Saturday, July 24, 2021
Home इतिहास

इतिहास

बिरसा मुंडा: स्वतंत्रता संग्राम के अमित छवि!

बिरसा मुंडा के शौर्य एवं देश-प्रेम से देश का हर एक नागरिक चिर-परिचित होगा। 9 जून को देश भर में बिरसा मुंडा...

आने वाली पीढ़ियों को कश्मीर के गौरवशाली अतीत और उदार संस्कृति की कहानी बयां करेंगे बामजई स्मारक

कोई भी खंडहर सिर्फ खंडहर नहीं होता, बल्कि स्मृतियों और इतिहास का घर होता है। हर खंडहर की दीवारों के पीछे अतीत...

“हिन्दी पत्रकारिता दिवस 2021”

पूरे विश्व में पत्रकार और मीडिया जगत के लोगों को जनता की आवाज माना जाता है। देश - दुनिया की खबरों को...

पंडित जवाहरलाल नेहरू की पुण्यतिथि पर जानें उनके अनमोल विचार।

भारत के इतिहास में 27 मई का दिन काफी अहम माना जाता है। यह वही तारीख है, जिस दिन वर्ष 1964 में...

सुंदर लाल बहुगुणा : चिपको आंदोलन के कारण दुनिया भर में वृक्षमित्र के नाम से मशहूर हुए|

मशहूर पर्यावरणविद और चिपको आंदोलन के प्रमुख नेता, सुंदर लाल बहुगुणा (Sundar Lal Bahuguna) का 21 मई को निधन हो गया। 94...

Rajiv Gandhi : जिस देश में आपसी संघर्ष हो, वह देश कमजोर हो जाता है।

21 May,1991- आज ही का वो दिन था, जब इस देश ने अपने प्रिय नेता को खो दिया था। वह दिन, जब...

नीलम संजीव रेड्डी : भारत के एकमात्र निर्विरोध चुने गए राष्ट्रपति।

एक भारतीय राजनीतिज्ञ, स्वतंत्रता कार्यकर्ता और भारत में छठे राष्ट्रपति, नीलम संजीव रेड्डी का जन्म आज ही के दिन यानी 19 मई...

‘महाराणा प्रताप’ वह वीर, जिस से कांप गई थी मुगलिया भीड़!

भारत देश में कई प्रतापी एवं साहसी राजाओं ने जन्म लिया। उनके साहस और दृढ़ता की गाथाएं आज भी गौरवपूर्ण भाव...

8 May 1933: गांधी जी ने अस्पृश्यता के विरूद्ध आवाज उठाई थी।

मोहन दास करमचंद गांधी। जिन्हें पूरा विश्व बापू के नाम से भी जनता है। भारत एवं भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन के प्रमुख राजनैतिक...

जब साधुओं ने गौरक्षा के लिए खाई थी गोली!

सनातन धर्म में साधुओं को सहनशील, धीर एवं तप में लीन ही देखा गया है। उन्हें देश में क्या उठा-पटक चल रही...

Most Read

कुलभूषण खरबंदा: ‘जेम्स बॉन्ड’ से अन्स्र्ट स्टावरो ब्लोफेल्ड की भूमिका से प्रेरित था शाकाल

76 वर्षीय अभिनेता ने कहा, "जब हम कैमरों से शूट करते हैं, तो हम दर्शकों को बेवकूफ नहीं बना सकते। कैमरा हर मिनट की डिटेल कैप्चर करता है। इसलिए, मुझे चरित्र में फिट होने के लिए अपना सिर मुंडवाना पड़ा।

आयुष्मान को सबसे बड़ा अफसोस किशोर कुमार से मिल न पाने का

आयुष्मान ने कहा कि किशोर कुमार सिर्फ एक किंवदंती और एक आइकन नहीं हैं, वह एक संस्था हैं। वह हमेशा मेरे लिए प्रेरणा की किरण रहे हैं

श्रीजेश : युवाओं को लगातार सीनियरों की ड्यूटी के लिए प्रेरित कर रहे हैं

श्रीजेश ने कहा, "जब मैंने पहली बार भारतीय जर्सी पहनी तो मुझे याद है कि मेरे सीनियरों ने मुझसे कहा था कि अगर तुम गलती करोगे तो तुम्हें क्लब या राज्य स्तर पर ही खेलना पड़ेगा। भारतीय जर्सी पहनने से बड़ी जिम्मेदारी आती है।"

करीब 2 में से 1 भारतीय वयस्क का जीवन स्तर खराब है: अध्ययन

लगभग 91 प्रतिशत भारतीय वयस्क अपनी दैनिक प्रोटीन की आवश्यकता को पूरा नहीं करते हैं। 10 सूक्ष्म पोषक तत्वों के सेवन के लिए भी एक बड़ा अंतर मौजूद था जो प्रतिरक्षा समारोह और समग्र स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण हैं।