ब्रिटेन में महात्मा गांधी के चश्मे की हुई नीलामी, जानें कितने की लगी अंतिम बोली

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी(Image: Wikimedia Commons)
राष्ट्रपिता महात्मा गांधी(Image: Wikimedia Commons)

ब्रिस्टल नीलामी घर के लेटरबॉक्स में छोड़ा गया महात्मा गांधी का गोल फ्रेम वाला सोना चढ़ाया हुआ चश्मा 260,000 पाउंड (340,314 डॉलर) में बिका है। दरअसल, इस महीने की शुरूआत में दक्षिण पश्चिम इंग्लैंड के सबसे बड़े नीलामी घर ईस्ट ब्रिस्टल नीलामी घर के कर्मचारियों को लेटरबॉक्स में एक सादे लिफाफे के अंदर यह चश्मा मिला था। कर्मचारियों ने अनुमान लगाया कि चश्मा 14,500 पाउंड से अधिक में बिकेगा लेकिन यह 260,000 पाउंड में बिका।

नीलामी घर ने शुक्रवार को लिखा, "हमें यह चश्मा अपने लेटरबॉक्स में चार हफ्ते पहले मिला था, जिसे एक सज्जन छोड़ गए थे। उनके अंकल को गांधी ने यह चश्मा खुद दिया था। हमें एक अविश्वसनीय आइटम के लिए एक अविश्वसनीय परिणाम मिला। बोली लगाने वाले सभी लोगों के लिए धन्यवाद।"

नीलामीकर्ता एंड्रयू स्टो ने इस महीने की शुरूआत में स्काई न्यूज को बताया, "किसी ने शुक्रवार रात को यह हमारे लेटरबॉक्स में डाल दिया था। इसमें एक नोट था, जिसमें कहा गया था कि ये गांधी का चश्मा है। मुझे लगा कि 'यह दिलचस्प है'।"

फिर हमने इसकी जांच कराई। जिसने इसकी जांच की वह यह बताते हुए कुर्सी से गिर गया कि यह वही चश्मा है जिसे महान भारतीय व्यक्ति ने पहना था। नीलामी घर की वेबसाइट का कहना है कि यह चश्मा एक वेंडर के अंकल को तब दिया गया था जब गांधी दक्षिण अफ्रीका की यात्रा पर थे।

नीलामी घर ने कहा, "विक्रेता के चाचा उस समय ब्रिटिश पेट्रोलियम के लिए काम करते थे और दक्षिण अफ्रीका में तैनात थे। ऐसा माना जा सकता है कि कुछ अच्छे कामों के लिए गांधी की ओर से धन्यवाद के रूप में उन्हें यह चश्मा दिया गया था।"(आईएएनएस)

Related Stories

No stories found.
hindi.newsgram.com