Saturday, May 8, 2021
Home मनोरंजन चीनी ऐप TikTok को टक्कर देने आया ऐप 'DhakDhak India '

चीनी ऐप TikTok को टक्कर देने आया ऐप ‘DhakDhak India ‘

पुणे स्थित टेक स्टार्ट-अप धकधक प्राइवेट लिमिटेड ने शॉर्ट वीडियो ऐप 'धकधक- इंडिया के दिल की धड़कन' लॉन्च किया है। यह ऐप उन भारतीय कंटेंट क्रिएटर्स के लिए एक राहत लेकर आया है, जो चीनी ऐप टिकटॉक के भारत में प्रतिबंधित होने के कारण परेशान हैं।


पुणे स्थित टेक स्टार्ट-अप धकधक प्राइवेट लिमिटेड ने शॉर्ट वीडियो ऐप ‘धकधक- इंडिया के दिल की धड़कन’ लॉन्च किया है। यह ऐप उन भारतीय कंटेंट क्रिएटर्स के लिए एक राहत लेकर आया है, जो चीनी ऐप टिकटॉक के भारत में प्रतिबंधित होने के कारण परेशान हैं। धकधक ऐप टिक-टॉक का एक बेहतरीन क्वोलिटी वाला विकल्प है और देश में अब तक इसको 1 लाख से ज्यादा बार डाउनलोड किया जा चुका है। वहीं 20 हजार से ज्यादा कंटेंट क्रिएटर्स इसमें आकर्षक और मनोरंजक शॉर्ट वीडियो बना चुके हैं।

धकधक के बारे में एक खास बात यह है कि यह मनोरंजन से आगे जाकर कलाकारों और कंटेंट क्रिएटर्स को अपनी प्रतिभा दिखाने का प्लेटफॉर्म देता है। धकधक के को-फाउंडर अनिरुद्ध कोटगीर का कहना है कि कंटेंट क्रिएटर्स को थोड़े समय की प्रसिद्धि देने की बजाय धकधक एक ऐसा मॉडल लेकर आया है, जो उन्हें ग्रोथ करने और रेवेन्यू पाने का मौका देता है। यह प्लेटफॉर्म युवाओं को करियर बनाने में मदद करना चाहता है, न कि केवल ऐसी ऊंचाइयों पर ले जाना चाहता है जो अस्थायी हैं।

अनिरुद्ध कहते हैं, “हम कुछ नवोदित सितारों को रीजनल ब्रांड्स और कमर्शियल्स को प्रमोट करने का मौका दे सकते हैं। इसके अलावा हम मीडिया हाउसेस के शो और इवेंट्स के लिए आर्टिस्ट दे सकते हैं। कुल मिलाकर हम धकधक स्टार्स के लिए एक बड़ा प्लेटफॉर्म बनाना चाहते हैं, जहां से वे टीवी, शो, फिल्मों और अंतरराष्ट्रीय कार्यक्रमों के लिए भी मौके पा सकें।” 

tiktok
टिकटॉक  को टक्कर देगा भारतीय धकधक ऐप ।  (Unsplash )

यह भी पढ़ें – कोरोना काल में सेवाएं देने वाली ‘Corona Warrior ‘ नाजिरा को कोविड महिला सम्मान

धकधक के को-फाउंडर मंदार लांडे कहते हैं, “हमारे मजबूत टेक बैकग्राउंड और प्रमाणित बिजनेस मॉडल के कारण मुंबई के बिजनेस टाइकून गुरमीत सिंह ने हमारे प्रोजेक्ट में निवेश किया है। इसके अलावा कई लोकल और नेशनल ब्रांड्स भी हमारे साथ जुड़ना चाहते हैं। हम एक्टिंग, डांस के प्रोफेशनल ट्रेनर्स और स्कूलों से भी बातचीत कर रहे हैं, ताकि नवोदित कलाकारों को फॉर्मल ट्रेनिंग दे सकें। इसके लिए बॉलीवुड और रीजनल फिल्म इंडस्ट्री के प्रसिद्ध मीडिया और प्रोडक्शन हाउस हमारी सूची में शामिल हैं।”

धकधक अपने दर्शकों से भी शानदार अनुभव देने का वादा करता है। यह ऐप मनोरंजन, इन्फोटेनमेंट, विज्ञापन, क्रिएटिव कंटेंट में काम करने के तरीके में बदलाव ला रहा है। पूजा रावत, सृष्टि अम्बावले, सोनाली मल्होत्रा, अदीना अधिकारी, मेहर पांचाल और तृप्ति राणे जैसे कंटेंट क्रिएटर्स पहले से ही हमारे साथ जुड़े हुए हैं और उनके फैंस को जल्द ही उनकी विजुअल ट्रीट मिलेगी।

कंपनी ने कहा कि बाजार में कड़ी प्रतिस्पर्धा करने के लिए धकधक तैयार है। साथ ही वह शॉर्ट वीडियो ऐप स्पेस में आर्टिस्ट्स की लॉन्ग टर्म ग्रोथ का वादा भी करता होगा। इन सारी खासियतों के साथ हम दावे से कह सकते हैं कि धकधक-इंडिया के दिल की धड़कर एक ऐसा ऐप है जो मनोरंजन और वैल्यू क्रिएट करने से भी आगे है। (आईएएनएस)
 

POST AUTHOR

न्यूज़ग्राम डेस्क
संवाददाता, न्यूज़ग्राम हिन्दी

जुड़े रहें

7,640FansLike
0FollowersFollow
177FollowersFollow

सबसे लोकप्रिय

धर्म निरपेक्षता के नाम पर हिन्दुओ को सालों से बेवकूफ़ बनाया गया है: मारिया वर्थ

यह आर्टिक्ल मारिया वर्थ के ब्लॉग पर छपे अंग्रेज़ी लेख के मुख्य अंशों का हिन्दी अनुवाद है।

विज्ञापनों पर पानी की तरह पैसे बहा रही केजरीवाल सरकार, कपिल मिश्रा ने लगाया आरोप

पिछले 3 महीनों से भारत, कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहा है। इन बीते तीन महीनों में, हम लगातार राज्य सरकारों की...

भारत का इमरान को करारा जवाब, दिखाया आईना

भारत ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान द्वारा संयुक्त राष्ट्र महासभा में दिए गए भाषण पर आईना दिखाते हुए करारा जवाब दिया...

दिल्ली की कोशिश पूरे 40 ओवर शानदार खेल खेलने की : कैरी

 दिल्ली कैपिटल्स के विकेटकीपर एलेक्स कैरी ने कहा है कि टीम के लिए यह समय है टूर्नामेंट में दोबारा शुरुआत करने का।...

जब इन्दिरा गांधी ने प्रोटोकॉल तोड़ मुग़ल आक्रमणकारी बाबर को दी थी श्रद्धांजलि

ये बात तब की है जब इन्दिरा गांधी भारत की प्रधानमंत्री हुआ करती थी। वर्ष 1969 में इन्दिरा गांधी काबुल, अफ़ग़ानिस्तान के...

गाय के चमड़े को रक्षाबंधन से जोड़ने कि कोशिश में था PETA इंडिया, विरोध होने पर साँप से की लेखक शेफाली वैद्य कि तुलना

आज ट्वीटर पर मचे एक बवाल में PETA इंडिया का हिन्दू घृणा खुल कर सबके सामने आ गया है। ये बात...

दिल्ली दंगा करवाने में ‘आप’ पार्षद ताहिर हुसैन ने खर्च किए 1.3 करोड़ रूपए: चार्जशीट

इस साल फरवरी में हुए हिन्दू विरोधी दिल्ली दंगों को लेकर आज दिल्ली पुलिस ने कड़कड़डूमा कोर्ट में चार्ज शीट दाखिल किया।...

क्या अमनातुल्लाह खान द्वारा लिया गया ‘दान’, दंगों में खर्च हुए पैसों की रिकवरी थी? बड़ा सवाल!

फरवरी महीने में हुए दिल दहला देने वाले हिन्दू विरोधी दंगों को लेकर दिल्ली पुलिस आक्रमक रूप से लगातार कार्यवाही कर रही...

हाल की टिप्पणी