Never miss a story

Get subscribed to our newsletter


×
मनोरंजन

मनी लॉन्ड्रिंग मामले में पूछताछ के लिए ईडी के सामने आखिरकार पेश हुईं रिया

सुशांत के पिता के.के. सिंह ने 25 जुलाई को पटना में एफआईआर दर्ज की थी। इसमें उन्होंने रिया, इंद्रजीत चक्रवर्ती, संध्या चक्रवर्ती, शोविक चक्रवर्ती, सैमुअल मिरांडा और श्रुति मोदी पर सुशांत को आत्महत्या करने के लिए उकसाने, धोखाधड़ी करने और सुशांत को बंधक बनाने का आरोप लगाया था।

रिया चक्रवर्ती व सुशांत सिंह राजपूत(Image: Rhea Chakraborty, Instagram)

पूछताछ को टालने के लिए किए गए अनुरोध को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा खारिज किए जाने के बाद अंतत: रिया चक्रवर्ती शुक्रवार को मुंबई में वित्तीय जांच एजेंसी के सामने पेश हुईं। रिया अपने भाई शोविक चक्रवर्ती के साथ सुबह 11.50 बजे ईडी कार्यालय में पहुंची। ईडी धन शोधन निवारण अधिनियम (पीएमएलए), 2002 के तहत मामले में अभिनेत्री का बयान दर्ज करेगी।

एजेंसी उससे वित्तीय मामलों और संपत्तियों में निवेश के बारे में सवाल करेगी। साथ ही पिछले एक साल में दिवंगत अभिनेता के बैंक खाते से हुए वित्तीय लेनदेन के बारे में भी पूछताछ करेगी। ईडी ने 31 जुलाई को रिया और उसके परिवार के सदस्यों के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग का मामला दर्ज किया था। यह मामला दिवंगत अभिनेता के खाते से कथित रूप से 15 करोड़ रुपये के “संदिग्ध लेनदेन” से संबंधित है।


आपको बता दें कि अभी कुछ ही दिनों पहले रिया ने ट्वीट कर सीबीआई जांच की मांग की थी। लेकिन केंद्र द्वारा सीबीआई जांच की मंजूरी दिये जाने के बाद रिया अब इसे असंवैधानिक बता रही है।

बता दें कि सुशांत के पिता के.के. सिंह ने 25 जुलाई को पटना में एफआईआर दर्ज की थी। इसमें उन्होंने रिया, इंद्रजीत चक्रवर्ती, संध्या चक्रवर्ती, शोविक चक्रवर्ती, सैमुअल मिरांडा और श्रुति मोदी पर सुशांत को आत्महत्या करने के लिए उकसाने, धोखाधड़ी करने और सुशांत को बंधक बनाने का आरोप लगाया था। ईडी ने मामले में बिहार पुलिस द्वारा दर्ज प्राथमिकी के आधार पर रिया और उसके परिवार के सदस्यों का नामजद किया है।

यह भी पढ़ें: सुशांत की मौत का एक लॉजिकल एंड बहुत जरूरी है: अनुपम खेर

ईडी ने उन फर्मों के वित्तीय लेनदेन का विवरण भी मांगा है, जिनमें रिया और शोविक डायरेक्टर हैं। इससे पहले रिया ने ईडी से अनुरोध किया था कि वह सुशांत की मौत के मामले से जुड़ी मनी लॉन्ड्रिंग जांच के संबंध में उसकी पूछताछ को फिलहाल टाल दे और सुप्रीम कोर्ट की सुनवाई के बाद ही उससे पूछताछ करे, लेकिन ईडी ने उसके अनुरोध को खारिज कर दिया था।

वहीं गुरुवार को सीबीआई ने अभिनेता की मौत के मामले में रिया और उसके परिवार के सदस्यों पर मामला दर्ज किया है। (आईएएनएस)

Popular

प्राइवेट क्रिप्टोकरेंसी पर शिकंजा कसेगी केंद्र की सरकार। (Wikimedia Commons)

आज सुबह से सोशल मीडिया से लेकर मीडिया तक क्रिप्टोकरेंसी(Cryptocurrency) ही चल रहा है। कोई कह रहा है कि सरकार क्रिप्टो करेंसी बंद करने जा रही है, तो कोई कह रहा है कि सरकार खुद क्रिप्टोकरेंसी लाने वाली है। आखिर सच्चाई क्या है और होने क्या वाला है? इसी विषय पर आज हम को विस्तृत रूप से जानेंगे -

दरअसल केंद्र सरकार क्रिप्टोकरेंसी(Cryptocurrency) को काबू करने के लिए एक बिल आने वाली है जिसकी घोषणा मंगलवार को कर दी गई हैं। सरकार(Central government) की ओर से इस पर घोषणा आने के बाद ही भारत में क्रिप्टो बाजार धड़ाम हो गया। लगभग हर बड़े क्रिप्टोकरेंसी में 15 फीसदी से ज्यादा की गिरावट दर्ज की गई। सरकार ने यह साफ कर दिया है कि वो भारत में सभी प्राइवेट क्रिप्टोकरेंसी को बैन कर देगी और वह खुद की एक आधिकारिक क्रिप्टोकरेंसी लाएगी। यह क्रिप्टोकरेंसी बिल संसद के इसी शीतकालीन सत्र में पेश किया जाएगा, जोकि 29 नवंबर यानी अगले सोमवार से शुरू हो रहा है।

Keep Reading Show less

हर साल 25 नवंबर को अंतर्राष्ट्रीय महिला हिंसा उन्मूलन दिवस मनाया जाता है। (Pexels)

हर साल 25 नवंबर को अंतर्राष्ट्रीय महिला हिंसा उन्मूलन दिवस मनाया जाता है। 17 दिसंबर, 1999 को संयुक्त राष्ट्र महासभा में प्रस्ताव पारित किये जाने के बाद इस दिवस की स्थापना हुई। इसे अंतर्राष्ट्रीय घरेलू हिंसा की समाप्ति दिवस भी कहा जाता है। इस दिन को दुनिया भर में महिलाओं के साथ हो रहे विभिन्न तरह के हिंसा (Domestic Violence) के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए मनाया जाता है।

देखा जाए तो दुनिया भर में हर तीन में से एक महिला ने मनोवैज्ञानिक, यौन और शारीरिक हिंसा का अनुभव किया है। संयुक्त राष्ट्र संघ का मानना है कि महिलाओं के खिलाफ हिंसा मानवाधिकार का उल्लंघन है और इसके पीछे की वजह महिलाओं के साथ भेदभाव सहित शिक्षा, गरीबी, एचआईवी और शांति जैसे मुद्दों से जुड़ा है।

वहीं, भारतीय मीडिया में अकसर घरेलू हिंसा (Domestic Violence) से जुड़ी खबरें देखने को मिलती हैं। हालांकि, भारत में महिलाओं और लड़कियों के खिलाफ हिंसा को रोकने और खत्म करने के कई कानून हैं, लेकिन अभी भी संबंधित कानूनों और नीतियों के पूर्ण रूप से सक्रिय होकर कार्य करने की जरुरत है।

Keep Reading Show less
योगी आदित्यनाथ, मुख्यमंत्री, उत्तर प्रदेश(Image: Yogi Adityanath, Twitter)

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने मंगलवार को ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन पार्टी के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी को समाजवादी पार्टी का 'एजेंट' करार दिया। उन्होंने ओवैसी पर राज्य में दंगे भड़काने का भी आरोप लगाया और कहा कि यदि एआईएमआईएम नेता परेशानी पैदा करते हैं तो उनपर कड़ी कार्रवाई होगी। कानपुर में जिला मुख्यालय कार्यालय के उद्घाटन के अवसर पर 'बूथ अध्यक्षों के सम्मेलन' को संबोधित करते हुए, योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने कहा कि पहले राज्य में हर तीसरे या चौथे दिन दंगे होते थे, लेकिन अब उत्तर प्रदेश दंगा मुक्त हो चुका है। इस अवसर पर मैं 'चाचा जान' (ओवैसी) और 'अब्बा जान' (मुलायम) के अनुयायियों को ध्यान से सुनने के लिए कहूंगा - अगर आप राज्य में भावनाओं को भड़काकर माहौल खराब करते हैं, तो सरकार इससे सख्ती से निपटेगी।

AIMIM, Member of Parliament, Lok Sabha AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी [Wikimedia Commons]

Keep reading... Show less