Never miss a story

Get subscribed to our newsletter


×
देश

आयुष्मान भारत पीएम-जेएवाई ने स्वास्थ्य सेवा प्रणाली में सुधार किया : मंडाविया

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने गुरुवार को कहा कि आयुष्मान भारत-प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (पीएम-जेएवाई) ने भारत में स्वास्थ्य सेवा प्रणाली में सुधार किया है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया (IANS)

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया (Mansukh Mandaviya) ने गुरुवार को कहा कि आयुष्मान भारत-प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (पीएम-जेएवाई) ने भारत में स्वास्थ्य सेवा प्रणाली में सुधार किया है। एबी की तीसरी वर्षगांठ को चिह्न्ति करने के लिए आरोग्य मंथन 3.0 के उद्घाटन सत्र की अध्यक्षता करते हुए मंत्री ने कहा, "यह मुझे बहुत खुशी देता है कि इस योजना ने पिछले तीन वर्षो में 2.2 करोड़ से अधिक लोगों की सेवा की है, जिसमें दूरस्थ क्षेत्रों में रहने वाले लोग भी शामिल हैं।"

मंडाविया ने कहा कि योजना को लागू करने का गत तीन वर्षो का सफर जबरदस्त रहा है, क्योंकि इसने लाखों नागरिकों को उनके स्वास्थ्य के अधिकार से सशक्त बनाया है। कार्यक्रम का विषय 'सेवा और उत्कृष्टता' था। आरोग्य मंथन 3.0, चार दिवसीय कार्यक्रम, 'आयुष्मान भारत दिवस' के अवलोकन से शुरू हुआ।

यह भी पढ़ें : क्या आने वाले समय में, पंजाब 'सेंट पीटरपुर' कहलाएगा?

मंडाविया ने कहा, "स्वास्थ्य और विकास आपस में जुड़े हुए हैं। सार्वभौमिक स्वास्थ्य देखभाल प्रधानमंत्री का उद्देश्य और दृष्टि है। स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र में डिजिटल प्रौद्योगिकी का लाभ उठाते हुए, भारत का लक्ष्य सेवाओं के वितरण को सुचारु, मजबूत बनाने के लिए स्वास्थ्य सेवा परिदृश्य को डिजिटल बनाने के राष्ट्रीय लक्ष्य निर्धारित करना है। त्वरित और कुशल। इस संबंध में, राष्ट्रीय डिजिटल स्वास्थ्य मिशन एक गेम-चेंजर साबित होगा। सार्वजनिक-सरकार की भागीदारी किसी भी सरकारी कार्यक्रम की सफलता का कारण है। आयुष्मान मित्र ऐसी ही एक पहल है।"

मंत्री ने जम्मू-कश्मीर, छत्तीसगढ़, अंडमान और निकोबार, उत्तर प्रदेश, गुजरात, कर्नाटक, उत्तराखंड, सिक्किम और असम के लाभार्थियों के साथ भी बातचीत की। पीएम-जेएवाई को 23 सितंबर, 2018 को रांची से नरेंद्र मोदी द्वारा यूनिवर्सल हेल्थ कवरेज (यूएचसी) प्राप्त करने के उद्देश्य से लॉन्च किया गया था। (आईएएनएस-SM)


Popular

कई वर्षों से टीम को सेवा दे रहे हैं श्रीधर(Wikimedia commons)

भारतीय टीम के फील्डिंग कोच रामाकृष्णन श्रीधर जिनका टीम के साथ टी20 विश्व कप आखिरी दौरा है, उन्होंने राष्ट्रीय टीम की सेवा करने का मौका देने के लिए भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) को धन्यवाद दिया। आपको बता दें श्रीधर का कार्यकाल टी20 विश्व कप के बाद खत्म हो रहा है। फील्डिंग कोच ने इंस्टाग्राम के जरिए अपने विचार प्रकट किए।


Keep Reading Show less

बॉलीवुड अभिनेता ऋतिक रौशन।(Wikimedia Commons)

बॉलीवुड के सबसे हैंडसम एक्टर कहे जाने वाले ऋतिक रोशन अपने बेहतरीन लुक्स के अलावा कमाल के नृत्य कौशल के लिए भी अक्सर सुर्ख़ियों में रहते हैं।

सोशल मीडिया पर वे अक्सर अपने फैंस के लिए वीडियोज शेयर करते रहते हैं। हाल ही में उन्होंने अपने वर्कआउट सेशन के दौरान के वीडियो इंस्टाग्राम पर शेयर किया जो देखते ही देखते वायरल हो गया।

Keep Reading Show less

निहंग सिख समाज को गुरु की फौज भी कहा जाता है।(NewsGram Hindi)

बीते कुछ दिनों से मीडिया से लेकर सोशल मीडिया तक आपने "निहंग सिख" शब्द को कई बार सुना होगा। आज हम आपको इन्हीं निहंग सिख का भूतकाल और वर्तमान बताएंगे।

निहंग शब्द का वास्तविक अर्थ क्या है, इसके पीछे भी काफी भेद है। कुछ इतिहासकार निहंग को एक फारसी शब्द मानते है जिसका अर्थ मगरमच्छ होता है। कहा जाता है, यह नाम मुगलों ने दिया था क्योंकि सिख लड़ाके युद्ध में मगरमच्छ की तरह युद्ध करते थे। मुगलों का मानना था कि जिस तरह पानी में मगरमच्छ को हराना मुश्किल है उसी प्रकार युद्ध में निहंगों को हराना आसान नहीं है। इसके अलावा यह भी कहा जाता है कि निहंग, संस्कृत शब्द निशंक से लिया गया है जिसका अर्थ जिसे कोई शंका न हो, कोई डर न हो, मोह न हो। निहंग शब्द का इस्तेमाल श्री गुरु ग्रन्थ साहिब में भी हुआ है। यहां इस शब्द का अर्थ निडर और बेसब्र बताया गया है।

Keep reading... Show less