प्रधानमंत्री Narendra Modi की पहल से भारत के प्रति निवेशकों का भरोसा बढ़ेगा : भारतीय स्टार्टअप

प्रधानमंत्री Narendra Modi की पहल से भारत के प्रति निवेशकों का भरोसा बढ़ेगा : भारतीय स्टार्टअप
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Wikimedia Commons)

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी(Narendra Modi) के राष्ट्रीय स्टार्टअप दिवस(National Startup Day) की पहल की सराहना करते हुए कई भारतीय स्टार्टअप(Indian Startup) ने रविवार को कहा कि यह न केवल देश के नवाचारकर्ताओं और युवा उद्यमियों को प्रोत्साहित करेगा, बल्कि आर्थिक क्षेत्र में वैश्विक निवेशकों के विश्वास को भी बढ़ावा देगा।

मोदी ने शनिवार को 160 से अधिक प्रमुख स्टार्टअप्स के साथ वर्चुअल बैठक में कहा था कि भारत की अर्थव्यवस्था की रीढ़ माने छोटे व्यवसायों की तरह, स्टार्टअप्स भी एक अहम भूमिका अदा करने जा रहे हैं।

फिनटेक प्लेटफॉर्म रिफाइन के सीईओ और सह-संस्थापक चित्रेश शर्मा ने एक मीडिया एजेंसी को बताया हमने नए जमाने के संस्थापकों को मौजूदा श्रेणियों से परे सोचने और वास्तविक सामाजिक समस्याओं को हल करने वाली चुनौतियों का सामना करने के लिए प्रेरित करने में एक छोटी भूमिका निभाई है। जरूरत पड़ने पर इसके लिए पूरी तरह से एक नई श्रेणी बनाने की आवश्यकता हो सकती है। 'किसी खास कारण के लिए व्यापार भारतीय भारतीय स्टार्टअप की बेहतरीन कहानी लिखने के लिए बहुत ही अहम है।

उन्होंने कहा कि भारतीय स्टार्टअप विकास की राह पर हैं और हम दुनिया भर में निवेशकों का विश्वास हासिल करना जारी रखेंगे। यह बात हाल ही निवेश की संख्या में बढ़ोत्तरी होने से साबित होती है। भारत में 2021 में 1 अरब डॉलर से अधिक कीमत वाली 46 कंपनियां अस्तित्व में आई हैं

हार्वर्ड यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर और निजी इक्विटी, उद्यम पूंजी तथा निवेश बैंकिंग के विशेषज्ञ विनी साहनी ने भारतीय उद्यम पूंजी के परिद्वश्य को आश्चर्यजनक करार दिया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पहल से भारत के प्रति निवेशकों का भरोसा बढ़ेगा : भारतीय स्टार्टअप (Wikimedia Commons)

उन्होंने शनिवार को देश के प्रमुख एंजेल इनवेस्टर्स नेटवर्क में से एक एजिलिटी वेंचर्स द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान कहा,अमेरिका आधरित निवेशकों के लिए भारत एक नया क्षेत्र नहीं है। देश में पिडले डेढ़ साल में डॉलर के निवेश के रूप में नाटकीय वृद्धि देख है। जहां तक ऐसे स्टार्टअप की संख्या का संबंध है तो इनका विकास दोगुना हो गया है और मुझे लगता है कि इसने अमेरिका में निवेशकों का बहुत ध्यान आकर्षित किया है।

प्रोफेसर साहनी ने बताया कि भारत ने वर्ष 2021 में निवेश के रिकॉर्ड स्तर को पार कर लगभग 42 बिलियन डॉलर के सर्वकालिक उच्च स्तर को छू लिया था।

भारत पूंजी निवेश के क्षेत्र में 42 अरब डालर से अधिक प्राप्त करने का हकदार है। भारत के लिए क्षमता आश्चर्यजनक है इस क्षेत्र में अभी काफी कुछ किया जाना अभी बाकी है,

एजिलिटी वेंचर्स ने कहा कि उसे भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (सेबी) से कुल 450 करोड़ रुपये के साथ एक एंजेल फंड के लिए मंजूरी मिली है।

रोजगार एवं प्रोफेशनल नेटवकिर्ंग प्लेटफॉर्म अपना कंपनी के सीईओ और संस्थापक निर्मित पारिख ने कहा कि स्टार्टअप्स के कारण जो नवाचार लाए गए हैं देश उनका पूरा जश्न मना रहा है।

उन्होंने आईएएनएस से कहा, हमें यकीन है कि भारत अगले कुछ वर्षों में दुनिया की नवाचार राजधानी बन जाएगा।

जीवनशैली और और टिकाऊ सचल ब्रांड, नाइंटीवन के सह-संस्थापक और सीईओ सचिन चोपड़ा ने कहा कि इस कदम से उभरते उद्यमियों को डिजिटल, ई-कॉमर्स और सभी क्षेत्रों में नए कारोबारी विचारों में मदद मिलेगी।

फिनटेक प्लेटफॉर्म स्टैशफिन की सह-संस्थापक श्रुति अग्रवाल के अनुसार, राष्ट्रीय स्टार्टअप दिवस स्टार्टअप के क्षेत्र में सरकार के अधिक ध्यान केन्द्रित करने पर सरकार का प्रमाण है।

सुश्री अग्रवाल ने कहा वर्ष 2022 स्टार्टअप के लिए एक स्वर्णिम वर्ष होने जा रहा है और हम इस साल 100 से अधिक स्टार्टअप बनाने की उम्मीद करते हैं। यह दशक 'तकनीक ' के साथ-साथ बेहतर तकनीक 'फिनटेकेड' के रूप में आंका गया है और हमें नए दौर की उपलब्धियों और शक्ति का जश्न मनाना चाहिए।

Input-IANS; Edited By-Saksham Nagar

न्यूज़ग्राम के साथ Facebook, Twitter और Instagram पर भी जुड़ें!

Related Stories

No stories found.
hindi.newsgram.com