Never miss a story

Get subscribed to our newsletter


×
देश

'बबुआ' नोटबंदी का विरोध क्यों करते थे, अब जनता समझ रही है : योगी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को प्रतापगढ़ में जनविश्वास यात्रा को सम्बोधित करते हुए समाजवादी पार्टी पर जमकर निशाना साधा।

योगी आदित्यनाथ, मुख्यमंत्री, उत्तर प्रदेश (Image: Yogi Adityanath, Twitter)

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने सोमवार को प्रतापगढ़ में जनविश्वास यात्रा को सम्बोधित करते हुए समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) पर जमकर निशाना साधा। सपा के मुखिया अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) पर तंज कसते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि आज पैसा दीवारों से निकल रहा है, कमरे नोटों से भरे पड़े हैं। अब जनता को समझ में आ रहा होगा कि बबुआ नोटबंदी (Demonetisation) का विरोध क्यों करता था।

योगी ने इस दौरान यहां 554 करोड़ रुपये की 378 परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया। साथ ही विपक्ष पर कटाक्ष करते हुए सवाल किया कि कांग्रेस, सपा, बसपा की सरकारों ने देश-प्रदेश में पांच दशक तक शासन किया, लेकिन प्रतापगढ़ में मेडिकल कालेज (Medical College) क्यों नहीं बनाया।

मुख्यमंत्री (Yogi Adityanath) ने राजनैतिक पार्टियों में परिवारवाद की आलोचना करते हुए कहा कि एक पार्टी है भाई-बहन की, एक चाचा-भतीजे की और एक है बुआ-भतीजे की। यानी यह लोग वंशवाद-परिवारवाद को राजनीति से अलग नहीं कर पा रहे हैं। अगर आगे सत्ता के लिए चाचा-भतीजे में मारपीट होती है तो प्रदेश का हाल क्या होगा।


कोरोना (Covid-19) महामारी का जिक्र करते हुए योगी ने कहा कि कोरोना के दौरान सपा के नेता कहीं दिखाई दिए। वह तो गरीबों के राशन को हड़प कर ले जाते थे। सपा, बसपा और कांग्रेस यह सब आपके संकट के समय नहीं थे।

योगी (Yogi Adityanath) ने आगे कहा कि नोटबंदी का बबुआ विरोध कर रहे थे। इस अवैध कमाई का पैसा कभी न कभी तो निकलता ही निकलता। लेकिन गरीबों की हाय बहुत तेजी से लगती है, तभी तो यह पैसा बाहर आ पाया। हमारी सरकार प्रतापगढ़ के 120 गांवों में पेयजल स्कीम लागू कर रही है। अब इन गांवों की बहन-बेटियों और बहुओं को पानी के लिए बाहर नहीं जाना पड़ेगा। हमारी सरकार यही योजना प्रदेश के 50 हजार गांवों में लागू करने जा रही है। कोरोना काल के 22 महीने होने जा रहे हैं, इनमें से यह सब 20 महीने से गायब थे। विपत्ति के समय यह सब होम क्वारंटीन थे। अब इन्हें राजनीति से क्वारंटीन करने का समय आ गया है। वहीं हमारी सरकार आपके साथ खड़ी रही। ऐसे में जो विपत्ति के समय साथ दे तो सुख के समय में आपको उसके साथ रहना चाहिए।

उन्होंने कहा कि हमारी सरकार की बनाई वैक्सीन (Covid Vaccine) जरूर लगवाएं। क्योंकि जैसे हमारी सरकार दंगाइयों को पास नहीं भटकने दे रही है, उसी तरह यह वैक्सीन भी कोरोना को पास नहीं भटकने देगी।

यह भी पढ़ें : अयोध्या को जल्द ही जल मार्ग से जोड़ेगी योगी सरकार

अपनी सरकार द्वारा किये गए कामों का बखान करते हुए मुख्यमंत्री (Yogi Adityanath) ने कहा कि अगर सोच ईमानदार होती है तो काम दमदार दिखाई देता है। हमारी सरकार के सभी लोग जनविश्वास यात्रा को लेकर आपके पास आए हैं। आपका साथ रहेगा तो कमल ही खिलेगा, क्योंकि कमल ही कल्याण का कारक बनेगा। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि पहले की सरकारों के मन में गरीबों, विधवा महिलाओं, बेटियों के लिए कोई जगह नहीं थी, केवल वोटबैंक की राजनीति करते थे। (आईएएनएस)

Input: IANS ; Edited By: Manisha Singh

न्यूज़ग्राम के साथ Facebook, Twitter और Instagram पर भी जुड़ें!

Popular

5 राज्यों के विधानसभा चुनावों की तारीख़ की घोषणा के बाद कार्यकर्तओं के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पहला सवांद कार्यक्रम (Wikimedia Commons)


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए अपने संसदीय क्षेत्र वारणशी के भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के बूथ स्तर के कार्यकर्ताओं से बातचीत की। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भाजपा कार्यकर्ताओं से बात करते हुए कहा कि "उन्हें किसानों को रसायन मुक्त उर्वरकों के उपयोग के बारे में जागरूक करना चाहिए।"

नमो ऐप के जरिए प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने भाजपा के बूथ स्तर के कार्यकर्ताओं से बातचीत के दौरान बताया कि नमो ऐप में 'कमल पुष्प" नाम से एक बहुत ही उपयोगी एवं दिलचस्प सेक्शन है जो आपको प्रेरक पार्टी कार्यकर्ताओं के बारे में जानने और अपने विचारों को साझा करने का अवसर देता है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने नमो ऐप के सेक्शन 'कमल पुष्प' में लोगों को योगदान देने के लिए आग्रह किया। उन्होंने बताया की इसकी कुछ विशेषतायें पार्टी सदस्यों को प्रेरित करती है।

Keep Reading Show less

हुदा मुथाना वर्ष 2014 में आतंकवादी समूह आईएस में शामिल हुई थी। घर वापसी की उसकी अपील पर यूएस कोर्ट ने सुनवाई से इनकार कर दिया (Wikimedia Commons )

2014 में अमेरिका के अपने घर से भाग कर सीरिया के अतंकवादी समूह इस्लामिक स्टेट (आईएस) में शामिल होने वाली 27 वर्षीय हुदा मुथाना वापस अपने घर लौटने की जद्दोजहद में लगी है। हुदा मुथाना वर्ष 2014 में आतंकवादी समूह इस्लामिक स्टेट के साथ शामिल हुई साथ ही आईएस के साथ मिल कर सोशल मीडिया पर पोस्ट कर आतंकवादी हमलों की सराहना की और अन्य अमेरिकियों को आईएस में शामिल होने के लिए प्रोत्साहित किया था। हुदा मुथाना को अपने किये पर गहरा अफसोस है।

वर्ष 2019 में हुदा मुथाना के पिता ने संयुक्त राज्य अमेरिका (यूएस) के सुप्रीम कोर्ट में अमेरिका वापस लौटने के मामले पर तत्कालीन ट्रंप प्रशासन के खिलाफ मुक़द्दमा दायर किया था। संयुक्त राज्य अमेरिका (यूएस) के सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को बिना किसी टिप्पणी के हुदा मुथाना के इस मामले पर सुनवाई से इनकार कर दिया।

Keep Reading Show less

गूगल लॉन्च कर सकता है नया फोल्डेबल फोन जिसको कह सकते है "पिक्सल नोटपैड" (Pixabay)

सर्च ईंजन गूगल अपने पहले फ़ोल्डबल फ़ोन 'पिक्सल फोल्ड' को लॉन्च करने की योजना बना रही है। गूगल ने एक रिपोर्ट में दावा किया है कि इस फोल्डेबल फोन को पिक्सल नोटपैड कहा जा सकता है।
गिज्मोचाइना के रिपोर्ट के अनुसार, सिम सेटअप स्क्रीन के एनिमेशन में एक स्मार्टफोन दिखाया गया है जिसमें एक साधारण सिंगल-स्क्रीन डिजाइन नही बल्कि एक बड़ा फोल्डेबल डिस्प्ले है।

नाइन टू फाइव गूगल के अनुसार, यह डिवाइस गैलेक्सी जेड फोल्ड 3 से कम कीमत की हो सकती है। इस फोल्डेबल डिवाइस की कीमत 1,799 डॉलर हो सकती है।

Keep reading... Show less