनोरंजन अभिषेक बनर्जी: ओटीटी के कारण अपनी बहुमुखी प्रतिभा साबित करने में सक्षम...

अभिषेक बनर्जी: ओटीटी के कारण अपनी बहुमुखी प्रतिभा साबित करने में सक्षम हुए।

अभिनेता अभिषेक बनर्जी ने कहा कि शोबिज में अपनी छवि बदलने में उनकी मदद ओटीटी ने की हैं। अबतक उन्हें केवल हास्य भूमिकाएं दी जा रही थीं|

अभिनेता अभिषेक बनर्जी (Abhishek Banerjee) ने कहा कि शोबिज में अपनी छवि बदलने में उनकी मदद ओटीटी ने की हैं। अबतक उन्हें केवल हास्य भूमिकाएं दी जा रही थीं और ओटीटी (OTT) शो ने इसे बदलने में मदद की है।

उन्होंने आईएएनएस को बताया कि “एक अच्छा शब्द है जो लोग इस्तेमाल करते हैं, ‘अजीब’। मुझे केवल अजीब भूमिकाएं मिल रही थीं। मुझे चिंता हो रही थी कि मुझे केवल विचित्र भूमिकाएं ही क्यों मिल रही हैं। मैं इससे ऊब गया था। शुक्र है कि ‘पाताल लोक’ (Patal Lok) ने इसे बदल दिया। इसने लोगों को बताया कि मैं कॉमेडी के अलावा और भी बहुत कुछ कर सकता हूं।”

अभिनेता का कहना है कि वह ओटीटी के कारण अपनी बहुमुखी प्रतिभा साबित करने में सक्षम हुए।

“ओटीटी ने जो किया उसने मुझे दर्शकों की आंखें दीं। इसने मुझे कद दिया। लेकिन मुझे लगता है कि ओटीटी ने मुझे एक अच्छी पूर्ण अभिनेता की स्थिति दी। इससे पहले, मैं केवल हास्य भूमिकाएं कर रहा था और मैं थक गया था मुझे हर समय जिस तरह के रोल ऑफर हो रहे थे।”

वे कहते हैं “मैं ऐसा था कि यहां केवल कॉमेडी करने के लिए नहीं आया हूं। मैं बहुत सारे अन्य किरदार कर सकता हूं और मैं तैयार हूं। मेरा सारा प्रशिक्षण फिल्म निमार्ताओं और दर्शकों के लिए अपनी बहुमुखी प्रतिभा साबित करने के लिए है।”

अभिषेक का कहना है कि जबकि उन्हें यकीन था कि ‘पाताल लोक’ अच्छा करेगी, लेकिन उन्होंने इसके लोकप्रिय होने की उम्मीद नहीं की थी।

OTT platform
अबतक उन्हें केवल हास्य भूमिकाएं दी जा रही थीं और ओटीटी (OTT) शो ने इसे बदलने में मदद की है। (ट्विटर)

“मैं जानता था जब मैं इसकी शूटिंग कर रहा था कि मैं किसी विशेष चीज का हिस्सा हूं। मैं हमेशा यही कहता था। मुझे पता था कि यह वैसा नहीं था जैसा मैंने पहले किया था। मेरी फिल्म ‘स्त्री’ जो अलग थी क्योंकि वह मेरी पहली फिल्म थी और मुझे डर लग रहा था कि मैं क्या करूं।”

वे कहते हैं, “पाताल लोक में, मुझे समझ में आया कि मैं क्या सही या गलत कर रहा था। मुझे विश्वास था कि यह अच्छा करेगी लेकिन मुझे नहीं पता था कि यह इतना अच्छा करेगी। इसके रिलीज से पहले मुझे ‘वायरल’ शब्द समझ में नहीं आया।”

वह आगे कहते हैं “ट्रेलर (लॉन्च) से पहले, मैं बुरी हालत में था। मैंने अपनी शूटिंग पूरी कर ली थी और बहुत सी चीजें लाइन में थीं, लेकिन अचानक लॉकडाउन के कारण सब कुछ बंद हो गया। मुझे एहसास हुआ कि भगवान मुझे फिर से वहीं स्थिति में ले आए हैं। “मैं ब्रह्मांड से बहुत शिकायत करता था कि तुमने मुझे शिकार होने के लिए क्यों चुना है।”

यह भी पढ़ें :- मैं अब कुछ लाइटर और कॉमिक रोल करना चाहता हूं : Amit Sial

“जैसे ही ट्रेलर ओटीटी चैनलों पर आया, सब कुछ बदल गया और मुझे एहसास हुआ कि यह ब्रह्मांड का एक उपहार था और मैं पूरी तरह से कृतज्ञ था। इसने मेरे जीवन को पूरी तरह से बदल दिया।”

अपनी भविष्य की योजनाओं के बारे में बात करते हुए, वह कहते हैं “मैं नैतिक मूल्यों और जिम्मेदारियों के साथ प्रोजेक्ट को चुनना चाहता हूं। मुझे लगता है कि अभिनेताओं के लिए ऐसा करना जरूरी है। आपके पास एक आवाज होनी चाहिए जो महत्वपूर्ण हो। मैं ऐसे प्रोजेक्ट करना चाहता हूं जिनमें कुछ कहानी हो।” (आईएएनएस-SM)

POST AUTHOR

न्यूज़ग्राम डेस्क
संवाददाता, न्यूज़ग्राम हिन्दी

जुड़े रहें

7,623FansLike
0FollowersFollow
177FollowersFollow

सबसे लोकप्रिय

धर्म निरपेक्षता के नाम पर हिन्दुओ को सालों से बेवकूफ़ बनाया गया है: मारिया वर्थ

यह आर्टिक्ल मारिया वर्थ के ब्लॉग पर छपे अंग्रेज़ी लेख के मुख्य अंशों का हिन्दी अनुवाद है।

विज्ञापनों पर पानी की तरह पैसे बहा रही केजरीवाल सरकार, कपिल मिश्रा ने लगाया आरोप

पिछले 3 महीनों से भारत, कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहा है। इन बीते तीन महीनों में, हम लगातार राज्य सरकारों की...

भारत का इमरान को करारा जवाब, दिखाया आईना

भारत ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान द्वारा संयुक्त राष्ट्र महासभा में दिए गए भाषण पर आईना दिखाते हुए करारा जवाब दिया...

जब इन्दिरा गांधी ने प्रोटोकॉल तोड़ मुग़ल आक्रमणकारी बाबर को दी थी श्रद्धांजलि

ये बात तब की है जब इन्दिरा गांधी भारत की प्रधानमंत्री हुआ करती थी। वर्ष 1969 में इन्दिरा गांधी काबुल, अफ़ग़ानिस्तान के...

दिल्ली की कोशिश पूरे 40 ओवर शानदार खेल खेलने की : कैरी

 दिल्ली कैपिटल्स के विकेटकीपर एलेक्स कैरी ने कहा है कि टीम के लिए यह समय है टूर्नामेंट में दोबारा शुरुआत करने का।...

गाय के चमड़े को रक्षाबंधन से जोड़ने कि कोशिश में था PETA इंडिया, विरोध होने पर साँप से की लेखक शेफाली वैद्य कि तुलना

आज ट्वीटर पर मचे एक बवाल में PETA इंडिया का हिन्दू घृणा खुल कर सबके सामने आ गया है। ये बात...

दिल्ली दंगा करवाने में ‘आप’ पार्षद ताहिर हुसैन ने खर्च किए 1.3 करोड़ रूपए: चार्जशीट

इस साल फरवरी में हुए हिन्दू विरोधी दिल्ली दंगों को लेकर आज दिल्ली पुलिस ने कड़कड़डूमा कोर्ट में चार्ज शीट दाखिल किया।...

क्या अमनातुल्लाह खान द्वारा लिया गया ‘दान’, दंगों में खर्च हुए पैसों की रिकवरी थी? बड़ा सवाल!

फरवरी महीने में हुए दिल दहला देने वाले हिन्दू विरोधी दंगों को लेकर दिल्ली पुलिस आक्रमक रूप से लगातार कार्यवाही कर रही...

हाल की टिप्पणी