Sunday, January 24, 2021
Home ओपिनियन राष्ट्र निर्माण के लिए बेटियों को सशक्त बनाना होगा

राष्ट्र निर्माण के लिए बेटियों को सशक्त बनाना होगा

जेएसपीएल फाउंडेशन की चेयरपर्सन शालू जिन्दल ने कहा एक साक्षर लड़की सदैव अपने भाइयों-बहनों, पड़ोसियों को शिक्षित करने का प्रयास करेगी; पूरी खबर पढ़ें!

बेटियां सशक्त होंगी तभी हमारा देश भारत मजबूत होगा क्योंकि एक साक्षर लड़की सदैव अपने भाइयों-बहनों, पड़ोसियों को शिक्षित करने का प्रयास करेगी; इससे एक नई चेतना आएगी, जो कुशलता को बढ़ावा देगी और रोजगार के अनगिनत अवसर भी पैदा करेगी। यह कहना है जेएसपीएल फाउंडेशन की चेयरपर्सन शालू जिन्दल का, जो भगवान श्रीकृष्ण की जन्मभूमि मथुरा में 1914 में स्थापित श्री किशोरी रमन गर्ल्स इंटर कॉलेज के नए भवन के भूमि पूजन समारोह में ऑनलाइन अपने विचार प्रकट कर रही थीं।

जेएसपीएल फाउंडेशन इस इंटर कॉलेज के भवन के जीर्णोद्धार में सहयोग करेगा। ओपी जिन्दल ग्रुप के संस्थापक चेयरमैन ओपी जिन्दल के बताए मार्ग पर चलकर जेएसपीएल चेयरमैन नवीन जिन्दल के समर्थन और सहयोग से बेटियों की उत्तम शिक्षा के लिए फाउंडेशन ने यह अनूठी पहल की है।

शालू जिन्दल ने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति समाज के लिए कुछ न कुछ अच्छा करने का प्रयास करता रहता है। उनकी भी एक अभिलाषा है कि वह देश की बेटियों को अच्छी शिक्षा दिलाने का प्रयास करें। बेटियां राष्ट्र निर्माण में सर्वश्रेष्ठ योगदान कर सकती हैं। बृज शिक्षा कायाकल्प के कार्यों की सराहना करते हुए उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश, राजस्थान और बिहार के 500 से अधिक स्कूलों में शैक्षिक सुविधाओं के विकास में योगदान कर रही यह संस्था हमारे लिए प्रेरणा का स्रोत है।

यूनिसेफ के आंकड़ों का हवाला देते हुए उन्होंने आान किया कि हम सभी बेटियों को शिक्षित करने का बीड़ा उठाएं तो देश की तस्वीर में खुशहाली और संपन्नता का रंग घुल जाएगा। खुशी की बात यह है कि अब युग बदल रहा है। हम सभी को पूरे समर्पण से बेटियों को आगे बढ़ाने का प्रयास करना चाहिए। शिक्षा ही एकमात्र ऐसा माध्यम है, जो बेटियों को सशक्त बना सकती है।

उन्होंने कहा कि एक साक्षर लड़की सदैव अपने भाइयों-बहनों, पड़ोसियों को शिक्षित करने का प्रयास करेगी; इससे एक नई चेतना आएगी, जो कुशलता को बढ़ावा देगी और रोजगार के अनगिनत अवसर भी पैदा करेगी। इसलिए हमें आत्मनिर्भर भारत के सपने साकार करने के लिए बेटियों को उत्तम शिक्षा प्रदान करने की प्रक्रिया में और तेजी लानी होगी।

(सांकेतिक चित्र)

1914 में स्थापित श्री किशोरी रमन बालिका इंटर कॉलेज बालिका शिक्षा के क्षेत्र में सराहनीय कार्य कर रहा है। खासकर आर्थिक रूप से कमजोर और निम्न-मध्यवर्गीय परिवारों की बेटियों के भविष्य निर्माण के लिए यह इंटर कॉलेज प्रयासरत है। जेएसपीएल फाउंडेशन ने इसके जीर्ण-शीर्ण भवन को नया रूप देने में सहयोग की पहल की है।

आधुनिक सुविधाओं से युक्त लगभग 30 हजार वर्गफुट में यह भवन तैयार होगा जो भूकंप रोधी भी होगा। स्कूल में दिव्यांग बच्चों के लिए भी विशेष व्यवस्थाएं की जाएंगी। तीन मंजिला नए भवन में लगभग 5000 बेटियों को दो पालियों में उत्तम शिक्षा दी जाएगी। वास्तु को ध्यान में रखते हुए स्कूल भवन का निर्माण इस तरह किया जाएगा कि बच्चियों को सूर्य का प्रकाश और स्वच्छ वायु सदैव मिले।

यह भी पढ़ें: महिलाओं के खिलाफ हिंसा रोकने के लिए ‘दखल दो’ अभियान से जुड़े राजकुमार राव

यह स्कूल स्थानीय प्रतिभाओं के लिए रोजगार का माध्यम भी बनेगा। इस भवन के डिजायन और तकनीकी सहयोग का दायित्व जेएसपीएल-आर्किटेक्चर कंस्ट्रक्शन और जेआरएल, सोनीपत उठाएगा। उम्मीद है कि एक साल में यह भवन बनकर तैयार हो जाएगा।

इस अवसर पर मथुरा के जिलाधिकारी सर्वज्ञ राम मिश्रा, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक गौरव ग्रोवर, एसडीएम क्रांति शेखर, सामाजिक कार्यकर्ता प्रियल भारद्वाज और अनेक गण्यमान्य व्यक्ति मौजूद थे।(आईएएनएस)

POST AUTHOR

न्यूज़ग्राम डेस्क
संवाददाता, न्यूज़ग्राम हिन्दी

जुड़े रहें

6,018FansLike
0FollowersFollow
177FollowersFollow

सबसे लोकप्रिय

धर्म निरपेक्षता के नाम पर हिन्दुओ को सालों से बेवकूफ़ बनाया गया है: मारिया वर्थ

यह आर्टिक्ल मारिया वर्थ के ब्लॉग पर छपे अंग्रेज़ी लेख के मुख्य अंशों का हिन्दी अनुवाद है।

विज्ञापनों पर पानी की तरह पैसे बहा रही केजरीवाल सरकार, कपिल मिश्रा ने लगाया आरोप

पिछले 3 महीनों से भारत, कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहा है। इन बीते तीन महीनों में, हम लगातार राज्य सरकारों की...

भारत का इमरान को करारा जवाब, दिखाया आईना

भारत ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान द्वारा संयुक्त राष्ट्र महासभा में दिए गए भाषण पर आईना दिखाते हुए करारा जवाब दिया...

गाय के चमड़े को रक्षाबंधन से जोड़ने कि कोशिश में था PETA इंडिया, विरोध होने पर साँप से की लेखक शेफाली वैद्य कि तुलना

आज ट्वीटर पर मचे एक बवाल में PETA इंडिया का हिन्दू घृणा खुल कर सबके सामने आ गया है। ये बात...

जब इन्दिरा गांधी ने प्रोटोकॉल तोड़ मुग़ल आक्रमणकारी बाबर को दी थी श्रद्धांजलि

ये बात तब की है जब इन्दिरा गांधी भारत की प्रधानमंत्री हुआ करती थी। वर्ष 1969 में इन्दिरा गांधी काबुल, अफ़ग़ानिस्तान के...

क्या अमनातुल्लाह खान द्वारा लिया गया ‘दान’, दंगों में खर्च हुए पैसों की रिकवरी थी? बड़ा सवाल!

फरवरी महीने में हुए दिल दहला देने वाले हिन्दू विरोधी दंगों को लेकर दिल्ली पुलिस आक्रमक रूप से लगातार कार्यवाही कर रही...

दिल्ली दंगा करवाने में ‘आप’ पार्षद ताहिर हुसैन ने खर्च किए 1.3 करोड़ रूपए: चार्जशीट

इस साल फरवरी में हुए हिन्दू विरोधी दिल्ली दंगों को लेकर आज दिल्ली पुलिस ने कड़कड़डूमा कोर्ट में चार्ज शीट दाखिल किया।...

रियाज़ नाइकू को ‘शिक्षक’ बताने वाले मीडिया संस्थानो के ‘आतंकी सोच’ का पूरा सच

कौन है रियाज़ नायकू? कश्मीर के आतंकवादी संगठन हिजबुल मुजाहिद्दीन का आतंकी कमांडर बुरहान वाणी 2016 में ...

हाल की टिप्पणी