CBSE स्कूलों के लिए 100 से अधिक ग्राफिक कॉमिक पुस्तकें

CBSE स्कूलों के लिए 100 से अधिक ग्राफिक कॉमिक पुस्तकें

केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल 'निशंक' ने सीबीएसई  ( CBSE ) स्कूलों के शिक्षकों और छात्रों द्वारा बनाई गई 100 से अधिक कॉमिक पुस्तकें लॉन्च कीं। इन कॉमिक्स को दीक्षा वेब पोर्टल पर ऑनलाइन एक्सेस किया जा सकता है। एनसीईआरटी ( NCERT ) द्वारा इन कॉमिक्स को स्वीकृति दी गई है। किसी भी स्मार्ट फोन पर दीक्षा ऐप के माध्यम से भी कॉमिक्स को एक्सेस किया जा सकता है। इसके अलावा व्हाट्सएप संचालित चैटबोट के माध्यम से भी इन्हे एक्सेस किया जा सकता है। चैटबोट डिजिटल सीखने के दायरे का विस्तार करने के लिए एक अनूठा अवसर प्रस्तुत करता है।

इस दौरान, केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल 'निशंक' ने सीबीएसई आधारित शिक्षा परियोजना के भाग के रूप में विज्ञान, गणित और अंग्रेजी कक्षाओं के लिए सीबीएसई मूल्यांकन फ्रेमवर्क भी लॉन्च किया।

इस अवसर पर निशंक ने कहा कि स्कूल शिक्षा और साक्षरता विभाग ने छात्रों को समग्र शिक्षा प्रदान करने के लिए नई शिक्षा नीति 2020 में परिकल्पित ²ष्टि की शुरूआत की है। इस प्रयास में एनसीईआरटी  ( NCERT )  पाठ्य पुस्तकों के अध्यायों से जुड़ी कॉमिक पुस्तकें लॉन्च की गई हैं।
 

उन्होंने आगे कहा कि यह अभिनव पहल ज्ञान प्रदान करते हुए हमारे बच्चों में सांस्कृतिक और सामाजिक संवेदनशीलता को बढ़ाने में मदद करेगी। मंत्री ने रचनात्मक और अभिनव शिक्षकों को विभिन्न स्कूलों से और इस रचनात्मक कार्य के लिए बधाई दी।

इन कॉमिक्स में कक्षा 3 से कक्षा 12 तक के 12 विषयों को सम्मिलित किया गया है। इन शैक्षणिक सामग्री का पुन निर्माण करते समय अन्य जीवन कौशलों के साथ-साथ लैंगिक संवेदनशीलता, महिला सशक्तिकरण, नैतिक शिक्षा की बारीकियों को जोड़ने पर भी ध्यान दिया गया है।

केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल 'निशंक' ने इससे पहले भी 13 राज्यों के केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के 50 स्कूलों द्वारा 120 ग्राफिक कॉमिक्स का विमोचन किया था। ( AK आईएएनएस )
 

Related Stories

No stories found.