कोविड संकट के बीच योग आशा की किरण बना हुआ है : मोदी

कोविड संकट के बीच योग आशा की किरण बना हुआ है : मोदी
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) (PIB)

ऐसे समय में जब पूरी दुनिया Covid-19 महामारी से लड़ रही है, प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को कहा कि योग दिवस के लिए लोगों का उत्साह कम नहीं हुआ है और संकट के बीच योग आशा की किरण बना हुआ है। 7वें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस(International Yoga Day) के अवसर पर राष्ट्र को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि इस कठिन समय में, भले ही लोग इतनी परेशानी में हैं, वे योग को भूल सकते हैं या इसे अनदेखा भी कर सकते हैं। लेकिन इसके उलट लोगों का योग के प्रति उत्साह बढ़ा है, योग के प्रति प्रेम बढ़ा है।

मोदी ने कहा कि जब कोरोना के अदृश्य वायरस ने दुनिया में दस्तक दी थी, तब कोई भी देश ताकत से और मानसिक स्थिति से इसके लिए तैयार नहीं था। हम सभी ने देखा है कि ऐसे कठिन समय में योग आत्मविश्वास का एक बड़ा माध्यम बन गया है। यह देखते हुए कि जब भी भारत और उसके संतों ने स्वास्थ्य की बात की, मोदी ने कहा कि इसका मतलब केवल शारीरिक स्वास्थ्य नहीं है। इसीलिए योग में शारीरिक स्वास्थ्य के साथ-साथ मानसिक स्वास्थ्य पर भी इतना बल दिया गया है।

योग हमें तनाव से ताकत और नकारात्मकता से रचनात्मकता तक का रास्ता दिखाता है। (Pixabay)

"योग हमें तनाव से ताकत और नकारात्मकता से रचनात्मकता तक का रास्ता दिखाता है। योग हमें अवसाद से परमानंद और परमानंद से प्रसाद की ओर ले जाता है।" प्रधानमंत्री ने उल्लेख किया कि अगर मानवता के लिए खतरा है, तो योग अक्सर हमें समग्र स्वास्थ्य का मार्ग देता है। "योग हमें एक खुशहाल जीवन जीने का तरीका भी देता है। मुझे यकीन है कि योग जनता की स्वास्थ्य देखभाल में निवारक, साथ ही साथ प्रोत्साहक भूमिका निभाता रहेगा।" भारत ने संयुक्त राष्ट्र में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का प्रस्ताव रखा, प्रधान मंत्री ने कहा कि योग के इस विज्ञान को पूरी दुनिया के लिए सुलभ बनाना इसके पीछे की भावना थी।

आज मोदी ने घोषणा की कि भारत ने संयुक्त राष्ट्र और विश्व स्वास्थ्य संगठन के साथ मिलकर इस दिशा में एक और महत्वपूर्ण कदम उठाया है। "अब दुनिया को 'एम योग ऐप' की ताकत मिलने जा रही है। इस ऐप में कॉमन योग प्रोटोकॉल पर आधारित दुनिया की विभिन्न भाषाओं में योग प्रशिक्षण के कई वीडियो उपलब्ध होंगे।" कार्यक्रम की शुरूआत सोमवार को सुबह लगभग साढ़े छह बजे हुई। सातवां अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस सोमवार को दुनिया भर के 190 देशों में मनाया जा रहा है। इस वर्ष की थीम 'योग फॉर वेलनेस' है। अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस की तैयारी 21 जून से 3 से 4 महीने पहले शुरू हो जाती है और लाखों लोगों को एक जन आंदोलन की भावना से इस अभ्यास से परिचित कराया जाता है।(आईएएनएस-SHM)

Related Stories

No stories found.
hindi.newsgram.com