नहीं रहे ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह

ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह, हेलीकॉप्टर दुर्घटना में इकलौते सर्वाइवर थे लेकिन उन्होंने भी दम तोड़ दिया है। (File Photo)
ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह, हेलीकॉप्टर दुर्घटना में इकलौते सर्वाइवर थे लेकिन उन्होंने भी दम तोड़ दिया है। (File Photo)

8 दिसंबर को एक सैन्य हेलिकॉप्टर दुर्घटना में घायल हुए ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह ने दम तोड़ दिया। तमिलनाडु के कुन्नूर में हेलिकॉप्टर दुर्घटना में चीफ ऑफ स्टाफ जनरल बिपिन रावत, उनकी पत्नी मधुलिका रावत और 11 अन्य सशस्त्र कर्मियों की मौत हो गई थी। बता दें,ग्रुप कैप्टन को हाल ही में राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद द्वारा असाधारण वीरता के कार्य के लिए शौर्य चक्र से सम्मानित किया गया था।


भारतीय वायु सेना ने बुधवार को एक बयान जारी कर कहा, "भारतीय वायुसेना को बहादुर ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह के निधन की सूचना देते हुए गहरा दुख हुआ है, जिन्होंने आज सुबह दुर्घटना में घायल होने के कारण दम तोड़ दिया। आईएएफ गंभीर संवेदना व्यक्त करता है और शोक संतप्त परिवार के साथ खड़ा है।"

हादसे के एक दिन बाद उन्हें इलाज के लिए बेंगलुरु ले जाया गया था। उन्हें एम्बुलेंस द्वारा सुलूर ले जाया गया और फिर बेंगलुरु के कमांड अस्पताल में ले जाया गया। पूरे समय उनकी हालत बेहद नाजुक बनी रही।

वह जनरल रावत के साथ हेलिकॉप्टर में थे, जब सैन्य हेलिकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त हो गया। वह नीलगिरी हिल्स के वेलिंगटन में डिफेंस सर्विसेज स्टाफ कॉलेज में स्टाफ कोर्स के फैकल्टी और छात्र अधिकारियों को संबोधित करने के लिए जा रहे थे।

Input-IANS; Edited By- Lakshya Gupta

न्यूज़ग्राम के साथ Facebook, Twitter और Instagram पर भी जुड़ें

Related Stories

No stories found.
hindi.newsgram.com