Saturday, June 12, 2021
Home व्यवसाय उपभोक्ता बाजार में पहली तिमाही में रिकॉर्ड बढ़ोतरी

उपभोक्ता बाजार में पहली तिमाही में रिकॉर्ड बढ़ोतरी

घर से काम करने और रिमोट लर्निंग के कारण पीसी की बढ़ती प्रासंगिकता के लिए आंतरिक एसएसडी बाजार में बढ़ोतरी को काफी हद तक जिम्मेदार ठहराया गया है।

उपभोक्ता आंतरिक एसएसडी बाजार शिपमेंट ने 2021 की पहली तिमाही में 34 प्रतिशत की बढ़ोतरी (तिमाही पर तिमाही) दर्ज की। वार्षिक आधार पर, समग्र बाजार ने वित्तीय वर्ष की पहली तिमाही में 172 प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्ज की। इसकी जानकारी मंगलवार को एक रिपोर्ट के जरिये सामने आई। मार्केट रिसर्च फर्म सीएमआर की ‘इंडिया हार्ड ड्राइव मार्केट रिव्यू फॉर क्यू1 सीवाई2021’ के अनुसार, पीसीआई/एनवीएमई एसएसडी शिपमेंट्स ने छोटे आधार पर 433 फीसदी (वर्ष-दर-वर्ष) बढ़ोतरी दर्ज की, जबकि पोर्टेबल एसएसडी मार्केट शिपमेंट्स में साल की पहली तिमाही में 64 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई।

समग्र उपभोक्ता आंतरिक एसएसडी बाजार में, डब्ल्यूडी ने 14 प्रतिशत की बाजार हिस्सेदारी पर कब्जा किया, उसके बाद एडाटा ने 13 प्रतिशत और क्रूसियल ने 12 प्रतिशत हिस्सेदारी के साथ तीसरे स्थान पर है।

विश्लेषक, उद्योग खुफिया समूह (आईआईजी), सीएमआर की शिप्रा सिन्हा ने कहा, “घर से काम करने और रिमोट लनिर्ंग के कारण पीसी की बढ़ती प्रासंगिकता के लिए आंतरिक एसएसडी बाजार में बढ़ोतरी को काफी हद तक जिम्मेदार ठहराया गया है। पारंपरिक एचडीडी पर एसएसडी की सर्वोच्च विशेषताओं के बारे में जागरूकता बढ़ने से अतिरिक्त बढ़ावा मिला है।”

सिन्हा ने कहा, “एसएसडी के प्रति उपभोक्ताओं का झुकाव स्पष्ट रूप से पर्याप्त विकास के अवसर दे रहा था। कम जानने वाले ब्रांडों द्वारा एक महत्वपूर्ण योगदान देखा गया, जिससे समग्र आंतरिक एसएसडी आधार बढ़ गया।”

बाहरी एसएसडी बाजार में, सैमसंग 51 प्रतिशत बाजार हिस्सेदारी के साथ शीर्ष स्थान पर रहा और उसके बाद डब्ल्यूडी 41 प्रतिशत पर रहा।

Indian market SSD Market
सैमसंग 51 प्रतिशत बाजार हिस्सेदारी के साथ शीर्ष स्थान पर रहा।(Pixabay)

डब्ल्यूडी शिपमेंट में साल-दर-साल 32 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई, जबकि सैमसंग के शिपमेंट में सालाना आधार पर 109 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई।

सीएमआर रिपोर्ट में कहा गया है कि सीगेट ने 6 फीसदी बाजार हिस्सेदारी के साथ तीसरा स्थान हासिल किया।

यह भी पढ़ें: कोविड के कहर की वापसी से वित्तवर्ष 2022 का आईपीओ सीजन प्रभावित होगा

सीएमआर का अनुमान है कि एसएसडी अपनाने और पैठ बढ़ने के कारण सीवाई 2021 के आखिर तक आंतरिक एसएसडी बाजार 25-30 प्रतिशत (वर्ष-दर-वर्ष) बढ़ेगा, जिससे यह एक मुख्यधारा का उत्पाद बन जाएगा।

पोर्टेबल एसएसडी के भी छोटे आधार पर सालाना 50 फीसदी बढ़ने की उम्मीद है।

सिन्हा ने कहा, “डेटा में लगातार बढ़ोतरी और डेटा प्रबंधन में बढ़ती जटिलता पोर्टेबल एसएसडी भविष्य के विकास को बढ़ावा देगी।”(आईएएनएस-SHM)

(देश और दुनिया की महत्वपूर्ण खबरों की अपडेट के लिए न्यूज़ग्राम हिन्दी के सोशल मीडिया पेज को लाइक और फॉलो करें! Facebook and Twitter)

POST AUTHOR

न्यूज़ग्राम डेस्क
संवाददाता, न्यूज़ग्राम हिन्दी

जुड़े रहें

7,623FansLike
0FollowersFollow
177FollowersFollow

सबसे लोकप्रिय

धर्म निरपेक्षता के नाम पर हिन्दुओ को सालों से बेवकूफ़ बनाया गया है: मारिया वर्थ

यह आर्टिक्ल मारिया वर्थ के ब्लॉग पर छपे अंग्रेज़ी लेख के मुख्य अंशों का हिन्दी अनुवाद है।

विज्ञापनों पर पानी की तरह पैसे बहा रही केजरीवाल सरकार, कपिल मिश्रा ने लगाया आरोप

पिछले 3 महीनों से भारत, कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहा है। इन बीते तीन महीनों में, हम लगातार राज्य सरकारों की...

भारत का इमरान को करारा जवाब, दिखाया आईना

भारत ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान द्वारा संयुक्त राष्ट्र महासभा में दिए गए भाषण पर आईना दिखाते हुए करारा जवाब दिया...

जब इन्दिरा गांधी ने प्रोटोकॉल तोड़ मुग़ल आक्रमणकारी बाबर को दी थी श्रद्धांजलि

ये बात तब की है जब इन्दिरा गांधी भारत की प्रधानमंत्री हुआ करती थी। वर्ष 1969 में इन्दिरा गांधी काबुल, अफ़ग़ानिस्तान के...

दिल्ली की कोशिश पूरे 40 ओवर शानदार खेल खेलने की : कैरी

 दिल्ली कैपिटल्स के विकेटकीपर एलेक्स कैरी ने कहा है कि टीम के लिए यह समय है टूर्नामेंट में दोबारा शुरुआत करने का।...

गाय के चमड़े को रक्षाबंधन से जोड़ने कि कोशिश में था PETA इंडिया, विरोध होने पर साँप से की लेखक शेफाली वैद्य कि तुलना

आज ट्वीटर पर मचे एक बवाल में PETA इंडिया का हिन्दू घृणा खुल कर सबके सामने आ गया है। ये बात...

दिल्ली दंगा करवाने में ‘आप’ पार्षद ताहिर हुसैन ने खर्च किए 1.3 करोड़ रूपए: चार्जशीट

इस साल फरवरी में हुए हिन्दू विरोधी दिल्ली दंगों को लेकर आज दिल्ली पुलिस ने कड़कड़डूमा कोर्ट में चार्ज शीट दाखिल किया।...

क्या अमनातुल्लाह खान द्वारा लिया गया ‘दान’, दंगों में खर्च हुए पैसों की रिकवरी थी? बड़ा सवाल!

फरवरी महीने में हुए दिल दहला देने वाले हिन्दू विरोधी दंगों को लेकर दिल्ली पुलिस आक्रमक रूप से लगातार कार्यवाही कर रही...

हाल की टिप्पणी