भारत आज स्टार्टअप की दुनिया में सबसे अग्रणी- मोदी। (Wikimedia Commons)
भारत आज स्टार्टअप की दुनिया में सबसे अग्रणी- मोदी। (Wikimedia Commons)

स्टार्टअप की दुनिया में आज भारत सबसे अग्रणी- मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी(Narendra Modi) ने आज अपने "मन की बात"("Mann Ki Baat") कार्यक्रम में देशवासियों से बात करते हुए स्टार्टअप के महत्व पर ज़ोर दिया। प्रधानमंत्री ने कहा की जो युवा कभी नौकरी की तलाश में रहते थे वे आज नौकरी देने वाले बन गए हैं क्योंकि स्टार्टअप(Startup) भारत के विकास की कहानी में महत्वपूर्ण मोड़ बन गया है। उन्होंने आगे कहा की स्टार्ट के क्षेत्र में भारत अग्रणी है क्योंकि तक़रीबन 70 कंपनियों ने भारत में "यूनिकॉर्न" का दर्जा हासिल किया है। इससे वैश्विक स्तर पर भारत का कद और मज़बूत होगा।

उन्होंने आगे कहा की वर्ष 2015 में देश में मुश्किल से 9 या 10 यूनिकॉर्न हुआ करते थे लेकिन आज भारत यूनिकॉर्न(Unicorn) की दुनिया में भारत सबसे ऊँची उड़ान भर रहा है।

उन्होंने कहा की यह सच की यह स्टार्टअप्स का युग है और यह बात की सच है की दुनिया में भारत सबसे अग्रणी है। स्टार्टअप्स को हर साल बड़े-बड़े निवेश मिल रहे हैं जिससे यह क्षेत्र बहुत तेज़ी से प्रगति कर रहा है।

"स्टार्टअप के लिए तीन नासाचार बहुत मायने रखते हैं- विचार-नवाचार, जोखिम लेने वाली भावना और कैन डू इट स्पिरिट

स्टार्टअप के लिए तीन नासाचार बहुत मायने रखते हैं- विचार-नवाचार, जोखिम लेने वाली भावना और कैन डू इट स्पिरिट- मोदी। (Pixabay)

उन्होंने कहा, "स्टार्टअप के लिए तीन नासाचार बहुत मायने रखते हैं- विचार-नवाचार, जोखिम लेने वाली भावना और कैन डू इट स्पिरिट। जब यह तीन चीज़ें हमारे अंदर आ जाते हैं तो चमत्कार और हमें अभूतपूर्व परिणाम मिलने लगते हैं।

प्रधानमंत्री ने आयुष्मान भारत(Ayushmaan Bharat) के लाभार्थियों से भी बात की और आश्चर्य किया कि कैसे चीजें तेज गति से बदल रही हैं क्योंकि सरकार योजनाएं बनाती है, बजट खर्च करती है, परियोजनाओं को समय पर पूरा करती है, लोगों को लगता है कि यह काम कर रहा है।

विकास की कई योजनाओं के बीच मानवीय संवेदनाओं से जुड़ी चीजें हमेशा एक अलग तरह का आनंद देती हैं।

जब लाभार्थी में से एक राजेश प्रजापति ने कहा, वह चाहते हैं कि मोदी सत्ता में बने रहें, तो उन्होंने कहा कि "कृपया सत्ता के लिए प्रार्थना न करें, मैं सेवक के रूप में राष्ट्र की सेवा में रहना चाहता हूं।"

यह भी पढ़ें-
पाकिस्तान शांति भंग करने के लिए ड्रोन का इस्तेमाल करता है-केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह

पीएम मोदी ने स्वच्छ जलवायु पर भी जोर दिया और पूर्वोत्तर की तस्वीर का जिक्र किया। "मैं सोशल मीडिया पर मेघालय में एक उड़ती हुई नाव(फ्लाइंग बोट) की तस्वीर देख रहा हूं जो वायरल हो रही है। यह तस्वीर पहली नजर में ही हमारा ध्यान खींच लेती है। आप में से अधिकांश ने इसे ऑनलाइन देखा होगा। प्रकृति हमें एक मां की तरह पालती है और हमारी दुनिया को भी चमकीले रंगों से भर देती है।"

Input-IANS ; Edited By- Saksham Nagar

न्यूज़ग्राम के साथ Facebook, Twitter और Instagram पर भी जुड़ें

logo
hindi.newsgram.com