Never miss a story

Get subscribed to our newsletter


×
दुनिया

कैसे एलन मस्क के Dogecoin वाले ट्वीट ने उनकी कंपनी SpaceX को भी पछाड़ दिया?

भारत में इन दिनों क्रिप्टोकरंसी डॉजकॉइन की दीवानगी हर तरफ छाने लगी. देसी क्रिप्टो एक्सचेंजेस पर डॉजकॉइन की रेकॉर्ड तोड़ ट्रेडिंग भी हो रही है.

स्पेस एक्स के मालिक एलन मस्क।[Wikimedia Commons]

भारत में इन दिनों क्रिप्टोकरंसी डॉजकॉइन की दीवानगी हर तरफ छाने लगी. देसी क्रिप्टो एक्सचेंजेस पर डॉजकॉइन की रेकॉर्ड तोड़ ट्रेडिंग भी हो रही है। जिसकी सबसे बड़ी वजह है एलन मस्क (Elon Musk)। उन्होंने
(Bitcoin) में अच्छा खासा निवेश तो किया ही डॉजकॉइन (Dogecoin) को भी इस साल के शुरूआत से ही प्रमोट कर रहे है। एक जापानी नस्ल के कुत्ते शीबा इनु पर बने मीम से प्रेरित यह डिजिटल कॉइन अचानक इंटरनेट सेंसेशन कैसे बन गया ये हैरत की बात है। अब आलम ये है की पिछले तीन महीनों में 10 गुना उछलकर 80 अरब डॉलर के करीब पहुंच चुकी है।

क्या है डॉजकॉइन ?

Dogecoin Bitcoin जैसा ही क्रिप्टो करेंसी है. इसे 2013 में सॉफ्टवेयर इंजीनियर Billy Markus और Jackson Palmer ने मजाक के तौर पर शुरू किया था। ये क्रिप्टो Doge मीम पर बेस्ड था, इसे Bitcoin से फास्टर और फन ऑप्शन के रूप में शुरू किया गया था। उन्होंने डॉजकॉइन के लिए किसी फैन्सी चिन्ह को चुनने के बजाय जापानी कुत्ते की एक ब्रीड शिबा इनू (Shiba Inu) को चुना। यह पहले ही ऑनलाइन पॉपुलर था। क्रिएटर्स ने यहां तक ये भी कहा कि Dogecoin को व्यंग्य के तौर पर शुरू किया गया था। उस टाइम Bitcoin की वैल्यू 20,000 डॉलर तक पहुंचने के बाद कई फ्रॉड क्रिप्टो करेंसी आ गए थे। इस मजाकिया क्रिप्टो करेंसी को काफी लोग फॉलो करने लगे थे। CoinGecko के अनुसार इस वजह से इसकी वैल्यूएशन 34 बिलियन के पार पहुंच गई है।


Dogecoin Bitcoin जैसा ही क्रिप्टो करेंसी है.(Wikimedia Commons)

“SpaceX अगले साल ‘DOGE -1 मिशन टू द मून’ करेगी लॉन्च”

इसे लेकर एलन मस्क ने अपने ऑफिशियल ट्विटर हैंडल पर ट्वीट भी किया है। अपने ट्वीट में एलन ने लिखा है, “स्पेसएक्स अगले साल स्टेलाइट “DOGE -1 मिशन टू द मून” लॉन्च कर रहा है. DOGE में भुगतान के लिए मिशन है। अंतरिक्ष में पहली क्रिप्टो – अंतरिक्ष में पहली meme।

Dogecoin का मार्केट कैप जापान की दिग्गज ऑटो कंपनी होंडा मोटर कंपनी लिमिटेड से अधिक हो गया है। होंडा का मार्केट कैप 54.52 अरब डॉलर है जबकि Dogecoin का मार्केट कैप 86 अरब डॉलर पहुंच गया है। यह मार्केट कैप के हिसाब से दुनिया की पांचवीं सबसे बड़ी क्रिप्टोकरेंसी बन गई है। Dogecoin के को-क्रिएटर बिली मार्कस ने बताया मेरे पास Litecoin, Bitcoin, DOGE और कुछ अन्य क्रिप्टोकरेंसीज थीं। शायद उन्हें आभास नहीं था कि मजाक में शुरू हुई उनकी क्रिप्टोकरेंसी एक दिन दुनिया में तहलका मचाएगी।

यह भी पढ़े : COVID-19: वैक्सीन के बिना कैसे हल होगा वैश्विक कोरोना संकट

मस्क ने Dogecoin के सपोर्ट में फरवरी में कई ट्वीट किए थे। पहले ट्वीट में उन्होंने केवल Doge लिखा। फिर उन्होंने लिखा, ‘Dogecoin is the people’s crypto’। इससे अगले ट्वीट में उन्होंने लिखा, ‘No highs, no lows, only Doge’। बस फिर क्या था, इस क्रिप्टोकरेंसी की कीमत उछलकर 5 सेंट जा पहुंची। मस्क के ट्वीट्स से पहले यह 3 सेंट पर ट्रेड कर रही थी।

Popular

प्रमुख हिंदू नेता और श्री नारायण धर्म परिपालन योगम के महासचिव वेल्लापल्ली नतेसन (wikimedia commons)

हमारे देश में लव जिहाद के जब मामले आते है , तब इस मुद्दे पर चर्चा जोर पकड़ती है और देश कई नेता और जनता अपनी-अपनी राय को वयक्त करते है । एसे में एक प्रमुख हिंदू नेता और श्री नारायण धर्म परिपालन योगम के महासचिव वेल्लापल्ली नतेसन ने सोमवार को एक बयान दिया जिसमें उन्होनें कहा कि यह मुस्लिम समुदाय नहीं बल्कि ईसाई हैं जो देश में धर्मांतरण और लव जिहाद में सबसे आगे हैं।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार एनडीए के सहयोगी और भारत धर्म जन सेना के संरक्षक वेल्लापल्ली नतेसन नें एक कैथोलिक पादरी द्वारा लगाए गए आरोपों पर प्रतिक्रिया दी , जिसमे कहा गया था हिंदू पुरुषों द्वारा ईसाई धर्म महिलाओं को लालच दिया जा रहा है। नतेसन नें पाला बिशप जोसेफ कल्लारंगट की एक टिप्पणी जो कि विवादास्पद "लव जिहाद" और "मादक जिहाद" की भी जमकर आलोचना की और यह कहा कि इस मुद्दे पर "मुस्लिम समुदाय को निशाना बनाना सही नहीं है"।

Keep Reading Show less

महंत नरेंद्र गिरि (Wikimedia Commons)

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि की सोमवार को संदिग्ध हालात में मौत हो गई। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि को बाघंबरी मठ स्थित उनके आवास पर श्रद्धांजलि दी। मुख्यमंत्री ने कहा कि दोषियों को जांच के बाद सजा दी जाएगी। उन्होंने कहा ''यह एक दुखद घटना है और इसी लिए अपने संत समाज की तरफ से, प्रदेश सरकार की ओर से उनके प्रति श्रद्धांजलि व्यक्त करने के लिए में स्वयं यहाँ उपस्थित हुआ हूँ। अखाड़ा परिषद और संत समाज की उन्होंने सेवा की है। नरेंद्र गिरि प्रयागराज के विकास को लेकर तत्पर रहते थे। साधु समाज, मठ-मंदिर की समस्याओं को लेकर उनका सहयोग प्राप्त होता था। उनके संकल्पों को पूरा करने की शक्ति उनके अनुयायियों को मिले''

योगी आदित्यनाथ ने कहा '' कुंभ के सफल आयोजन में नरेंद्र गिरि का बड़ा योगदान था। एक-एक घटना के पर्दाफाश होगा और दोषी अवश्य सजा पाएगा। मेरी अपील है सभी लोगों से की इस समय अनावश्यक बयानबाजी से बचे। जांच एजेंसी को निष्पक्ष रूप से कार्यक्रम को आगे बढ़ाने दे। और जो भी इसके लिए जिम्मेदार होगा उसको कानून की तहत कड़ी से कड़ी सजा भी दिलवाई जाएगी।

Keep Reading Show less

By: कम्मी ठाकुर, स्वतंत्र पत्रकार एवं स्तम्भकार, हरियाणा

केजरीवाल सरकार की झूठ, फरेब, धूर्तता और भ्रष्टाचार की पोल खोलता 'बोल रे दिल्ली बोल' गीतरुपी शब्दभेदी बाण एकदम सटीक निशाने पर लगा है। सुभाष, आजाद, भगतसिंह जैसे आजादी के अमर शहीद क्रांतिकारियों के नाम व चेहरों को सामने रखकर जनता को बेवकूफ बना सुशासन ईमानदारी और पारदर्शिता का सब्जबाग दिखाकर सत्ता पर काबिज हुए अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी सरकार आज पूरी तरह से मुस्लिम तुष्टिकरण, भ्रष्टाचार, कुशासन एवं कुव्यवस्था के दल-दल में धंस चुकी है। आज केजरीवाल का चाल, चरित्र और चेहरा पूरी तरह से बेनकाब हो चुका है। दिल्ली में कोविड-19 के दौरान डॉक्टरों सहित सैकड़ों विभिन्न धर्म-संप्रदाय के मेडिकल स्टाफ के लोगों ने बतौर कोरोना योद्धा अपनी जाने गंवाई थी। लेकिन उन सब में केजरीवाल के चश्मे में केवल मुस्लिम डॉक्टर ही नजर आया, जिसके परिजनों को 'आप सरकार' ने एक करोड़ की धनराशि का चेक भेंट किया। किंतु बाकी किसी को नहीं बतौर मुख्यमंत्री यह मुस्लिम तुष्टिकरण, असंगति, पक्षपात आखिर क्यों ?

Keep reading... Show less