अफसरों को योगी निर्देश, गरीब की झोपड़ी और दुकान पर न चले बुलडोजर

अफसरों को योगी निर्देश, गरीब की झोपड़ी और दुकान पर न चले बुलडोजर
योगी आदित्यनाथ, मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश (Twitter)

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अफसरों को सख्त निर्देश दिए हैं कि किसी गरीब की झोपड़ी और दुकान पर बुलडोजर न चलाएं। बुलडोजर सिर्फ पेशेवर माफिया, दुर्दांत अपराधी और माफियाओं की अवैध संपत्ति पर ही चलाएं। उन्होंने कहा कि ऐसे माफिया जिन लोगों ने कमजोरों और व्यापारियों की संपत्ति पर अवैध कब्जा कर लिया हो, सिर्फ उनके खिलाफ ही कार्रवाई की जाए। किसी को परेशान न किया जाए।

अपराध और अपराधियों के प्रति जीरो टॉलरेंस तथा गरीबों के प्रति संवेदनशीलता को लेकर योगी सरकार आगे बढ़ रही है। दूसरी पारी में भी योगी आदित्यनाथ ने इसी सिद्धांत को प्रशासन में आगे बढ़ाया है। जहां एक ओर गरीब कल्याण योजनाओं को नयी तेजी से लागू करना शुरू किया वहीं दूसरी ओर अपराधियों पर लगाम कसने में कोई कसर नही छोड़ी।

सरकार का प्रभाव इससे समझ में आता है कि पिछले एक पखवारे में लगभग 80 अपराधी आत्मसमर्पण कर चुके हैं। माफिया और अवैध कब्जा किये लोगों में सरकार के बुल्डोजर का खौफ है। इसी के परिप्रेक्ष्य में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए हैं कि अवैध संपत्तियों का बुलडोजर चला के ध्वस्तीकरण करने की कार्रवाई सिर्फ पेशेवर माफिया, अपराधियों पर हो, और किसी गरीब की झोपड़ी पर बुलडोजर नहीं चलेगा।

मुख्यमंत्री ने स्पष्ट निर्देश दिए हैं कि गरीब की दुकान, मकान या झोपड़ी पर बुलडोजर नहीं चलेगा, बल्कि यह सख्त कार्रवाई माफिया की अवैध संपत्ति पर की जाए। उन्होंने यह भी कहा है कि गरीबों की संपत्ति पर कब्जा करने वालों पर त्वरित एक्शन लिया जाए। इस आदेश से यह सुनिश्चित किया जाएगा कि ऐसी कार्रवाई पर कोई शिकायत न आए।

आपको बता दे, उत्तर प्रदेश में सरकार बनने के बाद तबाड़तोड़ बुलडोजर चल रहा है। नोएडा, लखनऊ, प्रयागराज से लेकर बरेली तक अवैध संपत्ति पर बनी बिल्डिंगों को ध्वस्त किया जा रहा है। इसी क्रम में गुरुवार को बरेली विकास प्राधिकरण (बीडीए) ने विधायक शहजिल इस्लाम सीबीगंज स्थित पेट्रोल पंप पर कार्रवाई कर दी। बिना नक्शा पास कराए बनाए गए पेट्रोल पंप पर बीडीए का बुलडोजर चला। सिर्फ मशीनें ही छोड़ी गई हैं।

बता दें कि दो अप्रैल को एक कार्यक्रम के दौरान भोजीपुरा से सपा विधायक शहजिल इस्लाम ने भड़काने वाला भाषण दिया था। सपा विधायक ने कहा था कि पिछले कार्यकाल में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सदन में हम लोगों से गलत व्यवहार किया। हमारी संख्या कम थी लेकिन, इस बार मजबूत विपक्ष है। उनकी आवाज निकलेगी तो हमारी बंदूकों से गोली चलेगी। इस भाषण के बाद सपा विधायक के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया था।

आईएएनएस(LG)

Related Stories

No stories found.