Sunday, June 13, 2021
Home इतिहास

इतिहास

क्या क़ुतुब मीनार एक मस्जिद या ध्रुव स्तम्भ?

क़ुतुब मीनार(Qutub Minar) मुगलिया कारीगरी का नायब अजूबा माना जाता है। इतिहासकारों ने कुतबुद्दीन ऐबक(Qutub-ud-Din Aibak) द्वारा बनाए गए इस ऐतिहासिक स्मारक के ऊपर...

भारत की सबसे पहली स्वतंत्रता सेनानी: रानी अबक्का देवी!

भारत एक ऐसा देश है जहाँ का हर एक छोर नई गाथा सुनाता है। यह वीर-भूमि भारत सदा से वीरों के गाथाओं को समेटती आ...

स्वर्ण युग के विनाशकारी एक खानाबदोश “हूण जाति” !

सदियों से हमारे भारत (India) पर कई आक्रमण हुए हैं। अलग-अलग समुदायों, प्रजातियों ने हमेशा से भारत पर अपना वर्चस्व स्थापित करना चाहा है।...

सामाजिक – धार्मिक सुधार आंदोलनों का प्राचीन इतिहास !

भारत अपने गौरवशाली अतीत के लिए संपूर्ण विश्व में प्रसिद्ध है। परन्तु किसी भी देश व उसके समाज को सुधार की आवश्यकता हमेशा होती है।...

Shivaji Jayanti: वीर छत्रपति शिवाजी महाराज द्वारा बताया गया वह पथ, जिन पर चलना आज जरूरी है!

आज पूरा देश वीर मराठा योद्धा एवं करोड़ों लोगों के दिल में बसने वाले छत्रपति शिवाजी महाराज का 391वां जयंती मना रहा है। महाराज शिवाजी को 'रयतेचा...

महाराष्ट्र : पवनगढ़ दुर्ग के पास खुदाई में मिले 17वीं शताब्दी के तोप के गोले

By : काईद नाजमी  महाराष्ट्र के कोल्हापुर में पवनगढ़ किले की प्राचीर के आस-पास के इलाकों की खुदाई में 400 से भी तोप के गोले...

बिस्मिल की फांसी ने गोरखपुर को बना दिया क्रांतिकारियों का गढ़

By: विवेक त्रिपाठी  चौरी-चौरा शताब्दी वर्ष के उद्घाटन समारोह में गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि यह महज एक थाने में आगजनी की...

यह शौर्य गाथा है शहीद वीरांगना रानी अवंतीबाई की

यह भारत देश शौर्य और पराक्रम से भरा हुआ देश है। यहाँ बसने वाले वीरगाथाओं ने देश एवं विदेश में एक-एक भारतीय का सीना गर्व से चौड़ा किया...

‘चौरी-चौरा की घटना के साल भर पहले गोरखपुर आए थे गांधीजी’

जंगे आजादी के पहले संग्राम (1857) में ब्रिटिश हुकूमत के खिलाफ पूर्वांचल के तमाम रजवाड़ों, जमीदारों (पैना, सतासी, बढ़यापार नरहरपुर, महुआडाबर) की बगावत हुई थी।...

गोरखपुर में 1857 के गदर ने ही तैयार की थी चौरीचौरा की पृष्ठभूमि

गोरखपुर का शुमार पूर्वाचल के प्रमुख शहरों में होता है। बस्ती, आजमगढ़, मऊ, महाराजगंज, देवरिया, बस्ती और संतकबीर नगर भी कभी अविभाजित गोरखपुर के...

गोवा में मिशनरी द्वारा किए गए अत्याचारों का कहीं भी उल्लेख क्यों नहीं?

गोवा आज भारत के विकसित और पर्यटन के क्षेत्र में संपन्न राज्य है। गोवा को उसके मोहक समुद्री किनारों और सुंदर दृश्यों के लिए...

ताज महल मुगलिया है या प्राचीन भारत की नायाब नक्काशी, प्रोफ. मार्विन मिल द्वारा दिए गए तर्क पर ध्यान दें!

‘ताज महल’ अतुल्नीय भारत का एक नायाब नमूना है। इतिहास के जानकारों एवं किताबों में बताया जाता है कि Taj Mahal का निर्माण मुग़ल...

Most Read

बिहार भाजपा अध्यक्ष ने किया कटाक्ष, कहा, ‘घरों से उतना ही बाहर निकलें जितना राहुल गांधी मंदिर जाते हैं’

बिहार भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष डॉ. संजय जायसवाल ने शनिवार को कोरोना को लेकर अभी भी एहतियात बरतने के बहाने...

भारत के हितैषी, पाक मीडिया के सामने कर रहे हैं हाय-तौबा!

कुछ ही समय पहले कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह का एक क्लब हाउस चैट,...

अमेरिका में “बाल” श्रम की स्थिति बहुत गंभीर है।

12 जून को विश्व बाल श्रम रहित दिवस है। (World Day Without Child Labor) अंतर्राष्ट्रीय श्रमिक संगठन और संयुक्त राष्ट्र बाल कोष...

World Child Labor Prohibition Day: आयुष्मान खुराना ने की मुद्दे पर बात

बॉलीवुड अभिनेता आयुष्मान खुराना युनिसेफ के वैश्विक अभियान एंडिंग वायलेंस अगेंस्ट चिल्ड्रेन के सेलेब्रिटी एडवोकेट हैं। शनिवार को विश्व बाल श्रम निषेध...