Saturday, June 12, 2021
Home देश भारत के प्रथम राष्ट्रपति डॉ. राजेन्द्र प्रसाद यादव की 136वें जयंती, कई...

भारत के प्रथम राष्ट्रपति डॉ. राजेन्द्र प्रसाद यादव की 136वें जयंती, कई बड़े नेताओं ने किया याद

आज भारत रत्न एवं प्रथम राष्ट्रपति डॉ. राजेंद्र प्रसाद की 136वीं जयंती है। कई बड़े नेताओं ने राजेंद्र बाबू को अपने ट्वीट द्वारा याद किया और नमन किया।

आज भारत के प्रथम राष्ट्रप्रति डॉ. राजेंद्र प्रसाद की जयंती है। भारत को स्वतंत्रता में इनका भी अहम योगदान था। 3 दिसंबर 1884 में बिहार के सारण(सीवान) जिले के जरदोई गांव में जन्मे राजेंद्र प्रसाद के पिता महादेव सहाय संस्कृत और फ़ारसी के विद्वान थे। आज उनके 136वें जयंती पर कई बड़े नेताओं ने उन्हें याद किया। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने राष्ट्रपति भवन में डॉ. राजेंद्र प्रसाद की तस्वीर पर पुष्प अर्पित कर उन्हें याद किया।

देश के उप-राष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू अपने ट्वीट द्वारा डॉ. राजेन्द्र प्रसाद को याद करते हुए लिखते हैं कि “देश के प्रथम राष्ट्रपति डॉ राजेन्द्र प्रसाद जी की जन्म जयंती के अवसर पर उनकी पुण्य स्मृति को सादर नमन करता हूं। संविधान सभा के अध्यक्ष के रूप में तथा राष्ट्रपति के रूप में उन्होंने जिन संवैधानिक मर्यादाओं को स्थापित किया, उनका पालन करना भारत के हर नागरिक का कर्तव्य है।”

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी ट्वीट के द्वारा डॉ. प्रसाद को याद किया और वह लिखते हैं कि “पूर्व राष्ट्रपति भारत रत्न डॉ. राजेन्द्र प्रसाद की जयंती पर उन्हें मेरी सादर श्रद्धांजलि। स्वतंत्रता संग्राम और संविधान निर्माण में उन्होंने अतुलनीय भूमिका निभाई। सादा जीवन और उच्च विचार के सिद्धांत पर आधारित उनका जीवन देशवासियों को सदैव प्रेरित करता रहेगा।”

यह भी पढ़ें: श्रीमद्भगवद्गीता और अज़ान पर क्यों अटकाई गई सूई?

डॉ. राजेंद्र प्रसाद सरल व्यक्तित्व के नेता थे और उनकी कार्यनिष्ठा से गांधी जी भी खासा प्रभावित थे। राजेंद्र बाबू ने स्वतंत्रता आंदोलन से जुड़ने के लिए कलकात्ता विश्वविद्यालय के सेनिटर पद से त्याग दे दिया था। और तो और गांधी जी द्वारा चलाए गए विदेशी संस्थाओं के बहिष्कार हेतु डॉ. प्रसाद ने अपने पुत्र मृत्युंजय प्रसाद को कलकत्ता विश्वविद्यालय से हटाकर बिहार विद्यापीठ में दाखिला करवा दिया था। साल 1962 में उन्हें देश के सबसे बड़े उपाधि भारत रत्न से भी सम्मानित किया गया।

POST AUTHOR

Shantanoo Mishra
Poet, Writer, Hindi Sahitya Lover, Story Teller

जुड़े रहें

7,623FansLike
0FollowersFollow
177FollowersFollow

सबसे लोकप्रिय

धर्म निरपेक्षता के नाम पर हिन्दुओ को सालों से बेवकूफ़ बनाया गया है: मारिया वर्थ

यह आर्टिक्ल मारिया वर्थ के ब्लॉग पर छपे अंग्रेज़ी लेख के मुख्य अंशों का हिन्दी अनुवाद है।

विज्ञापनों पर पानी की तरह पैसे बहा रही केजरीवाल सरकार, कपिल मिश्रा ने लगाया आरोप

पिछले 3 महीनों से भारत, कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहा है। इन बीते तीन महीनों में, हम लगातार राज्य सरकारों की...

भारत का इमरान को करारा जवाब, दिखाया आईना

भारत ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान द्वारा संयुक्त राष्ट्र महासभा में दिए गए भाषण पर आईना दिखाते हुए करारा जवाब दिया...

जब इन्दिरा गांधी ने प्रोटोकॉल तोड़ मुग़ल आक्रमणकारी बाबर को दी थी श्रद्धांजलि

ये बात तब की है जब इन्दिरा गांधी भारत की प्रधानमंत्री हुआ करती थी। वर्ष 1969 में इन्दिरा गांधी काबुल, अफ़ग़ानिस्तान के...

दिल्ली की कोशिश पूरे 40 ओवर शानदार खेल खेलने की : कैरी

 दिल्ली कैपिटल्स के विकेटकीपर एलेक्स कैरी ने कहा है कि टीम के लिए यह समय है टूर्नामेंट में दोबारा शुरुआत करने का।...

गाय के चमड़े को रक्षाबंधन से जोड़ने कि कोशिश में था PETA इंडिया, विरोध होने पर साँप से की लेखक शेफाली वैद्य कि तुलना

आज ट्वीटर पर मचे एक बवाल में PETA इंडिया का हिन्दू घृणा खुल कर सबके सामने आ गया है। ये बात...

दिल्ली दंगा करवाने में ‘आप’ पार्षद ताहिर हुसैन ने खर्च किए 1.3 करोड़ रूपए: चार्जशीट

इस साल फरवरी में हुए हिन्दू विरोधी दिल्ली दंगों को लेकर आज दिल्ली पुलिस ने कड़कड़डूमा कोर्ट में चार्ज शीट दाखिल किया।...

क्या अमनातुल्लाह खान द्वारा लिया गया ‘दान’, दंगों में खर्च हुए पैसों की रिकवरी थी? बड़ा सवाल!

फरवरी महीने में हुए दिल दहला देने वाले हिन्दू विरोधी दंगों को लेकर दिल्ली पुलिस आक्रमक रूप से लगातार कार्यवाही कर रही...

हाल की टिप्पणी