भूटान, यूएई और मैक्सिको में खादी ने ट्रेडमार्क पंजीकरण हासिल किया

भूटान, यूएई और मैक्सिको में खादी ने ट्रेडमार्क पंजीकरण हासिल किया
खादी और ग्रामोद्योग आयोग (केवीआईसी) सांकेतिक फोटो (Official Page, Instagram)

खादी और ग्रामोद्योग आयोग (केवीआईसी) ने भूटान, यूएई और मैक्सिको में ट्रेडमार्क पंजीकरण हासिल कर लिया है। उद्यमों ने शनिवार को यह जानकारी दी। इसके अलावा, केवीआईसी के ट्रेडमार्क आवेदन दुनियाभर के 40 देशों में लंबित हैं जिनमें अमेरिका, कतर, श्रीलंका, जापान, इटली, ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड, सिंगापुर, ब्राजील और अन्य शामिल हैं। केवीआईसी ने शुक्रवार को भूटान में नवीनतम ट्रेडमार्क पंजीकरण प्राप्त किया, जबकि संयुक्त अरब अमीरात में 28 जून को ट्रेडमार्क पंजीकरण प्रदान किया गया। इसके साथ, केवीआईसी पहली बार किसी खाड़ी देश में ट्रेडमार्क पंजीकरण हासिल करने में सफल रहा है। इससे पहले, केवीआईसी को दिसंबर 2020 में मैक्सिको में 'खादी' के लिए ट्रेडमार्क पंजीकरण मिला था।

अब तक केवीआईसी के पास छह देशों – जर्मनी, यूके, ऑस्ट्रेलिया, रूस, चीन और यूरोपीय संघ में 'खादी' शब्द के लिए ट्रेडमार्क पंजीकरण थे, जहां कुछ वर्गो में ट्रेडमार्क पंजीकरण दिए गए थे। हालांकि, भूटान, संयुक्त अरब अमीरात और मैक्सिको में हाल ही में ट्रेडमार्क पंजीकरण के साथ, ऐसे देशों की संख्या नौ हो गई है।

खादी और ग्रामोद्योग आयोग सांकेतिक इमेज (Official Page, Instagram)

इन देशों में, केवीआईसी ने खादी कपड़े, खादी रेडीमेड कपड़ों और ग्रामीण उद्योग के उत्पादों जैसे खादी साबुन, खादी सौंदर्य प्रसाधन, खादी अगरबत्ती से संबंधित विभिन्न वर्गों में पंजीकरण प्राप्त किया है। केवीआईसी के इतिहास में यह पहली बार है कि पिछले पांच वर्षों में ब्रांड 'खादी' की रक्षा के लिए निरंतर प्रयास किए गए हैं। यह ब्रांड हमें महात्मा गांधी के अलावा किसी और ने नहीं दिया था। केवीआईसी के अध्यक्ष विनय कुमार सक्सेना ने कहा कि ये ट्रेडमार्क पंजीकरण वैश्विक स्तर पर 'खादी' ब्रांड नाम के किसी भी दुरुपयोग को रोकेंगे।

"हाल के वर्षों में, खादी को अपनाने की प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी की अपील के कारण भारत और विदेशों में खादी की लोकप्रियता में भारी वृद्धि देखी गई है। इसलिए, खादी की पहचान की रक्षा करने और उपभोक्ताओं के हितों की रक्षा के लिए केवीआईसी के लिए यह बहुत महत्वपूर्ण हो गया है और लाखों खादी कारीगर जो असली खादी उत्पादों का निर्माण कर रहे हैं।" सक्सेना ने कहा। यह विकास बहुत महत्व रखता है क्योंकि मेक्सिको और जर्मनी जैसे देशों में कुछ निजी स्थानीय संस्थाओं द्वारा अपने-अपने देशों में ब्रांड नाम 'खादी' के लिए ट्रेडमार्क पंजीकरण की मांग की गई है। मेक्सिको में, केवीआईसी ने 'वन फाउंडेशन ओक्साका एसी' के ट्रेडमार्क आवेदन को चुनौती दी, जिसने 'खादी' लोगो के लिए आवेदन किया था। हालांकि, फर्म ने केवीआईसी की आपत्तियों को चुनौती नहीं दी और केवीआईसी के पक्ष में 'खादी' शब्द और लोगों के लिए ट्रेडमार्क पंजीकरण प्रदान किया गया।

इसी तरह, जर्मनी में केवीआईसी ने एक स्थानीय कंपनी – बेस्ट नेचुरल प्रोडक्ट्स जीएमबीएच (बीएनपी) को चुनौती दी, जिसे 2011 में पहले से ही 'खादी' के निशान और यूरोपीय संघ और अन्य देशों में विभिन्न वर्गो में संबंधित अंक प्राप्त हुए थे। (आईएएनएस-PS)

Related Stories

No stories found.
hindi.newsgram.com