Saturday, May 15, 2021
Home देश Army Recruitment scam: एनडीए में उम्मीदवारों की भर्ती के लिए दी गई...

Army Recruitment scam: एनडीए में उम्मीदवारों की भर्ती के लिए दी गई रिश्वत

सेना भर्ती घोटाले को लेकर सेना द्वारा की गई आंतरिक जांच में पाया गया है कि अधिकारियों ने दिसंबर 2020 में कथित तौर पर एनडीए के एसएसबी के लिए उम्मीदवारों को पैसे के बदले में मंजूरी दे दी।

By: आनंद सिंह

सेना भर्ती घोटाले को लेकर सेना द्वारा की गई आंतरिक जांच में पाया गया है कि अधिकारियों ने दिसंबर 2020 में कथित तौर पर राष्ट्रीय रक्षा अकादमी (एनडीए) के सेवा चयन बोर्ड (एसएसबी) के लिए उम्मीदवारों को पैसे के बदले में मंजूरी दे दी। सीबीआई ने इस साल 13 मार्च को अतिरिक्त महानिदेशालय, अनुशासन और सतर्कता, एडजुटेंट जनरल की शाखा, रक्षा मंत्रालय के एकीकृत मुख्यालय (सेना), डीएचक्यू पीओ, नई दिल्ली की ओर से एक शिकायत पर मामला दर्ज किया था। सीबीआई ने लेफ्टिनेंट कर्नल, मेजर, नायब सूबेदार, सिपाही आदि सहित 17 सैन्य अधिकारियों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। यह कार्रवाई सेवा चयन बोर्ड (एसएसबी) के माध्यम से अधिकारियों और अन्य रैंकों की भर्ती में रिश्वत और अनियमितताओं से संबंधित आरोपों पर की गई है।

अधिकारी ने कहा कि तलाशी के दौरान कई गुप्त दस्तावेज जब्त किए गए हैं। अधिकारी ने कहा कि तलाशी के दौरान बरामद दस्तावेजों की छानबीन की जा रही है। सीबीआई ने बेस अस्पताल दिल्ली छावनी में तैनात नायब सूबेदार कुलदीप सिंह, लेफ्टिनेंट कर्नल एमवीएसएनए भगवान, आर्मी एयर डिफेंस कॉर्प्स (छुट्टी पर) विशाखापट्टनम, मेजर भावेश कुमार, ग्रुप टेस्टिंग ऑफिसर, 31 एसएसबी सिलेक्शन सेंटर नॉर्थ, कपूरथला के अलावा कई वरिष्ठ अधिकारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की है। दरअसल, केंद्रीय जांच एजेंसी (सीबीआई) ने सेना में अफसरों की भर्ती में कथित भ्रष्टाचार को लेकर एक बड़ी कार्रवाई करते हुए सोमवार को 17 अधिकारियों के खिलाफ मामला दर्ज करने के अलावा कई राज्यों में 30 स्थानों पर तलाशी ली थी।

जिन अधिकारियों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है, उनमें छह लेफ्टिनेंट कर्नल, एक मेजर, एक नायब सूबेदार और एक हवलदार व उनके परिवार के सदस्य शामिल हैं। सेना के सूत्रों के अनुसार, यह पता चला है कि दिल्ली छावनी के बेस अस्पताल में तैनात नायब सूबेदार कुलदीप सिंह ने पैसे के बदले में लेफ्टिनेंट कर्नल एमवीएसएनए भगवान से एसएसबी पास करने में सहायता मांगी। सूत्र ने आगे कहा कि सिंह ने एसएसबी में बेटे के चयन के लिए हवलदार पवन कुमार से भी धनराशि स्वीकार की। अभी यह स्पष्ट नहीं है कि इस एवज में कितनी धनराशि दी गई। लेफ्टिनेंट कर्नल भगवान वर्तमान में विशाखापत्तनम में अध्ययन अवकाश (स्टडी लीव) पर हैं।

सेना में भर्ती के लिए ली गई थी रिश्वत।(Wikimedia Commons)

सूत्र ने यह भी कहा कि लेफ्टिनेंट कर्नल भगवान को इस साल 26 फरवरी को पासिंग आउट परेड के एक वीडियो फुटेज में नायब सूबेदार कुलदीप सिंह से एक पैकेज लेते हुए भी देखा गया था। सूत्र ने उत्तर कपूरथला के लेफ्टिनेंट कर्नल सुरेंद्र सिंह (रेजिमेंट ऑफ आर्टिलरी) सेवा चयन केंद्र की भूमिका पर भी प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि सुरेंद्र सिंह ने कथित तौर पर 10-15 उम्मीदवारों के चयन के लिए रिश्वत स्वीकार की और उनके बैंक खाते में हवलदार पवन कुमार के बेटे नीरज कुमार से एक लाख रुपये प्राप्त हुए।

यह भी पढ़ें: आईएसआई के खालिस्तानी एजेंडे से निपटने को केंद्र की निगाह सेवानिवृत्त अधिकारियों पर

उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि दिल्ली में सुरेंद्र सिंह के बहनोई भूपेंद्र बजाज को 10-15 उम्मीदवारों के चयन के लिए एक अज्ञात राशि भेजी गई थी। भगवान पर यह भी आरोप है कि उन्होंने लेफ्टिनेंट नवजोत कंवर के चयन के लिए अघोषित नकद राशि स्वीकार की। सूत्र ने बताया कि कुलदीप सिंह के खाते में 5 लाख रुपये बैंकिंग चैनलों के माध्यम से स्थानांतरित किए गए, जबकि 4.5 लाख रुपये बैंकिंग चैनलों के माध्यम से प्रगति को हस्तांतरित किए गए, जो कुलदीप सिंह की दोस्त हैं। सूत्र ने आगे आरोप लगाया कि बेंगलुरू में सेना सेवा कोर सेंटर में तैनात हवलदार पवन कुमार ने लेफ्टिनेंट कर्नल भगवान और नायब सूबेदार कुलदीप सिंह को एनडीए-146 कोर्स में उनके बेटे के चयन के लिए रिश्वत दी।(आईएएनएस-SHM)

POST AUTHOR

न्यूज़ग्राम डेस्क
संवाददाता, न्यूज़ग्राम हिन्दी

जुड़े रहें

7,635FansLike
0FollowersFollow
177FollowersFollow

सबसे लोकप्रिय

धर्म निरपेक्षता के नाम पर हिन्दुओ को सालों से बेवकूफ़ बनाया गया है: मारिया वर्थ

यह आर्टिक्ल मारिया वर्थ के ब्लॉग पर छपे अंग्रेज़ी लेख के मुख्य अंशों का हिन्दी अनुवाद है।

विज्ञापनों पर पानी की तरह पैसे बहा रही केजरीवाल सरकार, कपिल मिश्रा ने लगाया आरोप

पिछले 3 महीनों से भारत, कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहा है। इन बीते तीन महीनों में, हम लगातार राज्य सरकारों की...

भारत का इमरान को करारा जवाब, दिखाया आईना

भारत ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान द्वारा संयुक्त राष्ट्र महासभा में दिए गए भाषण पर आईना दिखाते हुए करारा जवाब दिया...

जब इन्दिरा गांधी ने प्रोटोकॉल तोड़ मुग़ल आक्रमणकारी बाबर को दी थी श्रद्धांजलि

ये बात तब की है जब इन्दिरा गांधी भारत की प्रधानमंत्री हुआ करती थी। वर्ष 1969 में इन्दिरा गांधी काबुल, अफ़ग़ानिस्तान के...

दिल्ली की कोशिश पूरे 40 ओवर शानदार खेल खेलने की : कैरी

 दिल्ली कैपिटल्स के विकेटकीपर एलेक्स कैरी ने कहा है कि टीम के लिए यह समय है टूर्नामेंट में दोबारा शुरुआत करने का।...

गाय के चमड़े को रक्षाबंधन से जोड़ने कि कोशिश में था PETA इंडिया, विरोध होने पर साँप से की लेखक शेफाली वैद्य कि तुलना

आज ट्वीटर पर मचे एक बवाल में PETA इंडिया का हिन्दू घृणा खुल कर सबके सामने आ गया है। ये बात...

दिल्ली दंगा करवाने में ‘आप’ पार्षद ताहिर हुसैन ने खर्च किए 1.3 करोड़ रूपए: चार्जशीट

इस साल फरवरी में हुए हिन्दू विरोधी दिल्ली दंगों को लेकर आज दिल्ली पुलिस ने कड़कड़डूमा कोर्ट में चार्ज शीट दाखिल किया।...

क्या अमनातुल्लाह खान द्वारा लिया गया ‘दान’, दंगों में खर्च हुए पैसों की रिकवरी थी? बड़ा सवाल!

फरवरी महीने में हुए दिल दहला देने वाले हिन्दू विरोधी दंगों को लेकर दिल्ली पुलिस आक्रमक रूप से लगातार कार्यवाही कर रही...

हाल की टिप्पणी