सीएम के झूठे डेवलपमेन्ट मॉडल की पोल खोलती डीटीसी बसें

दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष अनिल चौधरी
दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष अनिल चौधरी

दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अनिल चौधरी (Anil Chaudjary) ने दिल्ली में डीटीसी (DTC) बसों में आग लगने की घटनाओं पर दिल्ली कांग्रेस ने दिल्ली सरकार पर हमला बोला है। दिल्ली कांग्रेस के अनुसार, पहाड़गंज पुल पर डीटीसी की एक और बस में आग लगने से दिल्ली की बसों में सफर करने वालों में अपनी सुरक्षा को लेकर भय का माहौल पैदा हो गया है, आग की चपेट में आने वाली डीटीसी की बस की यह इस महीने की चौथी घटना है। अनिल चौधरी ने कहा, "डीटीसी बेड़े से बसें घटती जा रही है और दिल्ली सरकार द्वारा पिछले आठ वर्षों में डीटीसी के बेड़े में एक भी बस नहीं जोड़ी गई है। डीटीसी आज भी 2010 से पहले कांग्रेस सरकार द्वारा खरीदी गई लो-फ्लोर (Low-Floor) बसों को चलाती है और ये बसें लगभग लगभग रिटायर हो गई हैं।"

दिल्ली डीटीसी बस
दिल्ली डीटीसी बस

उन्होंने कहा, "डीटीसी की सड़कों पर मौजूद 3442 में सभी बसें ओवरएज हो चुकी हैं और जब ऐसी बसों को सड़कों पर उतारा जाता है, तब बसें या तो बीच सड़क पर ही खराब हो जाती हैं, जिससे सड़कों पर घंटों जाम लग जाता है या बस में आग लगने की घटनाएं सामने आ रही हैं। अंबेडकर नगर डिपो में आग की चपेट में आने वाली 25 बसें डिपो में खड़ी हैं।"

उन्होंने कहा, "पिछले सात वर्षो में अनेक डीटीसी बसों में आग लग चुकी है, लेकिन वें इस ओर कोई ध्यान ही नहीं दे रहे हैं, सरकार यात्रियों के जीवन के साथ खिलवाड़ कर रही है। सरकार दिल्लीवासियों को बेवकूफ़ बना रही है कि नई बसें डीटीसी के बेड़े में जल्द जोड़ी जाएंगी। सरकार की 1000 लो-फ्लोर बसें खरीद में किए जा रहे भ्रष्टाचार की पोल खुल चुकी थी, इसलिए उन्हें अपनी इस बस खरीद योजना को बंद करना पड़ा।" (आईएएनएस-PS)

Related Stories

No stories found.
hindi.newsgram.com