'Amar Akbar Anthony' ने पूरे किए अपने 45 साल

'Amar Akbar Anthony' बचपन में अलग हुए तीन भाइयों पर केंद्रित है, जिन्हें विभिन्न धर्मों के परिवारों द्वारा अपनाया जाता है- हिंदू, इस्लाम और इसाई धर्म।
'Amar Akbar Anthony' ने पूरे किए अपने 45 साल
'Amar Akbar Anthony' ने पूरे किए अपने 45 सालIANS

बॉलीवुड इंडस्ट्री (Bollywood Industry) के जाने माने दिवंगत फिल्म निर्माता मनमोहन देसाई की फिल्म 'अमर अकबर एंथनी' (Amar Akbar Anthony) ने हिंदी सिनेमा में अपनी रिलीज के 45 साल पूरे कर लिए हैं। अभिनेत्री शबाना आजमी, जिन्होंने अमिताभ बच्चन, ऋषि कपूर, विनोद खन्ना, नीतू सिंह और परवीन बाबी के साथ अभिनय किया है, इस खास मौके को लेकर फिल्म में अपनी कास्टिंग को याद किया।

इस फिल्म में शबाना आजमी (Shabana Azmi) ने भी एक महत्वपूर्ण भू्मिका निभाई थी। तो ऐसे में अपनी कास्टिंग को याद करते हुए कहा, "मैंने 'परवरिश' में मनमोहन देसाई के साथ काम किया था और फिल्म को करने में मुझे बहुत मजा आया। एक दिन जब 'परवरिश' आखिरी दौर में थी, वो रंजीत स्टूडियो में मुझसे मिलने आए और उन्होंने कहा, "शबाना मैं पहली बार एक फिल्म का निर्माण कर रहा हूं और निश्चित रूप से इसका निर्देशन भी कर रहा हूं और मैं चाहता हूं कि आप इसका एकहिस्सा बनें।"

अनुभवी अभिनेता प्राण के बेटे सुनील, फिल्म के सहायक निर्देशक थे, और उन्हें यकीन है कि यह फिल्म इजराइल के लोगों को पसंद आएगी। उन्होंने आगे कहा, "मनमोहन देसाई एक जादूगर थे, इस तरह की फिल्म के सेट पर काम करना एक शानदार अनुभव था, 45 साल हो गए, पर सब कुछ कल की तरह लगता है।"

'अमर अकबर एंथनी' बचपन में अलग हुए तीन भाइयों पर केंद्रित है, जिन्हें विभिन्न धर्मों के परिवारों द्वारा अपनाया जाता है- हिंदू, इस्लाम और इसाई धर्म। वे बड़े होकर क्रमश: एक पुलिस अधिकारी, एक कव्वाली गायक, और एक अवैध शराब की दुकान के मालिक बन जाते हैं।

'Amar Akbar Anthony' ने पूरे किए अपने 45 साल
क्या है नवाजुद्दीन सिद्दीकी के लिए ‘Bollywood Hero’ की परिभाषा?

विशेष स्क्रीनिंग पर, शेमारू एंटरटेनमेंट के सीओओ, क्रांति गड़ा ने कहा, "अमर अकबर एंथनी' एक्शन, कॉमेडी और रोमांस के सही मिश्रण के साथ एक प्रतिष्ठित बॉलीवुड फिल्म है। यह हर भारतीय के दिल में एक विशेष स्थान रखता है और हमें इस पर गर्व है। इस प्रसिद्ध फिल्म को विशेष रूप से शेमारू के 60वें वर्ष में आने पर इजराइल में लाएं।"

दिवंगत मनमोहन देसाई के बेटे और फिल्म के सहायक निर्देशक केतन देसाई ने साझा किया कि जब वे यह फिल्म बना रहे थे, तो उन्हें नहीं पता था कि यह बॉक्स ऑफिस पर काम करेगी या बुरी तरह से विफल हो जाएगी।
(आईएएनएस/PS)

Related Stories

No stories found.
hindi.newsgram.com