धनतेरस पर खरीददारी की सोच रहे है? कुछ भी खरीदने से से मुहूर्त जान लें, कहीं लेने के देने न पड़ जाएं

धनतेरस के दिन खरीदी गई वस्तु है व्यक्ति के जीवन में धन समृद्धि और सौभाग्य लाती है।
धनतेरस
धनतेरस Wikimedia

आमतौर पर धनतेरस (Dhanteras) पर खरीदारी करना बेहद शुभ माना जाता है। लेकिन क्या आप जानते हैं सुख समृद्धि लाने वाले इस दिन में भी एक अशुभ समय होता है जिसमें कुछ भी खरीदना आपके लिए अशुभ साबित हो सकता है।

भगवान धनकुबेर (Dhan Kuber), धनवंतरी (Dhanvantari) और माता लक्ष्मी (Lakshmi) का दिन धनतेरस बेहद ही शुभ माना जाता है और इस दिन इन तीनों की पूजा की जाती है माना जाता है कि यह इन तीनों को प्रसन्न करने का दिन होता है। धनतेरस के दिन खरीदी गई वस्तु है व्यक्ति के जीवन में धन समृद्धि और सौभाग्य लाती है। इस साल धनतेरस की पूजा के लिए 22 अक्टूबर की शाम का मुहूर्त बहुत अच्छा है लेकिन 22 अक्टूबर को शनिवार होने से इस दिन वाहन और लोहा खरीदने से बचे। इसलिए खरीदारी के लिए 23 अक्टूबर का दिन बहुत शुभ है।

यदि धनतेरस के दिन आर्थिक संपन्नता बढ़ानी है तो शुभ मुहूर्त में पूजा करिए, सोना चांदी पीतल जैसी धातु, वाहन आदि खरीदे।

धनतेरस
झांसी का Strawberry festival लाएगा किसानों के लिए मुनाफा

इस साल हिंदू पंचांग के अनुसार कार्तिक कृष्ण त्रयोदशी तिथि यानि कि धनतेरस 22 अक्टूबर दिन शनिवार को शाम 6:03 से शुरू होगी और 23 अक्टूबर की शाम 6:04 तक रहेगी। लेकिन इसी दौरान राहु काल में खरीदारी करना अशुभ होगा।

इस वर्ष धनतेरस को राहुकाल 23 अक्टूबर की शाम 4:19 से शुरू होगा और 5:44 तक रहेगा। राहु काल में वस्तुएं खरीदना शुभ माना जाता है बल्कि राहुकाल में कोई भी शुभ कार्य करना अशुभ माना जाता है। इसके अलावा 23 अक्टूबर की सुबह 9:00 बजे से सुबह 10:30 के बीच खरीदारी करने से बचें।

धनतेरस के दिन धनिया, बर्तन, झाडू, वाहन, सोना चांदी, कपड़ों और प्रॉपर्टी की खरीदारी करना बेहद शुभ माना जाता है।

साथ ही इस दिन अशुद्ध और मिलावटी वस्तुएं जैसे प्लास्टिक चीनी मिट्टी का सामान खरीदने से बचें।

(PT)

Related Stories

No stories found.
hindi.newsgram.com