DSEU अब झुग्गी झोपड़ी के बच्चों को देगी एडमिशन

DSEU लाइटहाउस के जरिए दिल्ली में निम्न आय वर्ग के स्टूडेंट्स को जॉब ओरिएंटेड शानदार स्किल एजुकेशन दी जाएगी।
DSEU अब झुग्गी झोपड़ी के बच्चों को देगी एडमिशन
DSEU अब झुग्गी झोपड़ी के बच्चों को देगी एडमिशनDlehi Dy. CM Manish Sisodia (IANS)

दिल्ली के युवाओं की अपस्किलिंग के लिए दूसरे DSEU लाइटहाउस की शुरूआत की गई है। बुधवार को शुरू किए गए DSEU लाइटहाउस के जरिए दिल्ली में निम्न आय वर्ग के स्टूडेंट्स को जॉब ओरिएंटेड शानदार स्किल एजुकेशन दी जाएगी। दिल्ली स्किल एंड एंत्रप्रेन्योरशिप यूनिवर्सिटी का यह लाइटहाउस 18-30 वर्ष की आयु के बीच के युवाओं के लिए हाई-क्वालिटी वाले शार्ट-टर्म वोकेशनल स्किल कोर्स के साथ-साथ रोजगार के अवसर प्रदान करेगा।

दिल्ली सरकार के मुताबिक दिल्ली स्किल एंड एंटरप्रेन्योरशिप यूनिवर्सिटी (DSEU) देश की पहली यूनिवर्सिटी है, जो युवाओं के घरों तक पहुंच कर उन्हें एडमिशन दे रही है और कम आय वर्ग के क्षेत्रों में जाकर युवाओं को कौशल से लैस कर रही है।

दिल्ली के शिक्षामंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि कोरोना के बाद देशभर में करोड़ों लोगों ने अपनी नौकरियां गवाई है। दिल्ली में भी युवाओं को नौकरियों की जरुरत है इसको देखते हुए दिल्ली के युवाओं को वल्र्ड-क्लास स्किल, प्रोफेशनल डेवलपमेंट व जॉब ओरिएंटेड स्किल्स देना जरुरी है। मलकागंज का यह लाइटहाउस इसी दिशा में काम करेगा। उन्होंने कहा कि आज ग्रेजुएशन करने के बाद भी युवा जॉब्स के लिए भटकते रहते हैं, लेकिन इस कोर्स के बाद कंपनी खुद आकर युवाओं को जॉब देगी।

उन्होंने बताया कि दिल्ली सरकार ने ऐसा अनूठा प्रोग्राम बनाया है जहां दिल्ली स्किल एंड एंत्रप्रेन्योरशिप यूनिवर्सिटी झुग्गी-झोपडी में जाकर वहां के बच्चों को एडमिशन देगी। ये देश के इतिहास में पहली बार होगा जब एडमिशन लेने के लिए बच्चे यूनिवर्सिटी नहीं जाएंगे बल्कि यूनिवर्सिटी खुद बच्चों के पास जाकर उन्हें एडमिशन देगी।

DSEU लाइटहाउस मलकगंज में स्टेट-ऑफ-आर्ट सुविधाओं से लैस 8 ट्रेनिंग रूम शामिल है। इसमें 2 ओपन क्लासरूम, एक रिटेल-कोर्स क्लास, मेकअप स्किल क्लास, साथ-साथ, काउंसलिंग रूम, विडियो-कांफ्रेंसिंग रूम, सेल्फ-लीर्निंग स्पेस व 20 कंप्यूटर व इंटरनेट से लैस एल टेक-हब शामिल होगा। गौरतलब है कि डीएसईयू लाइटहाउस की स्थापना लाइटहाउस कम्युनिटी फाउंडेशन और माइकल एंड सुसान डेल फाउंडेशन के सहयोग से की जा रही है।

यहां भी पढे़े़ :

DSEU अब झुग्गी झोपड़ी के बच्चों को देगी एडमिशन
महिला टैक्सी ड्राइवर ट्रेनिंग का आधा खर्च उठाएगी दिल्ली सरकार

इस अवसर DSEU की वाईस चांसलर, प्रो. (डॉ.) नेहारिका वोहरा ने कहा, दिल्ली के युवाओं में स्किल्स डेवलपमेंट के विजन को ध्यान में रखते हुए यह प्रोजेक्ट सीखने के स्थानों को स्टूडेंट्स के घरों के करीब लाकर हमें वंचित समुदायों तक पहुंचने में मदद करेगा। उन्होंने आगे कहा, इन शार्ट-टर्म कोर्सेज में एनरोल होने वाले युवाओं को DSEU लाइटहाउस से सर्टिफिकेशन और प्लेसमेंट के अवसर प्राप्त होंगे। उन्होंने कहा कि हम इंडस्ट्री व ट्रेनिंग पार्टनर्स के साथ मिलकर युवाओं के लिए नए और बेहतर कोर्सेज की शुरूआत करेंगे ताकि DSEU लाइटहाउस और उसके आसपास के समुदाय इस अवसर का अधिकतम लाभ उठा सकें।

(आईएएनएस/AV)

Related Stories

No stories found.
hindi.newsgram.com