बांग्लादेश: कट्टरपंथियों ने की दुर्गा पंडाल की तोड़फोड़, कई हिंदुओं की हुई हत्या।

बांग्लादेश: कट्टरपंथियों ने की दुर्गा पंडाल की तोड़फोड़, कई हिंदुओं की हुई हत्या।
बांग्लादेश में हिंदुओं की स्थिति दिन-प्रतिदिन हो रही है खराब।

संपूर्ण भारत ही नहीं अपितु पूरे विश्व में नवरात्रि त्यौहार धूमधाम से मनाया जा रहा है। नवरात्रि के इस पावन पर्व में मां दुर्गा के पंडाल जगह-जगह लगाए जाते हैं। ऐसा ही भारत के पड़ोसी देश बांग्लादेश में भी होता है। बांग्लादेश के हिंदू अल्पसंख्यक समुदाय के लिए नवरात्रि का त्यौहार विशेष रूप से महत्वपूर्ण होता है। लेकिन बांग्लादेश के कट्टरपंथी मुसलमानों को यह बर्दाश्त नहीं होता , इसलिए वह लोग त्यौहार में खलल डालने के लिए कोई ना कोई तरीका अपनाते रहते हैं। इसी तरह की घटना हाल फिलहाल में भी सामने आई है।

बुधवार को सोशल मीडिया पर एक पंडाल में 'कुरान का अपमान' करने का दावा करने वाली एक फेसबुक पोस्ट वायरल हुई। जिसके बाद हिंसक झड़प का धार प्रारंभ हो गया। कट्टरपंथियों इस्लामियो ने कई दुर्गा पंडालों में तोड़फोड़ की गई, करीब 150 से अधिक परिवारों पर हमला किया गया और तीन हिंदुओं के मारे जाने की भी खबर है। खबर यह भी है कि इस्लामिक कट्टरपंथियों ने सड़कों पर उतर कर चांदपुर के हाजीगंज चट्टोग्राम के बंशखली, चपैनवागंजके शिवगंज और कॉक्स बाजार में मंदिरों में भी तोड़फोड़ करी और हिंदू धर्म के अनुयायियों की बेरहमी से हत्या करने की भी कोशिश की गई।

जिस वीडियो के कारण इतना बड़ा खून खराबा हो गया वह वीडियो फेक बताया जा रहा है। कथित तौर पर वीडियो में, कमिला के एक दुर्गा पंडाल में रखे कुरान के वीडियो और तस्वीरें सोशल मीडिया में डाली गई थी जिसके बाद कट्टरपंथी इस्लामीयों ने दावा किया कि हिंदुओं ने जानबूझकर उनकी पवित्र पुस्तक को अपमान के निशान के रूप में पंडाल में रखा है तो फिर इसके बाद क्या होना था जो वह चाहते थे वही किया। आपको बता दें कुरान के अपमान पर दावों का इनकार करते हुए कमीला महानगर के पंडाल समिति के महासचिव ने बताया कि किसी ने सुबह-सुबह पंडाल पर आकर कुरान की पुस्तक रख दी थी जब कोई भी वहां पर नहीं था।


इस मामले पर बांग्लादेश हिंदू यूनिटी काउंसिल नेट ट्विट किया,"13 अक्टूबर 2021 बांग्लादेश के इतिहास में एक निंदनीय दिन था अष्टमी के दिन मूर्ति विसर्जन के मौके पर कई पूजा पंडालों में तोड़फोड़ की गई हिंदू अब पूजा पंडालों की रखवाली कर रहे हैं आज पूरी दुनिया चुप है मां दुर्गा अपना आशीर्वाद दुनिया के सभी हिंदुओं पर बनाए रखें कभी माफ ना करें। इसके अलावा काउंसिल ने ट्वीट कर कहा, बांग्लादेश में अच्छे मुसलमान अभी भी जिंदा है इसलिए हम जिंदा हैं उन सभी मुसलमान को धन्यवाद जो हिंदुओं के साथ खड़े हैं हम इस्लाम का भी सम्मान करते हैं कुरान से भी प्यार करते हैं इस्लाम कभी इसका समर्थन नहीं करता। यूनियन ने गुरुवार को भी ट्वीट करा और कहा कि हम एक ट्विट में नहीं बता सकते कि पिछले 24 घंटे में क्या हुआ है बांग्लादेश के हिंदुओं ने कुछ लोगों का असली चेहरा देखा है हमें नहीं पता कि भविष्य क्या होगा लेकिन बांग्लादेश के हिंदू कभी 2021 के दुर्गा पूजा नहीं भूलेंगे।

इस पर बांग्लादेश की सरकार सरकार की ओर से धार्मिक मंत्रालय ने भी बयान जारी कर शांति और सद्भाव बनाए रखने की अपील करी है।

Edited By: Lakshya Gupta

Related Stories

No stories found.
hindi.newsgram.com