अपनी अय्याशियों को पूरा करने में कंपनी के पैसे का इस्तेमाल कर रहे थे अशनीर-भारतपे

भारतपे ने कहा कि अशनीर के झूठ के पुलिंदे पर उसे गहरी आपत्ति है।(Twitter)
भारतपे ने कहा कि अशनीर के झूठ के पुलिंदे पर उसे गहरी आपत्ति है।(Twitter)

फिनटेक प्लेटफॉर्म भारतपे(Bharat Pe) और उसके संस्थापक अशनीर ग्रोवर(Ashneer Grover) के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर अब भी जारी है। अशनीर ने भारतपे के निदेशक मंडल की बैठक से पहले ही मंगलवार को इस्तीफा दे दिया था जबकि लगभग एक सप्ताह पहले उनकी पत्नी माधुरी जैन को कंपनी ने बर्खास्त कर दिया था। ग्रोवर के इस्तीफे के बाद अब भारतपे ने बुधवार को कहा कि वह अपनी पत्नी के साथ मिलकर कंपनी के पैसे का दुरुपयोग कर रहे थे।

भारतपे(Bharat Pe) ने कहा कि कंपनी के पैसे का भारी दुरुपयोग अश्नीर(Ashneer Grover), उनकी पत्नी माधुरी जैन और उनके रिश्तेदारों ने किया है। ये लोग खुद को अमीर बनाने और अपनी अय्याशियों को पूरा करने में कंपनी के पैसे का इस्तेमाल कर रहे थे। भारतपे ने अपने बयान में कहा है कि अशनीर और उनके परिजनों के खिलाफ वैधानिक कार्रवाई करने का पूर्ण अधिकार उनके पास सुरक्षित है।

भारतपे ने अपने बयान में कहा है, ग्रोवर परिवार और उनके रिश्तेदारों ने कंपनी के फंड का बहुत दुरुपयोग किया है।(Twitter)

भारतपे(Bharat Pe) ने अपने बयान में कहा है, ग्रोवर(Ashneer Grover) परिवार और उनके रिश्तेदारों ने कंपनी के फंड का बहुत दुरुपयोग किया है। इन्होंने फर्जी वेंडर बनाया और उसके माध्यम से कंपनी के व्यय खाते से पैसा निकालते रहे। इन्होंने खुद को अमीर बनाने और अपनी ऐय्याशी पूर्ण जिंदगी के खर्च को पूरा करने के लिये कंपनी के व्यय खाते का बहुत गलत इस्तेमाल किया।


रूस-यूक्रेन युद्ध की असली वजह ये है? | russia-ukraine conflict explained | putin | Crimea NewsGram

youtu.be

कंपनी(Bharat Pe) ने कहा कि निदेशक मंडल भारतपे की प्रतिष्ठा, इसके मेहनती कर्मचारियों और विश्व स्तरीय प्रौद्योगिकी की प्रतिष्ठा को ग्रोवर परिवार के निंदनीय बर्ताव से दांव पर नहीं लगाने देगा। कंपनी ने कहा, अपने गलत कामों के कारण अश्नीर ग्रोवरन(Ashneer Grover) ही कंपनी के अब कर्मचारी हैं, न संस्थापक हैं और न ही निदेशक हैं। भारत पे ने कहा कि निदेशक मंडल कंपनी के कॉरपोरेट गवर्नेस को मजबूत करने के लिये सभी जरूरी कदम उठा रहा है। इसी के तहत एक ऑडिट समिति, एक आंतरिक ऑडिटर को नियुक्त किया गया है तथा अन्य महत्वपूर्ण आंतरिक नियंत्रण लागू किये गये हैं।

इसके अलावा कंपनी(Bharat Pe) ने यह भी कहा कि अशनीर(Ashneer Grover) को जैसे ही यह नोटिस दिया गया कि पीडब्ल्यूसी की जाचं के परिणाम को बोर्ड के समक्ष पेश किया जायेगा, तो उन्होंने तत्काल इस्तीफा देकर अपनी जिम्मेदारी से पीछा छुड़ा लिया। अब वे सार्वजनिक रूप से एक अलग ही कहानी बयान कर रहे हैं।

lnput : आईएएनएस ; Edited by Lakshya Gupta

न्यूज़ग्राम के साथ Facebook, Twitter और Instagram पर भी जुड़ें!

Related Stories

No stories found.
hindi.newsgram.com