दिल्ली के तीनों निगमों ने की संयुक्त प्रेस वार्ता निशाने पर रही AAP

दिल्ली के तीनों निगमों ने की संयुक्त प्रेस वार्ता निशाने पर रही AAP
केंद्र सरकार द्वारा निगम एकीकरण के फैसले के बाद आम आदमी पार्टी और भाजपा के बीच लगातार जुबानी जंग जारी है।(File Photo)

केंद्र सरकार(Central Government) द्वारा निगम एकीकरण के फैसले के बाद आम आदमी पार्टी(AAP) और भाजपा(BJP) के बीच लगातार जुबानी जंग जारी है। शुक्रवार को दिल्ली(Delhi) के तीनों निगमों ने संयुक्त प्रेस वार्ता कर आप पर निशाना साधा और उनके ऊपर लगाए जा रहे आरोपों का जवाब भी दिया। पूर्वी दिल्ली नगर निगम के महापौर श्याम सुंदर अग्रवाल, उत्तरी दिल्ली नगर निगम के महापौर सरदार राजा इकबाल सिंह एवं दक्षिणी दिल्ली के नेता सदन इंद्रजीत सहरावत ने मिलकर आप के नेताओं को निगम के मुद्दे पर सार्वजिनक बहस करने की चुनौती भी दी है। हालांकि इस दौरान दिल्ली के निगमों(MCD) द्वारा कूड़े के ढ़ेर पर हो रही राजनीति पर भी जवाब दिया, उन्होंने यह भी बताया कि कब तक कूड़े के पहाड़ को खत्म कर दिया जाएगा।

पूर्वी दिल्ली नगर निगम के महापौर श्याम सुंदर अग्रवाल ने कहा कि, आम आदमी पार्टी(AAP) के पार्षद खुद उनके क्षेत्र में काम करने वाले कर्मचारियों से कमिशन तक मांगते हैं। पूर्वी दिल्ली नगर निगम ने कूड़े के पहाड़ को 15 मीटर कम किया। उसको खत्म करने के लिए टेंडर जारी किया जा चुका है। जो कंपनी यह टेंडर लेगी वह आगामी 30 महीनों में 50 लाख म्रिटीक टन कूड़ा खत्म करेगी।

25 ट्रोमीनल मशीनें अभी चल रही हैं एवं 10 आने वाली हैं। 35 ट्रोमिनल मशीनों के माध्यम से प्रतिदिन 9000 म्रिटीक टन कूड़े का निष्करण किया जाएगा। यानि दिसंबर 2024 तक इस कूड़े के पहाड़ को खत्म कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि, पूर्वी दिल्ली में कूड़ा हटाने के लिए 433 ऑटो टीपर, 77 कम्पैक्टर, 21 हुकलोडर, 626 मैन्यूअल रिक्शा एवं 76 ई-रिक्शा इस वक्त सिर्फ पूर्वी दिल्ली नगर निगम में कूड़ों को हटाने के लिए लगे हुए हैं। यही नहीं 2195 कूड़ादान लगे हुए हैं जिसमें आप अपने घरों का कूड़ा आराम से डाल सकते हैं।

वहीं उत्तरी दिल्ली नगर निगम के महापौर सरदार राजा इकबाल सिंह ने कहा कि, पिछले साल 90 कम्पैक्टर उत्तरी दिल्ली नगर निगम द्वारा लगाए गए थे, जिनकी संख्या मई 2022 तक 160 तक हो जाएगी। लगभग 200 से ज्यादा ढलाव सिर्फ बंद ही नहीं किया गया, बल्कि वहां पब्लिक युटिलिटी सेंटर भी बनवाए गए। अभी 261 ऑटो टिपर हैं जो अगले महीने तक 600 हो जाएंगे। ट्रैक्टर ट्राली 21, ई-रिक्शा 73 एवं ट्रक टिपर 81 काम कर रहे हैं जिनकी संख्या अगले महीने से बढ़ने वाली है।

भलस्वा में कूड़े के ढ़ेर को 12 मीटर कम किया गया है। इस वक्त उत्तरी दिल्ली नगर निगम में 25000 सफाई कर्मचारी काम कर रहे हैं। ऐसे में अगर आप सफाई को लेकर सवाल उठा रहे हैं तो आप उन सभी सफाईकर्मरियों के कामों पर प्रश्नचिन्ह खड़े कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि, आज बहुत हैरानी कि बात है कि एमसीडी पीडब्ल्यूडी की सड़कों की भी सफाई कर रही है जबकि इसको साफ रखने की जिम्मेदारी केजरीवाल सरकार की है।

इसके अलावा दक्षिणी दिल्ली नगर निगम नेता सदन इंद्रजीत सहरावत ने कहा कि झूठ बोलना आम आदमी पार्टी(AAP) के नेताओं की दिनचर्या है। आज तक हाउस में बैठने वाले 'आप' पार्षद सफाई को लेकर कोई सवाल नहीं उठाया है। आज दक्षिणी दिल्ली नगर निगम के ओखला 46 एकड़ का क्षेत्र में जो 55 लाख म्रिटीक टन कूड़ों की ढेर है, उसकी 15 मीटर हाईट कम कर चुके हैं। 24 ट्रोल मशीन काम कर रही है। दिल्ली-बाम्बे हाईवे में इन कूड़ों से निकलने वाली मिट्टी का प्रयोग किया जा रहा है।

आईएएनएस(LG)

Related Stories

No stories found.
hindi.newsgram.com