गुजरात की सभी योजनाएं सभी धर्मों के लिए हैं- भूपेंद्र पटेल

0
7
गुजरात के मुख्यमंत्री, भूपेंद्र पटेल{Twitter}

गुजरात में एक और कार्यकाल के लिए भाजपा की सरकार बनने को लेकर आश्वस्त मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने कहा कि उनकी सरकार की योजनाएं धार्मिक आधार पर भेदभाव नहीं करती हैं और यह किसी को भी बर्दाश्त नहीं करेगी जो राज्य की नीतियों का उल्लंघन करने की कोशिश करता है।

एक इंटरव्यू में पटेल ने कहा कि नरेंद्र मोदी एक ही हैं और उनके काम की बराबरी कोई नहीं कर सकता। पटेल ने कहा, “हमें प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में काम करना है। नरेंद्र मोदी की तरह काम करना संभव नहीं है और वैश्विक स्तर पर भी उनके द्वारा किए जा रहे काम की बराबरी कोई नहीं कर सकता। मोदी ने जो कुछ भी किया है, उसने हमें गौरवान्वित किया है।”
पटेल ने कहा कि साल के अंत में होने वाले विधानसभा चुनाव में भाजपा को किसी से कोई चुनौती नहीं है। उन्होंने कहा, “भाजपा संगठन और सरकार मिलकर लोगों के लिए काम कर रहे हैं और संगठन के काम को जमीन पर लोगों तक ले जा रहे हैं।”

साक्षात्कार के मुख्य अंश :

प्रश्न : विकास के अलावा और कौन से मुद्दे हैं जिन पर लोग एक और कार्यकाल के लिए भाजपा सरकार का चुनाव करेंगे?
पटेल : भाजपा सरकार आम आदमी को ध्यान में रखते हुए एक बुनियादी अवधारणा के साथ काम कर रही है ताकि कल्याण और विकास योजनाओं का लाभ राज्य के दूर-दराज के लोगों तक पहुंचे। सरकार ने यह सुनिश्चित करने के लिए काम किया है कि सरकार का अधिक से अधिक लाभ सभी तक पहुंचे। हम उन योजनाओं के साथ ‘डोर टू डोर’ जाकर भी जांच कर रहे हैं कि कौन सी योजनाओं को लागू किया जाए और लोगों के लिए फायदेमंद हो। हम उन्हें घर-घर जाकर विभिन्न सरकारी योजनाओं की जानकारी भी दे रहे हैं।

प्रश्न : वे कौन सी चीजें हैं जो आपको लगता है कि गुजरात में गेमचेंजर होंगी?
पटेल : हम यहां (सत्ता में) लंबे समय से हैं। अब हमने हरित ऊर्जा और शून्य कार्बन पर काम करना शुरू कर दिया है। मुख्य रूप से हम इलेक्ट्रिक वाहन (ईवी)/बैटरी पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं और हमने जापान के साथ 10,400 करोड़ रुपये के समझौता ज्ञापन (समझौता ज्ञापन) पर हस्ताक्षर किए हैं और इस पर काम करना शुरू कर दिया है। हमने हरित ऊर्जा के लिए पांच लाख करोड़ रुपये के एमओयू पर भी हस्ताक्षर किए हैं और काम शुरू कर दिया गया है। हम दोनों पर काम कर रहे हैं क्योंकि इसके कई फायदे हैं। इससे पेट्रोल पर निर्भरता भी कम होती है और हमने अभी से हरित ऊर्जा पर काम करना शुरू कर दिया है और हमें उम्मीद है कि इससे हमें फायदा होगा।

यह भी पढ़ें :-पद्मश्री सम्मान से नवाजे गए, आयरलैंड के संस्कृत के शिक्षक

प्रश्न : केंद्र की भाजपा सरकार ‘सबका साथ, सबका विकास’ की नीति पर काम कर रही है, लेकिन गुजरात में अल्पसंख्यक समुदायों की खूब चर्चा हो रही है। आप क्या कहेंगे?
पटेल : मेरे काम करने का तरीका अलग है। हमारी सरकार की एक ही नीति है कि किसी को परेशानी न हो और हमारी सरकार हर नागरिक के जीवन को बेहतर बनाने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है। गुजरात की योजनाएं और नीतियां सभी धर्मो के लिए हैं। गुजरात की एक नीति है और हम सरकार की नीतियों को तोड़ने वाले किसी को भी बर्दाश्त नहीं करेंगे।

प्रश्न : आपकी सरकार स्कूलों में ‘गीता’ पढ़ाने की योजना क्यों बना रही है?
पटेल : इस पर चर्चा करना जल्दबाजी होगी। सब कुछ पढ़ने के बाद हम बात करेंगे और फैसला करेंगे। यह सवाल अभी नहीं उठाना चाहिए।

सवाल : पिछले चुनाव में कांग्रेस ने भाजपा को कड़ी टक्कर दी थी। आप इस साल के चुनाव में कांग्रेस सहित विपक्ष की चुनौतियों को कैसे देखते हैं, क्योंकि कई नई पार्टियां आ रही हैं, जो विधानसभा चुनाव लड़ने की योजना बना रही हैं?
पटेल : विधानसभा चुनाव से पहले स्थानीय निकाय चुनाव हुए। भाजपा ने सभी जिला पंचायत चुनाव जीते हैं। किसी से कोई चुनौती नहीं है। भाजपा संगठन और सरकार मिलकर लोगों के लिए काम कर रहे हैं।

प्रश्न : क्या पार्टी ने इस साल के विधानसभा चुनाव में जीतने के लिए सीटों की संख्या का कोई लक्ष्य रखा है?
पटेल : गुजरात भाजपा अध्यक्ष ने जो कहा है वह हो सकता है। मैं एक सकारात्मक व्यक्ति हूं और कभी किसी को हराने के लिए चुनाव नहीं लड़ता, बल्कि जीतने के लिए लड़ता हूं। मैं हर सीट जीतने के लिए चुनाव लड़ता हूं, किसी को हराने के लिए नहीं।

प्रश्न : क्या इस बात की कोई संभावना है कि भाजपा आपके मंत्रिमंडल की तरह विधानसभा चुनावों में बड़ी संख्या में नए चेहरे उतार सकती है?
पटेल : भाजपा में एक मुख्यमंत्री को भी टिकट का भरोसा नहीं है और आप मुझसे दूसरों के बारे में पूछ रहे हैं।

प्रश्न : आप गुजरात विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी (आप) की संभावनाओं को कैसे देखते हैं?
पटेल : लोकतंत्र में सभी को चुनाव लड़ने का अधिकार है।

–आईएएनएस{NM}

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here