Thursday, August 5, 2021
Home ज़रूर पढ़ें

ज़रूर पढ़ें

Transparency web series: स्वराज से लेकर भ्रष्टाचार तक का सफर(भाग-4)

अरविंद केजरीवाल (Arvind kejriwal) का जन्म 16 Aug 1968 में हरियाणा के हिसार क्षेत्र में हुआ था। शुरू से ही अरविंद एक...

हैरिस सुल्तान: जानिए आखिर क्यों उन्होंने इस्लाम को छोड़ा|

आज हम बात करेंगे एक ऐसे व्यक्ति के बारे में, जिनका मुस्लिम धर्म से संबंध होने के बावजूद उन्होंने अपने धर्म को...

मंदाकिनी का प्राकृतिक स्वरूप संकट में!

By : संदीप पौराणिक भगवान राम के वनवास के काल या चित्रकूट की बात हो और मंदाकिनी नदी का...

डब्ल्यूएचओ विशेषज्ञ ने कोविड-19 की मानव निर्मित उत्पत्ति को खारिज किया

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) (WHO) के रूसी वायरोलॉजिस्ट और विशेषज्ञ दिमित्री लवोव ने कहा कि कोविड-19 की कृत्रिम उत्पत्ति पर चिंता का...

Transparency Web Series: क्या था India Against Corruption?

1977 की क्रांति के बाद से देश ने दुबारा वैसा उत्साह या संघर्ष नहीं देखा था। एक व्यवस्था थी, जो चलती आ...

“हिन्दी पत्रकारिता दिवस 2021”

पूरे विश्व में पत्रकार और मीडिया जगत के लोगों को जनता की आवाज माना जाता है। देश - दुनिया की खबरों को...

चक्रवातों के नाम कैसे रखे जाते हैं?

मौसम विभाग ने अलर्ट जारी किया था कि, इस साल का पहला तूफान "ताऊते" (Taute) 16 मई तक पूर्वी मध्य अरब सागर...

बक्सवाहा जंगल सिर्फ जंगल ही नहीं बल्कि यहां जीवन का बसेरा है।

धीरे-धीरे रेगिस्तान में बदलते बुंदेलखंड (Bundelkhand) के छतरपुर जिले का बक्स्वाहा (Buxwaha forest) क्षेत्र का हरा-भरा जंगल इस इलाके की पहचान है,...

Transparency Web Series : स्वराज से लेकर भ्रष्टाचार तक का सफर(भाग-2)

राजनीति एक ऐसा विज्ञान होता है, जो राज्य एवं उसके नागरिकों को कल्याण की भावना सिखाता है। लेकिन आज राजनीति का स्वरूप...

Most Read

अरुणाचलेश्वर मंदिर: विश्व भर में भगवान शिव का सबसे बड़ा मंदिर

हिन्दू धर्म ग्रंथों के अनुसार भगवान शिव को सभी देवताओं में सर्वश्रेष्ठ माना जाता है। देवों के देव महादेव ब्रह्मांड के पांच...

किसानों को होगा दोहरा लाभ , बिहार के लीची बगानों में अब होगा बकरी और मुर्गी पालन

बिहार की शाही लीची देश और विदेशों में भी चर्चित है. इस साल लीची ब्रिटेन तक पहुंच चुकी है। शाही लीची को जीआई टैग मिल चुका है।

कबड्डी को ओलंपिक खेल के रूप में मान्यता प्राप्त होते देखना अभी भी हमारा सपना है : अजय ठाकुर

खेल में हर संभव प्रयास करने के बाद अजय कबड्डी को ओलिंपिक में देखना चाहते हैं। उन्होंने अंत में कहा, "मुझे लगता है कि कबड्डी में पहले से ही राष्ट्रमंडल खेलों की तुलना में बड़ी प्रतियोगिताएं हैं।

महामारी में बड़े पैमाने पर फिल्म बनाना आसान नहीं: रंजीत तिवारी

यह फिल्म पहली बॉलीवुड परियोजना है जिसे महामारी के दौरान बायो बबल में शूट किया गया है। टीम ने राजधानी में एक भव्य ट्रेलर लॉन्च किया था।