बिहार, पूर्णिया: देर रात महादलित बस्ती के घरों में लगाई आग, आखिर दोषी कौन?

माना जा रहा है कि, मुस्लिमों की एक भीड़ द्वारा महादलित बस्ती के घरों को देर रात आग लगा दिया गया। (सोशल मीडिया)
माना जा रहा है कि, मुस्लिमों की एक भीड़ द्वारा महादलित बस्ती के घरों को देर रात आग लगा दिया गया। (सोशल मीडिया)

हाल ही में एक ऐसी घटना सामने आई है, जिससे एक बार फिर बिहार (Bihar) की सियासत गरमाई हुई है। घटना की बात करें तो यह घटना है, बिहार के पूर्णिया (Purnia) जिले के बायसी थाना के मझुवा गांव की। जहां मीडिया रिपोर्ट के अनुसार वह सामने आया है कि मुस्लिमों की एक भीड़ द्वारा महादलित बस्ती के घरों को देर रात आग लगा दिया गया। बताया जा रहा है कि, जमीनी विवाद को लेकर यह घटना घटित हुई थी। फिलहाल पुलिस जांच पड़ताल में जुटी हुई है।

घटनास्थल पर मौजूद चौकीदार भरत राय ने इस मामले पर जानकारी देते हुए बताया कि, देर रात करीब 11:30 बजे के बीच 100 – 150 लोगों की भीड़ ने गांव पर हमला कर दिया। उनके पास पेट्रोल का गैलन भी था। जिससे उस भीड़ ने महादलित बस्ती के घरों पर पेट्रोल छिड़ककर घरों को आग के हवाले कर दिया। बस्ती के लोगों को भी उस भीड़ ने बड़ी बेरहमी से मारा – पीटा। बच्चे – बूढ़े जो दिखे सबको निर्ममता पूर्वक मारा गया। इसी झड़प में बस्ती के पूर्व चौकीदार नेवीलाल राय की भी पीट – पीटकर हत्या कर दी गई।

घटना की सूचना मिलते ही, बायसी के एसडीएम अमरेंद्र कुमार पंकज, एसडीओ बायसी थाना प्रभारी, अमित कुमार समेत कई थाने की पुलिस ने मौके पर पहुंच इस झड़प को रोका और घायल हुए सभी लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया। घटना के बाद एसपी दयाशंकर ने बताया कि, इस मामले में दो लोगों को गिरफ्तार की जा चुकी है। लेकिन अभी और लोगों की गिरफ्तारी बांकी है। गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है। हम जल्द सभी आरोपियों को अपनी गिरफ्त में ले लेंगे। 

महिलाओं और बच्चों के अभद्र व्यवहार भी किया गया है। (सोशल मीडिया)

इस घटना के बाद हमेशा की तरह बिहार की सियासत गरमाई हुई है। बीजेपी ने इस घटना पर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा, मुस्लिम (Muslim) समुदायों की भीड़ ने महादलित बस्ती के लोगों के घरों में आग लगा दी। उन्हें मारा – पीटा गया। महिलाओं और बच्चों के साथ अभद्र व्यवहार भी किया गया है। बीजेपी ने इस घटना पर तुरंत गिरफ्तारी की मांग की है और कहा है कि, पीड़ित परिवारों को मुआवजा भी दिया जाए। 

विश्व हिंदू परिषद (Vishwa Hindu Parishad) के विनोद बंसल ने ट्वीट कर कहा है कि "पूर्णिया में दलितों पर इस्लामिक आक्रमण के बाद भी यदि किसी का दिल नहीं पसीजा तो वह मानव नहीं पत्थर है।" 

जदयू के प्रवक्ता राजीव रंजन ने भी राजद पर हमला बोलते हुए कहा है कि, ऐसे लोग जो जनभावनाओं का मजाक उड़ाते हैं, उसे जनता कभी माफ नहीं करेगी। राजद जो घड़ियाली आंसू बहाती है, उन आँसुओं की असल सच्चाई बिहार की जनता ने देख लिया है। (SM) 

Related Stories

No stories found.
hindi.newsgram.com