हंगामे के बीच पारित हुआ यूपी का अनुपूरक बजट

वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने पेश किया अनुपूरक बजट।(Twitter)
वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने पेश किया अनुपूरक बजट।(Twitter)

उत्तर प्रदेश(uttar pradesh) विधानमंडल के शीतकालीन सत्र में योगी सरकार(Yogi Government) ने गुरुवार को चालू वित्तीय वर्ष के लिए 8 हजार 479 करोड़ रुपये का दूसरा अनुपूरक बजट(Budget) पेश किया। सरकार(Up Government) ने वित्तीय वर्ष 2022-23 के पहले चार महीनों (अप्रैल से जुलाई) के लिए 1,68,903.23 करोड़ रुपये का लेखानुदान भी विधानसभा में प्रस्तुत किया।

दूसरे दिन की कार्यवाही शुरू होते ही विपक्ष ने गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा टेनी(Ajay Mishra Teni) के इस्तीफे को लेकर जमकर हंगामा किया, जिसके कारण सदन की कार्यवाही को स्थगित कर दिया गया। कार्यवाही के दौरान सपा, कांग्रेस और सुभासपा ने मंहगाई और केंद्रीय मंत्री राज्यमंत्री अजय मिश्रा टेनी को बर्खास्त करने की मांग को लेकर विधानसभा(Vidhansabha) में अध्यक्ष के सामने वेल में प्रदर्शन किया। इस दौरान प्रदेश के वित्त मंत्री सुरेश खन्ना(Suresh Khanna) ने वित्तीय वर्ष 2021-22 का दूसरा अनुपूरक बजट(Budget) और वर्ष 2022-23 के एक भाग के लिए लेखानुदान प्रस्तुत किया।

विधानसभा में आज विधान सभा की कार्यवाही शुरू होते ही समाजवादी पार्टी (SP) तथा कांग्रेस के सदस्य लखीमपुर खीरी(Lakhimpur Kheri) केस की एसआइटी (SIT) जांच रिपोर्ट पर चर्चा कराने और गृह राज्यमंत्री टेनी को बर्खास्त करने की मांग को लेकर वेल में आकर नारेबाजी हंगामा करने लगे। इनके हंगामे के बीच ही संसदीय कार्य व वित्त मंत्री सुरेश खन्ना(Suresh Khanna) ने द्वितीय अनुपूरक बजट, अगले वित्तीय वर्ष 2022-23 के एक भाग के लिए लेखानुदान पेश किया।

इससे पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ(Yogi Adityanath) के सरकारी आवास पर कैबिनेट बैठक के बाद इस बजट को मंजूरी प्रदान की गई है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में सम्पन्न कैबिनेट की अहम बैठक में अनुपूरक बजट के प्रस्ताव को मंजूरी प्रदान की।

Input-IANS; Edited By- Lakshya Gupta

न्यूज़ग्राम के साथ Facebook, Twitter और Instagram पर भी जुड़ें

Related Stories

No stories found.
hindi.newsgram.com