भारत में वित्तवर्ष 2021 में 1.3 लाख से अधिक नई कंपनियां पंजीकृत

चालू वित्तवर्ष में फरवरी तक भारत में कुल 1,38,051 नई कंपनियां पंजीकृत हुई हैं। कार्पोरेट मामलों के मंत्रालय के हालिया आंकड़ों में यह बताया गया है।
 | 
कॉपोर्रेट मामलों के राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर । (  Wikimedia Commons )
चालू वित्तवर्ष में फरवरी तक भारत में कुल 1,38,051 नई कंपनियां पंजीकृत हुई हैं। कार्पोरेट मामलों के मंत्रालय के हालिया आंकड़ों में यह बताया गया है।

लोकसभा ( Loksabha ) में एक प्रश्न के लिखित उत्तर में, कॉपोर्रेट मामलों के राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर ने जानकारी देते हुए यह भी कहा कि अप्रैल 2020 से फरवरी 2021 के दौरान 10,113 कंपनियां प्रभावित भी हुई हैं।

वित्तवर्ष 2021 में पंजीकृत कंपनियों की संख्या  है, क्योंकि इस दौरान व्यावसायिक गतिविधियां महामारी और राष्ट्रव्यापी बंद के कारण बुरी तरह प्रभावित हुई हैं।
 

यह भी पढ़ें : स्मार्टफोन पर Gaming और HD वीडियो कॉलिंग के मामले में Airtel सबसे आगे : रिपोर्ट


लोकसभा में मंत्री द्वारा उपलब्ध कराए गए एक अन्य आंकड़े से पता चला है कि देशभर में नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल (एनसीएलटी) ने पिछले साल राष्ट्रव्यापी बंद की घोषणा के बाद महामारी के बीच कुल 283 कंपनियों को दिवालिया घोषित किया है।

उन्होंने कहा कि 1 अप्रैल, 2020 और 31 दिसंबर, 2020 के बीच की अवधि में 76 कॉपोर्रेट इन्सॉल्वेंसी रिजॉल्यूशन प्रोसेस (सीआईआरपी) रिजॉल्यूशन समाप्त हो गए, 128 सीआईआरपी निकासी या अपील या निपटान के कारण बंद हुए और 189 कंपनियां परिसमापन में चली गईं।
( AK आईएएनएस )