केरल में ऐसा क्या हुआ कि सरकार बर्खास्तगी की मांग होने लगी?

केरल में ऐसा क्या हुआ कि सरकार बर्खास्तगी की मांग होने लगी?
केरल में बढ़ती हिंसा को देखते हुए एस स्वामी ने केरल सरकार को बर्खास्त करने की मांग की है।(File Photo)

केरल(Kerala) की कानून व्यवस्था पर फिर से प्रश्न खड़े होने लगे हैं जिसके कारण राज्य सरकार(State Government) सोशल मीडिया में लगातार घेरी जा रही है। दरअसल इस्लामिक कट्टरपंथियों द्वारा केरल के अलझुप्पा में 12 घंटे के भीतर दो नेताओं की हत्या कर दी गई है। इनमें एक भाजपा(BJP) नेता रंजीत श्रीनिवासन(Ranjit Srinivasan) बताए जा रहे हैं। रंजीत श्रीनिवासन की रविवार तड़के उनके आवास पर उनकी मां और पत्नी के सामने हत्या कर दी गई।

रंजीत(Ranjit Srinivasan) की मां के अनुसार, उनके आवास पर आठ सदस्यीय गिरोह ने हमला किया था, जो कि अलाप्पुझा(alappuzha) शहर के केंद्र में स्थित है। इनके अलावा एसडीपीआई(SDPI) के राज्य सचिव के.एस. शान पर अलाप्पुझा के मन्नानचेरी में उनके आवास के पास पुरुषों के एक समूह ने हमला किया था।एसडीपीआई नेता ने शनिवार देर रात एनार्कुलम के एक निजी अस्पताल में दम तोड़ दिया था।

इस खबर के मीडिया पर आने के बाद से कई प्रतिक्रिया सामने आई है। बीजेपी(BJP) नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री सुब्रमण्यमस्वामी(Subramanyam Swami) ने भाजपा नेता रंजीत श्रीनिवासन(Ranjit Srinivasan) की हत्या को लेकर केरल में एलडीएफ सरकार(LDF Government) को बर्खास्त करने की मांग की है। उन्होंने केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह(Amit Shah) से राज्य में कानून-व्यवस्था की स्थिति की विफलता के लिए केरल सरकार(State Government) को तुरंत कार्रवाई करने और बर्खास्त करने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि रंजीत श्रीनिवासन की हत्या करने वाले आतंकवादी थे और राज्य को ऐसे आतंकवादियों के लिए सुरक्षित पनाहगाह नहीं बनने देना चाहिए।

इसके आलावा स्वामी(Subramanyam Swami) ने पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया(PFI) पर प्रतिबंध लगाने का भी आह्वान किया, जो एसडीपीआई(SDPI) की वैचारिक शाखा है और कहा कि पीएफआई का विचार भारत(India) को एक इस्लामी राष्ट्र में परिवर्तित करना है। उन्होंने कहा कि जो लोग राज्य के इस्लामीकरण की कोशिश कर रहे हैं, उन्हें पाकिस्तान चले जाना चाहिए।


जेपी नड्डा, राष्ट्रीय अध्यक्ष, भारतीय जनता पार्टी(Image: JP Nadda, Twitter)

इस मामले में बीजेपी(BJP) अध्यक्ष जेपी नड्डा(JP Nadda) ने ट्वीट करते हुए केरल सरकार(State Government) पर हमला बोला है। नड्डा ने कहा कट्टरपंथी द्वारा बीजेपी नेता रंजीत श्रीनिवासन(Ranjit Srinivasan) की हत्या निंदनीय है। इस तरह की हरकतें बर्दाश्त नहीं की जाएंगी। सीएम के नेतृत्व में केरल एक गैरकानूनी राज्य बनता जा रहा है।

इनके अलावा भाजपा(BJP) के राष्ट्रीय सूचना एवं प्रौद्योगिकी विभाग के प्रभारी और पश्चिम बंगाल के भाजपा सह प्रभारी अमित मालवीय(Amit Malviya) ने ट्वीट कर आरोप लगाते हुए कहा, "अलाप्पुझा में सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया (एसडीपीआई) के कार्यकर्ताओं ने बीजेपी केरल के ओबीसी मोर्चा के राज्य सचिव रंजीत श्रीनिवासन(Ranjit Srinivasan) की हत्या कर दी। पश्चिम बंगाल के साथ अब केरल भी राजनीतिक हत्याओं का अड्डा बन गया है। ममता बनर्जी की तरह केरल के सीएम भी इस तरह की हत्याओं से आंखें बंद किए हुए हैं।"

साथ ही साथ इस घटना पर केरल(Kerala) के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन(Pinarayi Vijayan) ने एक प्रेस बयान में हत्याओं पर शोक व्यक्त किया और कहा कि पुलिस दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करेगी। इस बीच, पुलिस महानिदेशक ने हत्याओं के बाद केरल के 14 जिलों के सभी जिला पुलिस अधीक्षकों को अलर्ट जारी किया है।

Input-IANS; Edited By- Lakshya Gupta

न्यूज़ग्राम के साथ Facebook, Twitter और Instagram पर भी जुड़ें

Related Stories

No stories found.
hindi.newsgram.com