Tuesday, December 1, 2020
Home संस्कृति बिहार में सलाखों के अंदर भी छठ मैया की गूंज

बिहार में सलाखों के अंदर भी छठ मैया की गूंज

बिहार राज्य के जेल की सलाखों के अंदर भी आस्था भारी पड़ा है। जेलों में भी कैदी छठ पर्व कर रहे हैं, जिस कारण जेलों के अंदर भी माहौल भक्तिमय हो गया है।

By – मनोज पाठक

लोक आस्था के महापर्व छठ को लेकर पूरा बिहार भक्तिमय हो गया है। गांवों की पगडंडियों से लेकर शहर की सड़कों के किनारे छठ के पारंपरिक कर्णप्रिय गीत गूंज रहे हैं। इस बीच, राज्य के जेल की सलाखों के अंदर भी आस्था भारी पड़ा है। जेलों में भी कैदी छठ पर्व कर रहे हैं, जिस कारण जेलों के अंदर भी माहौल भक्तिमय हो गया है।

जेल में मुस्लिम कैदी भी इस पर्व में बढ़चढ़ कर ना केवल हिस्सा ले रहे हैं बल्कि कई स्थानों पर मुस्लिम कैदी छठ पर्व कर भी रहे हैं।

पटना के बेउर जेल में इन दिनों छठ के पारंपरिक गीत गूंज रहे हैं। जेल में इस वर्ष 39 कैदी नियम, निष्ठा और परंपरा के साथ छठ व्रत कर रहे हैं, जिसमें 18 पुरूष और 21 महिला कैदी शामिल हैं।

बेउर के सहायक जेल अधीक्षक संजय कुमार ने बताया कि छठव्रतियों के लिए जेल परिसर में जल कुंड बनाए गए हैं, जहां व्रती शुक्रवार को अस्ताचलगामी सूर्य को अघ्र्य देंगे। उन्होंने बताया कि पूजन सामग्री के साथ प्रसाद की व्यवस्था जेल प्रशासन की ओर से उपलब्ध कराया गया है।

यह भी पढ़ें – भक्तिमय बिहार की गलियों में गूंज रहे हैं छठ मईया के गीत

इधर, मोतिहारी जेल में भी छठ के गीत गाए जा रहे हैं। जेल में बंद 69 बंदियों ने जेल के अंदर विधिपूर्वक छठ पर्व के दौरान गुरुवार को खरना किया। इसमें 37 महिलाएं व 32 पुरुष बंदी शामिल हैं। जेल के अंदर अस्थायी तालाब का निर्माण कराया गया है। हिदू व मुस्लिम लोगों ने मिलकर तालाब का निर्माण किया है, जिसे सजाया भी गया है। यहां कई मुस्लिम कैदी भी छठ पर्व कर रहे हैं।

महिला व पुरुष व्रतधरियों को जेल प्रशासन द्वारा नए वस्त्र भी दिए गए हैं। मोतिहारी के जेल अधीक्षक विदु कुमार ने बताया कि जेल प्रशासन द्वारा महिला व पुरुष बंदियों के लिए फल के अलावा पूजन सामग्री व वस्त्र की व्यवस्था की गई है। उन्होंने बताया कि अन्य कैदी इन व्रतधारियों की मदद में जुटे हैं।

Chhath Puja छठ पूजा
छठ पूजा। (Wikimedia Commons)

मुंगेर में भी भक्तिभाव का माहौल है। यहां छह कैदी छठ व्रत कर रहे हैं जो शुक्रवार की शाम डूबते सूर्य को अघ्र्य अर्पित करेंगे। जेल प्रशासन द्वारा छठ व्रतियों को पूजन सामग्री सहित सभी सुविधा उपलब्ध कराई गई है। गुरुवार को इन सभी कैदियांे ने खरना का व्रत रखा। व्रती कैदियों ने नहाय खाय और खरना का प्रसाद जेल में बंद अन्य कैदियों और मंडल कारा के पुलिस कर्मियांे के बीच वितरित किया।

जेल अधीक्षक जलज कुमार ने बताया, मंडल कारा के महिला वार्ड की कैदी नीलम देवी, गीता देवी, शांति देवी व रुक्मणि देवी और पुरुष वार्ड में बंद अजीत चौधरी व विक्की जायसवाल नामक कैदी छठ पर्व कर रहें हैं।

यह भी पढ़ें – ‘बिहार चुनाव’- मतदाताओं की राजनीतिक समझ का धोबीपाट

इधर, गोपालगंज जेल में भी 20 महिलाएं और 5 पुरुष बंदी छठ पूजा कर रहे हैं। जेल प्रशासन द्वारा सूप व डाला के लिए फल व पूजन सामग्री के साथ छठ व्रती महिला एवं पुरूष बंदी को साड़ी, धोती, गंजी भी दिया गया है।

जेल परिसर स्थित तालाब की साफ सफाई कराई गई, जहां व्रतधाारियों को भगवान भास्कर के अघ्र्य देने की व्यवस्था की गई है।

चार दिनों के इस पर्व की बुधवार को नहाय-खाय के साथ विधिवत शुरूआत हो गई। गुरुवार को व्रत करने वाले खीर-रोटी का भोग लगाकर खरना किया। शुक्रवार को अस्ताचलगामी सूर्य व शनिवार को उदीयमान भगवान भास्कर को अघ्र्य देने के बाद पारण के साथ महापर्व छठ पर्व संपन्न हो जाएगा। (आईएएनएस)

POST AUTHOR

न्यूज़ग्राम डेस्क
संवाददाता, न्यूज़ग्राम हिन्दी

जुड़े रहें

6,018FansLike
0FollowersFollow
174FollowersFollow

सबसे लोकप्रिय

धर्म निरपेक्षता के नाम पर हिन्दुओ को सालों से बेवकूफ़ बनाया गया है: मारिया वर्थ

यह आर्टिक्ल मारिया वर्थ के ब्लॉग पर छपे अंग्रेज़ी लेख के मुख्य अंशों का हिन्दी अनुवाद है।

विज्ञापनों पर पानी की तरह पैसे बहा रही केजरीवाल सरकार, कपिल मिश्रा ने लगाया आरोप

पिछले 3 महीनों से भारत, कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहा है। इन बीते तीन महीनों में, हम लगातार राज्य सरकारों की...

भारत का इमरान को करारा जवाब, दिखाया आईना

भारत ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान द्वारा संयुक्त राष्ट्र महासभा में दिए गए भाषण पर आईना दिखाते हुए करारा जवाब दिया...

गाय के चमड़े को रक्षाबंधन से जोड़ने कि कोशिश में था PETA इंडिया, विरोध होने पर साँप से की लेखक शेफाली वैद्य कि तुलना

आज ट्वीटर पर मचे एक बवाल में PETA इंडिया का हिन्दू घृणा खुल कर सबके सामने आ गया है। ये बात...

क्या अमनातुल्लाह खान द्वारा लिया गया ‘दान’, दंगों में खर्च हुए पैसों की रिकवरी थी? बड़ा सवाल!

फरवरी महीने में हुए दिल दहला देने वाले हिन्दू विरोधी दंगों को लेकर दिल्ली पुलिस आक्रमक रूप से लगातार कार्यवाही कर रही...

जब इन्दिरा गांधी ने प्रोटोकॉल तोड़ मुग़ल आक्रमणकारी बाबर को दी थी श्रद्धांजलि

ये बात तब की है जब इन्दिरा गांधी भारत की प्रधानमंत्री हुआ करती थी। वर्ष 1969 में इन्दिरा गांधी काबुल, अफ़ग़ानिस्तान के...

दिल्ली दंगा करवाने में ‘आप’ पार्षद ताहिर हुसैन ने खर्च किए 1.3 करोड़ रूपए: चार्जशीट

इस साल फरवरी में हुए हिन्दू विरोधी दिल्ली दंगों को लेकर आज दिल्ली पुलिस ने कड़कड़डूमा कोर्ट में चार्ज शीट दाखिल किया।...

रियाज़ नाइकू को ‘शिक्षक’ बताने वाले मीडिया संस्थानो के ‘आतंकी सोच’ का पूरा सच

कौन है रियाज़ नायकू? कश्मीर के आतंकवादी संगठन हिजबुल मुजाहिद्दीन का आतंकी कमांडर बुरहान वाणी 2016 में ...

हाल की टिप्पणी