छत्तीसगढ़ में हिन्दू धर्मगुरु पर महात्मा गाँधी पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने के आरोप में एफआईआर दर्ज

0
12
छत्तीसगढ़ में हिन्दू धर्मगुरु पर महात्मा गाँधी पर आपत्तिजनक टिपण्णी करने के आरोप में एफआईआर दर्ज की गई है। (IANS)

एक अधिकारी ने 27 दिसंबर को कहा कि छत्तीसगढ़ पुलिस ने महात्मा गांधी(Mahatma Gandhi) के खिलाफ अपमानजनक शब्दों का इस्तेमाल करने और उनके हत्यारे नाथूराम गोडसे(Nathuram Godse) की प्रशंसा करने के बाद वर्गों के बीच दुश्मनी को बढ़ावा देने के आरोप में हिंदू धर्मगुरु(Hindu Religious Leader) कालीचरण महाराज के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज(FIR) की है।

रायपुर के रावण भाटा मैदान में 26 दिसंबर की शाम दो दिवसीय ‘धर्म संसद’ के समापन के दौरान कालीचरण ने महात्मा गांधी के खिलाफ ‘अपमानजनक’ शब्द का इस्तेमाल किया था और लोगों से सरकार के मुखिया के रूप में एक कट्टर हिंदू नेता को चुनने के लिए कहा था, ताकि धर्म की रक्षा हो सके।

उनके इस बयान की राज्य में सत्तारूढ़ कांग्रेस के नेताओं ने आलोचना की थी।

क पुलिस अधिकारी ने कहा,“कांग्रेस नेता प्रमोद दुबे की शिकायत के आधार पर, कालीचरण के खिलाफ 26 दिसंबर की रात टिकरापारा पुलिस स्टेशन में भारतीय दंड संहिता की धारा 505 (2) (वर्गों के बीच शत्रुता, घृणा या दुर्भावना पैदा करने या बढ़ावा देने वाले बयान) के तहत मामला दर्ज किया गया था।

उन्होंने कहा कि मामले में आगे की जांच जारी है।

कार्यक्रम के दौरान कालीचरण ने कहा था, ”इस्लाम का लक्ष्य राजनीति के जरिए राष्ट्र पर कब्जा करना है। हमारी आंखों के सामने उन्होंने 1947 में (विभाजन का जिक्र करते हुए) कब्जा कर लिया था, उन्होंने पहले ईरान, इराक और अफगानिस्तान पर कब्जा कर लिया था। उन्होंने राजनीति के जरिए बांग्लादेश और पाकिस्तान पर कब्जा किया, मैं नाथूराम गोडसे को सलाम करता हूं कि उन्होंने गांधी की हत्या की।”

यह भी पढ़ें- अयोध्या को जल्द ही जल मार्ग से जोड़ेगी योगी सरकार

राज्य कांग्रेस की संचार शाखा के प्रमुख सुशील आनंद शुक्ला ने धर्मगुरु की टिप्पणी की निंदा की थी। उन्होंने कहा, “महात्मा गांधी के खिलाफ अपशब्दों का इस्तेमाल बेहद आपत्तिजनक है। कालीचरण को पहले यह साबित करना चाहिए कि वह एक संत हैं।”

Input-IANS; Edited By- Saksham Nagar

न्यूज़ग्राम के साथ Facebook, Twitter और Instagram पर भी जुड़ें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here