मिशन शक्ति अब उत्तर प्रदेश में पुरुषों को महिलाओं के प्रति संवेदनशील बना रहा

मिशन शक्ति ने उत्तर प्रदेश में महिलाओं को बहुत हद तक सशक्त बनाया है। (Wikimedia Commons)
मिशन शक्ति ने उत्तर प्रदेश में महिलाओं को बहुत हद तक सशक्त बनाया है। (Wikimedia Commons)

मिशन शक्ति(Mission Shakti) उत्तर प्रदेश(Uttar Pradesh) में योगी सरकार द्वारा चलाया जाने वाला न सिर्फ एक प्रमुख अभियान है बल्कि यह प्रदेश में महिलाओं को सशक्त बनाने के क्षेत्र में भी अपना अहम योगदान दे रहा है। यह पुरुषों को महिलाओं और उनके अधिकारों के प्रति संवेदनशील बनाने का काम कर रहा है।

प्रदेश में मिशन शक्ति के तहत लगभग 12 पुरुषों और 16 लाख महिलाओं को महिलाओं के अधिकारों के प्रति जागरूक बनाया जा रहा है। महिला एवं बाल कल्याण विभाग(Women And Child Welfare Department) पुरुषों को महिलाओं के अधिकारों के प्रति जागरूक करने के लिए विभिन्न तरह के कार्यक्रम आयोजित कर रहा है।

महिला कल्याण निदेशक मनोज राय के अनुसार, "केवल तीन महीने के भीतर, 7 अगस्त से 25 नवंबर तक, राज्य भर में संगोष्ठियों और कार्यशालाओं जैसे संचार के विभिन्न माध्यमों के माध्यम से राज्य के 28.32 लाख से अधिक लोगों को जागरूक किया गया है। इनमें से , लगभग 12,18,181 पुरुष प्रतिभागी हैं जबकि 16,09,238 महिलाएं हैं।"

राज्य सरकार पुरुषों को उनके कानूनी अधिकारों के बारे में जागरूक करने और उन्हें राज्य सरकार की महिला कल्याण योजनाओं के लाभों के बारे में शिक्षित करने के लिए कड़ी मेहनत कर रही है।

मिशन शक्ति(Mission Shakti) उत्तर प्रदेश(Uttar Pradesh) में योगी सरकार द्वारा चलाया जाने वाला न सिर्फ एक प्रमुख अभियान हैमिशन शक्ति(Mission Shakti) उत्तर प्रदेश(Uttar Pradesh) में योगी सरकार द्वारा चलाया जाने वाला न सिर्फ एक प्रमुख अभियान है

मिशन शक्ति उत्तर प्रदेश में योगी सरकार द्वारा चलाया जाने वाला सिर्फ एक प्रमुख अभियान है। (VOA)

उन्होंने कहा कि प्रदेश में महिलाओं एवं बच्चों के खिलाफ हिंसा से संबंधित विभिन्न कानूनों एवं प्रावधानों के बारे में जागरूकता अभियान चलाकर विशेष जागरूकता कार्यक्रम चलाये जा रहे हैं।

राय ने कहा, "यह लैंगिक समानता पैदा करने के लिए एक कदम है। महिलाओं को सशक्त बनाना और महिलाओं के अधिकारों के बारे में जागरूकता बढ़ाना लैंगिक रूढ़ियों को सीमित करने में योगदान देता है जो महिलाओं को सामाजिक, पेशेवर और सार्वजनिक जीवन में पूरी तरह से भाग लेने से रोकता है और उन्हें उनके पूर्ण अधिकारों से वंचित करता है।"

Input-IANS ; Edited By- Saksham Nagar

न्यूज़ग्राम के साथ Facebook, Twitter और Instagram पर भी जुड़ें

Related Stories

No stories found.
hindi.newsgram.com