छात्रों की मानसिक चिंताओं को दूर करने के लिए एनसीईआरटी ने उठाया बड़ा कदम

छात्रों की मानसिक चिंताओं को दूर करने के लिए एनसीईआरटी ने उठाया बड़ा कदम
छात्रों की मानसिक सामाजिक चिंताओं को दूर करेगी एनसीईआरटी (Wikimedia commons)

कोरोना महामारी के कारण स्कूल लंबे समय से बंद थे लेकिन अब देश में विभिन्न राज्यों ने स्कूल खोलना शुरू कर दिया है। ऐसे में एनसीईआरटी का कहना है हम चाहते हैं कि कोविड से निपटने में मदद छात्रों की मदद करें। छात्र सुरक्षित रहें और विशेषज्ञों के साथ निशुल्क में लाइव बातचीत करें और देखें। एनसीईआरटी के आधिकारिक यूट्यूब चैनल और पीएम ई विद्या डीटीएच टीवी चैनल से कक्षा 6 और 11 के छात्र जुड़ सकते हैं। छात्र यहां अपनी मानसिक सामाजिक चिंताओं का समाधान हासिल कर सकते हैं। इसके लिए एक टोल फ्री नंबरों 8800440559, 8448440632 जारी किया गया है जिसके द्वारा छात्र विशेषज्ञों से बातचीत कर सकते हैं।

एनसीईआरटी ने आधिकारिक जानकारी देते हुए कहा कि प्रत्येक शुक्रवार को विशेषज्ञों के साथ लाइव चर्चा की जा सकती है। अपको बता की दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण यानी डीडीएमए ने दिल्ली के स्कूलों को 50 फीसदी क्षमता के साथ कक्षाएं शुरू करने की इजाजत दे दी है। यह अनुमति सभी कक्षाओं के लिए है। हालांकि इस दौरान स्कूलों को कोरोना से बचाओ हेतु तय किए गए सभी प्रोटोकॉल लागू करने होंगे।

स्कूल प्रशासन को स्पष्ट निर्देश दिए गए हैं की स्कूल रिओपनिंग के दौरान कक्षा में छात्रों की सुरक्षा का पूरा ध्यान रखा जाए। ऐसे सभी उपाय सुनिश्चित किए जाएं जिनसे की संक्रमण न फैल सके। स्कूलों में फिलहाल छात्रों को अपना खाना, पीने का पानी, पुस्तकें और स्टेशनरी आदि साझा करने की अनुमति नहीं होगी। इसके साथ ही सभी विभिन्न राज्यों में स्कूल पहुंच रहे छात्रों को अपने साथ कोरोना रोकथाम संबंधी किट भी रखनी होगी। इसमें फेस मास्क, सैनिटाइजर, दस्ताने, फेस शील्ड आदि शामिल हैं।

Input: आईएएनएस; Edited By: Lakshya Gupta

न्यूज़ग्राम के साथ Facebook, Twitter और Instagram पर भी जुड़ें!

Related Stories

No stories found.
hindi.newsgram.com