तमिलनाडु में एक बस चालाक ने दिल का दौरा पड़ने से पहले बचाई 30 लोगों की जान

तमिलनाडु में एक बस चालाक ने दिल का दौरा पड़ने से पहले बचाई 30 लोगों की जान
तमिलनाडु में एक बस चालक ने दिल का दौरा पड़ने से पहले 30 लोगों की जान बचाई। (IANS)

तमिलनाडु राज्य परिवहन निगम(Tamil Nadu State Transport Corporation) के ड्राइवर ने गुरूवार को सुबह 06:20 बजे दिल का दौरा पड़ा। अचंभित करने वाली बात ये थी की ड्राइवर ने दिल का दौरा पड़ने से पहले 30 लोगों की जान बचाई। ड्राइवर का नाम अरुमुगम है।

अरुमुगम(Arumugam) 30 यात्रियों के साथ अराप्पलायम से कोडाईकनाल के लिए टीएनएसटीसी बस चला रहे थे। जैसे ही बस सुबह 6.20 बजे अरप्पलायम से रवाना हुई, चालक ने कंडक्टर भगियाराज को सीने में तेज दर्द की शिकायत की और दुर्घटनाग्रस्त होने से पहले किसी तरह वाहन को सड़क किनारे खड़ा कर दिया।

कंडक्टर ने तुरंत एक एम्बुलेंस को फोन किया, लेकिन जब तक वह पहुंची, तब तक अरुमुगम की मौत हो चुकी थी। टीएनएसटीसी के उप वाणिज्य प्रबंधक, मदुरै, युवराज ने मीडिया एजेंसी को बताया, "अरुमुगम को टीएनएसटीसी में ड्राइवर के रूप में 12 साल का अनुभव था और सड़क के किनारे बस को पार्क करने की उनकी यादगार कार्रवाई को हमेशा याद रखा जाएगा। उनकी दो बेटियां हैं।"

शव को पोस्टमार्टम के लिए सरकारी राजाजी अस्पताल भेज दिया गया है और करीमेदु पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस ने कहा कि शव को जीआरएच अस्पताल ले जाने से पहले अरुमुगम के परिवार को सूचित कर दिया गया था।

Input-IANS; Edited By- Saksham Nagar

न्यूज़ग्राम के साथ Facebook, Twitter और Instagram पर भी जुड़ें

Related Stories

No stories found.