आम आदमी पार्टी ने ‘वंदे मातरम’ कि तुलना हिटलर के दौर से कर केजरीवाल के हाथ ना उठाने को ठहराया सही

आम आदमी पार्टी आईटी सेल की आरती द्वारा किए गए पोस्ट का स्क्रीनशॉट(Twitter)
आम आदमी पार्टी आईटी सेल की आरती द्वारा किए गए पोस्ट का स्क्रीनशॉट(Twitter)

15 अगस्त के दिन, लाल किले के मंच से प्रधानमंत्री द्वारा लगाए गए 'वंदे मातरम' के नारे पर दर्शक दीर्घा में मौजूद सभी नेताओं ने सम्मान में हाथ उठा कर इस नारे को दोहराया था। लेकिन उसी भीड़ में मौजूद, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ना तो नारा लगाया और ना ही नारे के सम्मान में हाथ उठा कर इसका समर्थन किया था। नारे के दौरान, अरविंद केजरीवाल अपने पैरों पर हाथ धरे बैठे नज़र आए थे। अरविंद केजरीवाल द्वारा 'वंदे मातरम' का अपमान करने को लेकर कल से ही राजनीति गरमाई हुई है। भारतीय जनता पार्टी के नेता व सोशल मीडिया पर लोग, अरविंद केजरीवाल पर लगातार निशाना साध रहे हैं। 

लेकिन आज हद्द तब हो गयी जब अरविंद केजरीवाल के सोशल मीडिया टीम की आरती ने एक ट्वीट में वंदे मातरम के नारे कि तुलना हिटलर के जयकार में लगाए जाने वाले नारों से कर दी। आम आदमी पार्टी सोशल मीडिया सेल की आरती ने सिर्फ तुलना ही नहीं किया बल्कि अरविंद केजरीवाल द्वारा हाथ ना उठाने की घटना को छाती ठोक कर ऐसा बताया जैसे ये घटना अपमानजनक नहीं बल्कि देश के लिए एक गर्व का विषय है। 

आरती के इस ट्वीट के बाद लोगों ने अरविंद केजरीवाल को लताड़ना शुरू कर दिया है, देखें लोगों की प्रतिक्रिया-

Related Stories

No stories found.
hindi.newsgram.com