Sunday, June 13, 2021
Home देश आने वाले वर्षो में अद्भुत होगी श्रीराम की अयोध्या

आने वाले वर्षो में अद्भुत होगी श्रीराम की अयोध्या

अयोध्या की काया-कल्प धीरे धीरे बदल रही है। अब अयोध्या को वैश्विक मंचों पर भी देखा जा रहा है। पर्यटन से लेकर सांस्कृतिक कार्यक्रमों में अयोध्या आगे है।

By: विवेक त्रिपाठी

रामनगरी अयोध्या को वैश्विक स्तर पर नई पहचान दिलाने के लिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी ने कोई कोर कसर नहीं छोड़ी है। प्रदेश में सरकार बनने के बाद से ही उन्होंने अयोध्या में दीपोत्सव और राम लीला मंचन से लेकर कई ऐसे आयोजन कराए, जिन्होंने वैश्विक स्तर पर अयोध्या की छवि को मजबूत बनाया है।

फिलहाल, जो भी काम अयोध्या में कराए जा रहे हैं, वह मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सपने को अमलीजामा पहना रहे हैं। आने वाले समय में अयोध्या वैश्विक पर्यटन के नक्शे पर अद्भुत होगी।

देश दुनिया से वहां अपने आराध्य के दर्शन करने वालों पर अमिट छाप छोड़ने के लिए भगवान श्रीराम के भव्यतम और दिव्यतम मंदिर, प्रभु श्रीराम की दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा, वैदिक और आधुनिक सिटी के समन्वित मॉडल के रूप में नव्य अयोध्या के अलावा और भी बहुत कुछ होगा। कुछ काम हो चुके हैं और कई पाइपलाइन में हैं।

अयोध्या की विकास परियोजनाओं के लिए प्रदेश और केंद्र सरकार ने खजाना खोल दिया है। मसलन, अयोध्या आने वाली रेलवे लाइन का दोहरीकरण के साथ भविष्य की जरूरतों के अनुसार रेलवे स्टेशन का सुंदरीकरण और विस्तारीकरण होना है। अयोध्या से सुल्तानपुर राष्ट्रीय राजमार्ग एनएच 330 से एयरपोर्ट तक 18.75 करोड़ रुपये की लागत से चार लेन की सड़क का नवनिर्माण होना है। राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण अयोध्या धाम से बाईपास के लिए सोहावल से विक्रमजोत तक का प्रस्ताव बना रहा है। करीब 1500 करोड़ रुपये की लागत से रायबरेली से अयोध्या तक चार लेन की सड़क के चौड़ीकरण का कार्य भी होना है।

यह भी पढ़ें: योगी सरकार की संस्कृत को बड़े पैमाने पर बढ़ावा देने की योजना

पिछले दिनों पर्यटन विभाग की समीक्षा बैठक में मुख्यमंत्री ने कहा था कि अयोध्या को पर्यटन के लिहाज से वैश्विक सिटी बनाने के लिए उसी के अनुरूप कंसलटेंट का चयन करें। सरयू की अविरलता और निर्मलता बरकरार रखने के लिए वहां आधुनिकतम सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट लगाएं।

अयोध्या में करीब 2.42 करोड़ रुपये की लागत से दशरथ महल, सत्संग भवन, यात्री सहायता केंद्र और रैनबसेरा का निर्माण कार्य चल रहा है। 5.24 करोड़ रुपये की लगात से ड्राइविंग ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट, 1.97 करोड़ रुपये की लागत से पंचकोशी परिक्रमा मार्ग पर छाजन, दिगंबर अखाड़ा में 2.88 करोड़ रुपये की लागत से मल्टीपरपस हाल का निर्माण होना है। स्मार्ट सिटी मिशन के तहत सीवरेज और पेयजल के लिए होने वाले काम अलग से है।

अयोध्या के परियोजना निदेशक (डीआरडीए) और नोडल अधिकारी कमलेश सोनी का कहना है कि अयोध्या के कायाकल्प के लिए करीब 2 हजार करोड़ रुपए खर्च किये जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि अयोध्या में चल रही महत्वपूर्ण परियोजनाओं में प्रमुख रूप से भजन संध्या स्थल 19.02 करोड़ की लागत से बन रहा है। रामकथा पार्क का विस्तारीकरण 275.35 करोड़ की लागत आयी है। तुलसी उद्यान का विकास कार्य पूर्ण हो चुका है। जिसकी लागत 7.27 करोड़ थी। इसके अलावा अयोध्या में पैडस्ट्रियन स्ट्रीट के कार्य में करीब 11 करोड़ की लागत आयी है जो कि पूर्ण हो चुका है। लक्ष्मण किला घाट भी पूरा हो चुका है। इसके विकास में करीब 9.73 का खर्च आया है। सिटी वाइड इंटरवेंसन के कार्य जो कि पूरा हो चुका है, इसमें 1.86 करोड़ रुपए की लागत आयी है। गुप्तार घाट को बनाने में 37.10 का खर्च आया है। 60 करोड़ की लागत से लाईनों को भूमिगत किया गया है। 1.51 करोड़ के खर्च से पेयजल संयोजन योजना का काम पूरा किया गया है। यहां के सीवरेज पुर्नगठन में करीब 74.05 करोड़ की लागत से पूरा किया गया है। महर्षि राजा दशरथ मेडिकल कॉलेज के अस्पताल को 195.00 करोड़ की लागत से शिक्षा सेवाओं का उन्नयन किया गया है। ऐसी तमाम परियोनाओं पर काम चल रहा है या फिर पूरी हो चुकी है जो अयोध्या को एक नई पहचान दिलाएंगी।(आईएएनएस)

POST AUTHOR

न्यूज़ग्राम डेस्क
संवाददाता, न्यूज़ग्राम हिन्दी

जुड़े रहें

7,623FansLike
0FollowersFollow
177FollowersFollow

सबसे लोकप्रिय

धर्म निरपेक्षता के नाम पर हिन्दुओ को सालों से बेवकूफ़ बनाया गया है: मारिया वर्थ

यह आर्टिक्ल मारिया वर्थ के ब्लॉग पर छपे अंग्रेज़ी लेख के मुख्य अंशों का हिन्दी अनुवाद है।

विज्ञापनों पर पानी की तरह पैसे बहा रही केजरीवाल सरकार, कपिल मिश्रा ने लगाया आरोप

पिछले 3 महीनों से भारत, कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहा है। इन बीते तीन महीनों में, हम लगातार राज्य सरकारों की...

भारत का इमरान को करारा जवाब, दिखाया आईना

भारत ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान द्वारा संयुक्त राष्ट्र महासभा में दिए गए भाषण पर आईना दिखाते हुए करारा जवाब दिया...

जब इन्दिरा गांधी ने प्रोटोकॉल तोड़ मुग़ल आक्रमणकारी बाबर को दी थी श्रद्धांजलि

ये बात तब की है जब इन्दिरा गांधी भारत की प्रधानमंत्री हुआ करती थी। वर्ष 1969 में इन्दिरा गांधी काबुल, अफ़ग़ानिस्तान के...

दिल्ली की कोशिश पूरे 40 ओवर शानदार खेल खेलने की : कैरी

 दिल्ली कैपिटल्स के विकेटकीपर एलेक्स कैरी ने कहा है कि टीम के लिए यह समय है टूर्नामेंट में दोबारा शुरुआत करने का।...

गाय के चमड़े को रक्षाबंधन से जोड़ने कि कोशिश में था PETA इंडिया, विरोध होने पर साँप से की लेखक शेफाली वैद्य कि तुलना

आज ट्वीटर पर मचे एक बवाल में PETA इंडिया का हिन्दू घृणा खुल कर सबके सामने आ गया है। ये बात...

दिल्ली दंगा करवाने में ‘आप’ पार्षद ताहिर हुसैन ने खर्च किए 1.3 करोड़ रूपए: चार्जशीट

इस साल फरवरी में हुए हिन्दू विरोधी दिल्ली दंगों को लेकर आज दिल्ली पुलिस ने कड़कड़डूमा कोर्ट में चार्ज शीट दाखिल किया।...

क्या अमनातुल्लाह खान द्वारा लिया गया ‘दान’, दंगों में खर्च हुए पैसों की रिकवरी थी? बड़ा सवाल!

फरवरी महीने में हुए दिल दहला देने वाले हिन्दू विरोधी दंगों को लेकर दिल्ली पुलिस आक्रमक रूप से लगातार कार्यवाही कर रही...

हाल की टिप्पणी