Saturday, June 12, 2021
Home देश कुपोषण के खिलाफ जंग में प्रभावी हथियार बनेगा फोर्टिफाइड चावल

कुपोषण के खिलाफ जंग में प्रभावी हथियार बनेगा फोर्टिफाइड चावल

खाद्यान्न सुरक्षा के साथ पोषण सुरक्षा भी जरूरी है, सेहत के प्रति बढ़ती जागरूकता के नाते भी ,और सशक्त भारत के लिए कुपोषण दूर करना एक अनिवार्य शर्त है। इस बाबत पहले भी कई प्रयास हो चुके हैं पर इनको अपेक्षित सफलता नहीं मिली। पहली बार योगी सरकार ने इस बाबत ठोस पहल की है।

खाद्यान्न सुरक्षा के साथ पोषण सुरक्षा भी जरूरी है, सेहत के प्रति बढ़ती जागरूकता के नाते भी ,और सशक्त भारत के लिए कुपोषण दूर करना एक अनिवार्य शर्त है। इस बाबत पहले भी कई प्रयास हो चुके हैं पर इनको अपेक्षित सफलता नहीं मिली। पहली बार योगी सरकार ने इस बाबत ठोस पहल की है। इसके लिए लोगों के सबसे पसंदीदा भोजन चावल को ही हथियार बनाया है। यह फोर्टिफाइड चावल लोगों का भोजन भी होगा और दवा भी। इसमें जरूरी मात्रा में मौजूद आयरन, जिंक, विटामिन ए, बी-1, बी-12, तथा फॉलिक एसिड के अलावा जरूरी सूक्ष्म पोषक तत्व भी मौजूद रहेंगे।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आकांक्षात्मक जिला चंदौली से इसका वर्चुअल उद्घाटन किया। फरवरी से चंदौली की राशन की सभी दुकानों से सिर्फ फोर्टिफाइड चावल ही मिलेगा। साल के अंत तक प्रदेश की सभी राशन की दुकानों पर यह चावल उपलब्ध होगा। लोग इसका प्रयोग करें, इसके लिए सरकार इस चावल की खूबियों का व्यापक प्रचार-प्रसार भी करेगी। इसमें स्थानीय जनप्रतिनिधियों की भी मदद ली जाएगी। चावल की खूबियों को लोग जानें और इसकी कालाबाजारी न हो इसके लिए हर जिले में नोडल अधिकारी भी नियुक्त होंगे।

यह भी पढ़ें : पीएम मोदी के दिल में है जम्मू-कश्मीर : गृह मंत्री अमित शाह

कुपोषण के खिलाफ जंग में प्रभावी हथियार बनेगा फोर्टिफाइड चावल
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ । (Social media )

पुरुषों में सूक्ष्म पोषक तत्वों की कमी

मालूम हो कि चावल भारतीय लोगों का सबसे पसंदीदा भोजन है। नेशनल सैंपल सर्वे ऑफिस (एनएसएसओ) के मुताबिक देश के करीब 65 फीसद लोग भोजन में चावल का उपयोग करते हैं। ऐसे में फोर्टिफाइड चावल कुपोषण के खिलाफ जंग में प्रभावी भूमिका निभा सकेगा।

एक अध्ययन के अनुसार देश में 6 माह से 5 साल के 59 फीसद बच्चे, 15 से 50 साल की 53 फीसद महिलाएं और इसी आयु वर्ग के 22 फीसद पुरुषों में आयरन और सूक्ष्म पोषक तत्वों की कमी है। यह चावल राशन कार्ड से मिलेगा। राशनकार्ड से खाद्यान्न लेने वालों में स्वाभाविक रूप से कुपोषित लोगों की संख्या औसत से अधिक होगी। लिहाजा कुपोषण के लिहाजा से समाज का जो तबका सर्वाधिक संवेदनशील है, उसके लिए यह भोजन के साथ दवा का भी काम करेगा।

विशेषज्ञों के अनुसार इस चावल में सामान्य चावल पर ही एक परत के रूप में जरूरी मात्रा में आयरन, विटामिन्स और सूक्ष्म पोषक तत्वों का कोट चढ़ाना होता है। इस प्रक्रिया से चावल को प्रसंस्कृत करने का लाभ मिलर्स को भी होगा। इससे एमएसएमई सेक्टर में स्थानीय स्तर पर रोजी-रोजगार के अवसर भी बढेंगे। साथ ही सिद्धार्थनगर का कालानमक जिसमें परंपरागत चावल की तुलना में जिंक एवं आयरन अधिक है, उनकी भी लोकप्रियता और मांग बढ़ेगी। इसका लाभ यहां के किसानों को बढ़ी आय के रूप में मिलेगा। (आईएएनएस)

POST AUTHOR

न्यूज़ग्राम डेस्क
संवाददाता, न्यूज़ग्राम हिन्दी

जुड़े रहें

7,623FansLike
0FollowersFollow
177FollowersFollow

सबसे लोकप्रिय

धर्म निरपेक्षता के नाम पर हिन्दुओ को सालों से बेवकूफ़ बनाया गया है: मारिया वर्थ

यह आर्टिक्ल मारिया वर्थ के ब्लॉग पर छपे अंग्रेज़ी लेख के मुख्य अंशों का हिन्दी अनुवाद है।

विज्ञापनों पर पानी की तरह पैसे बहा रही केजरीवाल सरकार, कपिल मिश्रा ने लगाया आरोप

पिछले 3 महीनों से भारत, कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहा है। इन बीते तीन महीनों में, हम लगातार राज्य सरकारों की...

भारत का इमरान को करारा जवाब, दिखाया आईना

भारत ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान द्वारा संयुक्त राष्ट्र महासभा में दिए गए भाषण पर आईना दिखाते हुए करारा जवाब दिया...

जब इन्दिरा गांधी ने प्रोटोकॉल तोड़ मुग़ल आक्रमणकारी बाबर को दी थी श्रद्धांजलि

ये बात तब की है जब इन्दिरा गांधी भारत की प्रधानमंत्री हुआ करती थी। वर्ष 1969 में इन्दिरा गांधी काबुल, अफ़ग़ानिस्तान के...

दिल्ली की कोशिश पूरे 40 ओवर शानदार खेल खेलने की : कैरी

 दिल्ली कैपिटल्स के विकेटकीपर एलेक्स कैरी ने कहा है कि टीम के लिए यह समय है टूर्नामेंट में दोबारा शुरुआत करने का।...

गाय के चमड़े को रक्षाबंधन से जोड़ने कि कोशिश में था PETA इंडिया, विरोध होने पर साँप से की लेखक शेफाली वैद्य कि तुलना

आज ट्वीटर पर मचे एक बवाल में PETA इंडिया का हिन्दू घृणा खुल कर सबके सामने आ गया है। ये बात...

दिल्ली दंगा करवाने में ‘आप’ पार्षद ताहिर हुसैन ने खर्च किए 1.3 करोड़ रूपए: चार्जशीट

इस साल फरवरी में हुए हिन्दू विरोधी दिल्ली दंगों को लेकर आज दिल्ली पुलिस ने कड़कड़डूमा कोर्ट में चार्ज शीट दाखिल किया।...

क्या अमनातुल्लाह खान द्वारा लिया गया ‘दान’, दंगों में खर्च हुए पैसों की रिकवरी थी? बड़ा सवाल!

फरवरी महीने में हुए दिल दहला देने वाले हिन्दू विरोधी दंगों को लेकर दिल्ली पुलिस आक्रमक रूप से लगातार कार्यवाही कर रही...

हाल की टिप्पणी