Friday, May 7, 2021
Home दुनिया 'अमेरिका' में अश्वेत समुदाय को न्याय मिलना मुश्किल'

‘अमेरिका’ में अश्वेत समुदाय को न्याय मिलना मुश्किल’

अमेरिकी अश्वेत समुदाय को न्याय मिलना मुश्किल है। कई सदियों की अत्याचार व्यवस्था में नस्लभेद अमेरिकी समाज में गहराई से जमा हुआ है

तीन हफ्ते तक चली सुनवाई के बाद अमेरिकी मिनेसोटा (American Minnesota) राज्य की हेनेपिन जिला अदालत ने 20 अप्रैल को अश्वेत युवा जॉर्ज फ्लॉयड (George Floyd) की हत्या के मामले में फैसला सुनाया कि श्वेत पुलिसकर्मी डेरेक शौविन पर लगाए गए तीन अपरोधों की पुष्टि की गई है। लेकिन अधिकतर लोगों के विचार में इस सुनवाई से सिर्फ शौविन के अपराध की पुष्टि हुई है, लेकिन अमेरिकी अश्वेत समुदाय को न्याय मिलना मुश्किल है। कई सदियों की अत्याचार व्यवस्था में नस्लभेद अमेरिकी समाज में गहराई से जमा हुआ है, जिसे एक अदालती सुनवाई से खत्म नहीं किया जा सकता। न्यूयार्क टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, तीन हफ्ते तक शौविन मामले की सुनवाई के दौरान अमेरिकी पुलिस ने लगभग हर दिन तीन से अधिक व्यक्तियों को मार डाला, जिनमें से आधे से अधिक अश्वेत थे। दुख की बात है कि शौविन के अपराध की पुष्टि के कुछ घंटे बाद ओहाओ स्टेट में एक 15 वर्षीय अश्वेत लड़की पुलिस की गोली से मारी गई।

Racism
श्वेत आधिपत्य अमेरिकी सामाजिक ढांचे का एक भाग है, जो नस्लभेद (Racism) की जड़ है। (Pexel)

वास्तव में अमेरिकी न्याय व्यवस्था लंबे समय से पुलिस के बल-प्रयोग के दुरुपयोग से आंख मूंदती रही है। इसलिए अमेरिका में अगर कोई पुलिसकर्मी अपनी ड्यूटी के दौरान किसी को मार डालता है, तो उस पर बहुत ही कम मुकदमा चलाया जाता है और अपराध तय करना तो दुर्लभ बात है।

इतिहास पर नजर डालें तो श्वेत आधिपत्य अमेरिकी सामाजिक ढांचे का एक भाग है, जो नस्लभेद (Racism) की जड़ है। अमेरिका में उक्त व्यवस्था में व्यापक सुधार करने से ही अश्वेत समुदाय को अधिक सुरक्षा प्रदान की जा सकेगी, वरना तथाकथित मानवाधिकार व समानता सिर्फ खोखला नारा बनकर रह जाएगा।

यह भी पढ़ें :- वैश्विक चुनौतियों का समाधान करने में अमेरिका की भूमिका जरूरी

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन (Joe Biden) ने कहा था कि व्यवस्थित नस्लभेद अमेरिकी आत्मा में कलंक जैसा है। एक ही सुनवाई से उसे दूर नहीं किया जा सकता। अमेरिकी अश्वेत समुदाय को न्याय पाने के लिए अभी लंबा रास्ता तय करना है।(आईएएनएस-SM)

POST AUTHOR

न्यूज़ग्राम डेस्क
संवाददाता, न्यूज़ग्राम हिन्दी

जुड़े रहें

7,639FansLike
0FollowersFollow
177FollowersFollow

सबसे लोकप्रिय

धर्म निरपेक्षता के नाम पर हिन्दुओ को सालों से बेवकूफ़ बनाया गया है: मारिया वर्थ

यह आर्टिक्ल मारिया वर्थ के ब्लॉग पर छपे अंग्रेज़ी लेख के मुख्य अंशों का हिन्दी अनुवाद है।

विज्ञापनों पर पानी की तरह पैसे बहा रही केजरीवाल सरकार, कपिल मिश्रा ने लगाया आरोप

पिछले 3 महीनों से भारत, कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहा है। इन बीते तीन महीनों में, हम लगातार राज्य सरकारों की...

भारत का इमरान को करारा जवाब, दिखाया आईना

भारत ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान द्वारा संयुक्त राष्ट्र महासभा में दिए गए भाषण पर आईना दिखाते हुए करारा जवाब दिया...

दिल्ली की कोशिश पूरे 40 ओवर शानदार खेल खेलने की : कैरी

 दिल्ली कैपिटल्स के विकेटकीपर एलेक्स कैरी ने कहा है कि टीम के लिए यह समय है टूर्नामेंट में दोबारा शुरुआत करने का।...

जब इन्दिरा गांधी ने प्रोटोकॉल तोड़ मुग़ल आक्रमणकारी बाबर को दी थी श्रद्धांजलि

ये बात तब की है जब इन्दिरा गांधी भारत की प्रधानमंत्री हुआ करती थी। वर्ष 1969 में इन्दिरा गांधी काबुल, अफ़ग़ानिस्तान के...

गाय के चमड़े को रक्षाबंधन से जोड़ने कि कोशिश में था PETA इंडिया, विरोध होने पर साँप से की लेखक शेफाली वैद्य कि तुलना

आज ट्वीटर पर मचे एक बवाल में PETA इंडिया का हिन्दू घृणा खुल कर सबके सामने आ गया है। ये बात...

दिल्ली दंगा करवाने में ‘आप’ पार्षद ताहिर हुसैन ने खर्च किए 1.3 करोड़ रूपए: चार्जशीट

इस साल फरवरी में हुए हिन्दू विरोधी दिल्ली दंगों को लेकर आज दिल्ली पुलिस ने कड़कड़डूमा कोर्ट में चार्ज शीट दाखिल किया।...

क्या अमनातुल्लाह खान द्वारा लिया गया ‘दान’, दंगों में खर्च हुए पैसों की रिकवरी थी? बड़ा सवाल!

फरवरी महीने में हुए दिल दहला देने वाले हिन्दू विरोधी दंगों को लेकर दिल्ली पुलिस आक्रमक रूप से लगातार कार्यवाही कर रही...

हाल की टिप्पणी