अमेरिका ने 200 वर्षों तक भारत पर शासन किया : उत्तराखंड सीएम तीरथ सिंह रावत

मुख्यमंत्री का कार्यभार संभालने के एक पखवाड़े के भीतर ही उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने एक और अजीबो-गरीब बयान दे दिया है। अब उन्होंने कहा है कि "संयुक्त राज्य अमेरिका ने 200 सालों तक भारत पर शासन किया।"
 | 
उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत । ( Twitter  )
मुख्यमंत्री का कार्यभार संभालने के एक पखवाड़े के भीतर ही उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने एक और अजीबो-गरीब बयान दे दिया है। अब उन्होंने कहा है कि "संयुक्त राज्य अमेरिका ने 200 सालों तक भारत पर शासन किया।" एक हफ्ते में उनकी यह तीसरी ऐसी टिप्पणी है जिसके लिए उन्हें ट्रोल किया जा रहा है। इससे पहले, रावत को रिप्ड जींस पर अपनी टिप्पणी और भगवान राम से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बराबरी करने के लिए ट्रोल किया गया था।

अमेरिका के भारत पर शासन करने की अपनी टिप्पणी में रावत ने कहा, "कौन जानता है कि भारत में उस वक्त क्या हुआ होगा, उस समय नरेंद्र मोदी के बजाय कोई और प्रधानमंत्री था। हम बहुत बुरी स्थिति में थे। लेकिन प्रधानमंत्री ने हमें राहत दी है।"

उन्होंने आगे कहा, "अन्य देशों की तुलना में भारत कोविड-19 संकट से बेहतर तरीके से निपट रहा है। हम पर 200 साल तक राज करने वाला अमेरिका, जिसने दुनिया पर भी राज किया, वह इस महामारी के कारण बुरी तरह संघर्ष कर रहा है। अमेरिका में 3.75 लाख से ज्यादा लोग मारे गए हैं। दुनिया की सबसे अच्छी स्वास्थ्य सुविधाओं वाले इटली में फिर से लॉकडाउन लगने जा रहा है।"

रावत ने आगे कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने हमें बचाने के लिए बहुत काम किया और लोगों ने भी उनके मास्क पहनने, स्वच्छता रखने, हाथ धोने और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के निर्देशों को मन से माना।

 
यह भी पढ़ें : जानें, कौन हैं तीरथ सिंह रावत?

तीरथ के यह बयान देते ही विभिन्न पार्टियों ने उन पर हमले करने शुरू कर दिए। कांग्रेस पार्टी कार्यालय ने ट्वीट कर कहा, "एक और भाजपा नेता ने हमें गुणवत्तापूर्ण शिक्षा की कीमत का अहसास करा दिया है।" वहीं समाजवादी पार्टी की नेता जूही सिंह ने पूछा, "अमेरिका ने 200 सालों तक भारत पर शासन किया? कब?।"

बता दें कि 10 मार्च को मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद रावत ने रिप्ड जीन्स को लेकर जो टिप्पणी की उसे लेकर उन्हें सोशल मीडिया पर अब भी बुरी तरह से ट्रोल किया जा रहा है। टिप्पणी के विरोध में सोशल मीडिया पर हर उम्र की लड़कियां और महिलाओं की रिप्ड जीन्स में फोटो की बाढ़ आ गई है। ( AK आईएएनएस )