Wednesday, June 16, 2021
Home टेक्नोलॉजी 5जी तकनीक के मामले में चीन दे रहा है दुनिया को बड़ी...

5जी तकनीक के मामले में चीन दे रहा है दुनिया को बड़ी टक्कर

चीन 5जी तकनीक के क्षेत्र में बहुत बड़े स्तर पर काम कर रहा है। जुलाई महीने के आखिर तक चीन में 5 जी यूजर्स की संख्या 88 मिलियन पहुंच चुकी है।

कुछ देशों की चिंताओं के बावजूद चीन में 5 जी तकनीक पर तेजी से काम हो रहा है। चीन सरकार का ध्यान न्यू इंफ्रास्ट्रक्चर को मजबूती देने पर लगा हुआ है। 5 जी के क्षेत्र में चीन वैश्विक लीडर की भूमिका में है, इस बात को नकारा नहीं जा सकता है। चीन सरकार के आंकड़ों की मानें तो जून के महीने तक देश में चार लाख दस हजार से ज्यादा 5जी बेस स्टेशनों का निर्माण हो चुका है।

वहीं करीब 2 लाख 57 हजार स्टेशन हाल के महीनों में स्थापित किए गए हैं। इसके साथ ही चीन 5जी के तहत स्मार्ट हेल्थकेयर, उद्यमों के लिए वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क, स्मार्ट ग्रिड, वाहन-सड़क समन्वय प्रणाली और वाहनों में इंटरनेट का दायरा बढ़ाने के लिए विशेष जोर दे रहा है।

चीन में 5 जी तकनीक पर तेजी से काम हो रहा है। (Image – pixabay)

बताया जा रहा है कि चीन में हर हफ्ते लगभग 20 हजार नए 5 जी बेस स्टेशन बनाए जा रहे हैं। इसके साथ ही 5जी नेटवर्क की कवरेज को और अधिक विस्तारित किया जाना है। चीन का लक्ष्य इस साल के आखिर तक देश में लगभग साढ़े सात लाख से आठ लाख बेस स्टेशनों की स्थापना करने पर है।

जानकार कहते हैं कि चीन साल 2025 तक 5जी नेटवर्क के निर्माण में 173 बिलियन डॉलर खर्च कर सकता है। जो दुनिया के लिए एक और आश्चर्य होगा।

यह भी पढ़ें- जानिए फेसबुक हानिकारक कंटेंट का कैसे पता लगाता है.

चीन ने पिछले कुछ समय से 5 जी तकनीक के विकास पर पूरा ध्यान दिया है। क्योंकि आज के दौर में तकनीक के बिना आगे नहीं बढ़ा जा सकता है। चीन ने तकनीक के महत्व को बखूबी समझा और इस दिशा में तेजी से काम किया है।

5जी तकनीक का सांकेतिक चित्र। (Image – pixabay)

5जी तकनीक की बात करें तो यह वीडियो कान्फ्रेंसिंग, ऑनलाइन मेडिकल परामर्श, दूरस्थ शिक्षा, शार्ट वीडियो, लाइवस्ट्रीमिंग इवेंट्स और गेम्स आदि के इस्तेमाल में क्रांतिकारी परिवर्तन ला सकती है।

हाल ही में चीन के उद्योग व सूचना प्रौद्योगिकी मामलों के उप-मंत्री शिन कुओपिन ने कहा कि चीन के 5 जी बेस स्टेशनों का रोलआउट उम्मीदों से अधिक हो चुका है। जुलाई महीने के आखिर तक चीन में 5 जी यूजर्स की संख्या 88 मिलियन पहुंच चुकी है। ये ऐसे उपभोक्ता हैं, जिनके मोबाइल वायरलेस नेटवर्क से जुड़े हुए हैं।

कहा जा सकता है कि चीनी कंपनियां विश्व में इस तकनीक के जरिए अपना लोहा मनवाने के लिए तैयार दिख रही हैं।(IANS)

SourceIANS

POST AUTHOR

न्यूज़ग्राम डेस्क
संवाददाता, न्यूज़ग्राम हिन्दी

जुड़े रहें

7,623FansLike
0FollowersFollow
177FollowersFollow

सबसे लोकप्रिय

धर्म निरपेक्षता के नाम पर हिन्दुओ को सालों से बेवकूफ़ बनाया गया है: मारिया वर्थ

यह आर्टिक्ल मारिया वर्थ के ब्लॉग पर छपे अंग्रेज़ी लेख के मुख्य अंशों का हिन्दी अनुवाद है।

विज्ञापनों पर पानी की तरह पैसे बहा रही केजरीवाल सरकार, कपिल मिश्रा ने लगाया आरोप

पिछले 3 महीनों से भारत, कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहा है। इन बीते तीन महीनों में, हम लगातार राज्य सरकारों की...

भारत का इमरान को करारा जवाब, दिखाया आईना

भारत ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान द्वारा संयुक्त राष्ट्र महासभा में दिए गए भाषण पर आईना दिखाते हुए करारा जवाब दिया...

जब इन्दिरा गांधी ने प्रोटोकॉल तोड़ मुग़ल आक्रमणकारी बाबर को दी थी श्रद्धांजलि

ये बात तब की है जब इन्दिरा गांधी भारत की प्रधानमंत्री हुआ करती थी। वर्ष 1969 में इन्दिरा गांधी काबुल, अफ़ग़ानिस्तान के...

दिल्ली की कोशिश पूरे 40 ओवर शानदार खेल खेलने की : कैरी

 दिल्ली कैपिटल्स के विकेटकीपर एलेक्स कैरी ने कहा है कि टीम के लिए यह समय है टूर्नामेंट में दोबारा शुरुआत करने का।...

गाय के चमड़े को रक्षाबंधन से जोड़ने कि कोशिश में था PETA इंडिया, विरोध होने पर साँप से की लेखक शेफाली वैद्य कि तुलना

आज ट्वीटर पर मचे एक बवाल में PETA इंडिया का हिन्दू घृणा खुल कर सबके सामने आ गया है। ये बात...

दिल्ली दंगा करवाने में ‘आप’ पार्षद ताहिर हुसैन ने खर्च किए 1.3 करोड़ रूपए: चार्जशीट

इस साल फरवरी में हुए हिन्दू विरोधी दिल्ली दंगों को लेकर आज दिल्ली पुलिस ने कड़कड़डूमा कोर्ट में चार्ज शीट दाखिल किया।...

क्या अमनातुल्लाह खान द्वारा लिया गया ‘दान’, दंगों में खर्च हुए पैसों की रिकवरी थी? बड़ा सवाल!

फरवरी महीने में हुए दिल दहला देने वाले हिन्दू विरोधी दंगों को लेकर दिल्ली पुलिस आक्रमक रूप से लगातार कार्यवाही कर रही...

हाल की टिप्पणी