Sunday, May 9, 2021
Home दुनिया एच1बी वीजा ठंडे बस्ते में, अप्रवासी मुद्दों पर ज़्यादा ध्यान

एच1बी वीजा ठंडे बस्ते में, अप्रवासी मुद्दों पर ज़्यादा ध्यान

एच1 बी भी शामिल हैं, अब ठंडे बस्ते में हैं क्योंकि बाइडेन प्रशासन 470,000 से अधिक अप्रवासी वीजा मामलों पर अपना फोकस कर रहा है

By: निखिला नटराजन

गैर-अप्रवासी वीजा प्रोसेसिंग, जिसमें एच1 बी भी शामिल हैं, अब ठंडे बस्ते में हैं क्योंकि बाइडेन(Joe Biden) प्रशासन 470,000 से अधिक अप्रवासी वीजा मामलों पर अपना फोकस कर रहा है, जो अमेरिकी काउंसलेट में लंबित हैं। अमेरिकी सरकार के नवीनतम डेटा में यह जानकारी दी गई।

होमलैंड सिक्योरिटी के सेक्रेटरी एलेजांद्रो मयोरकास इस बात को लेकर प्रतिबद्ध नहीं हैं कि ट्रंप युग में एच1 बी (जो 31 मार्च को समाप्त हो रहा है) पर लगाया प्रतिबंध हटाया जाएगा या नहीं या फिर बाइडेन प्रशासन किस तरह से आगे बढ़ने की योजना बना रहा है। व्हाइट हाउस में सोमवार को एक ब्रीफिंग में उन्होंने कहा, “आप जानते हैं, मैं इस सवाल पर जवाब को लेकर सुनिश्चित नहीं हूं।”

महामारी के दौरान अमेरिकी नौकरी के बाजार में मंदी की ओर इशारा करते हुए, पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अप्रवासियों के लिए स्थायी निवास और एच1 बी(H1B), एच4, एच2 बी, एल1 और जे श्रेणी में कुशल कर्मचारियों, प्रबंधकों और आया (विदेशी) के लिए अस्थायी कार्य वीजा को रोक दिया था।

अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प।(VOA)

24 फरवरी को, बाइडेन प्रशासन ने ट्रंप(Trump) के प्रतिबंध को रद्द करते हुए एक उद्घोषणा जारी की, जिसने अप्रवासी वीजा पर अमेरिका में प्रवेश करने से व्यक्तियों को रोक दिया था, लेकिन एच-1बी, जे-1 और ए-1 वीजा पर रोक को नहीं हटाया, जो प्रभाव में बने रहे और 31 मार्च को समाप्त होने वाली हैं।

यह भी पढ़ें: क्या डोनाल्ड ट्रम्प 2024 का चनाव भी लड़ेंगे?

सोमवार को दो अलग-अलग ब्रीफिंग में, बाइडेन प्रशासन ने स्पष्ट किया कि गैर- अप्रवासी वीजा मामले अभी प्राथमिकता में नहीं हैं।

काउंसलर ब्यूरो में वीजा सेवाओं से जुड़ीं जूली स्टफ्ट ने कहा, “हमने अप्रवासी वीजा के प्रोसेसिंग को प्राथमिकता दी है। फुल स्टॉप।” उन्होंने कहा कि अमेरिका अमेरिकी नागरिकों के जीवनसाथी और बच्चों के लिए अप्रवासी वीजा को प्राथमिकता देता रहेगा। वीजा जारी करने और चीन, ईरान, ब्राजील, ब्रिटेन, आयरलैंड, दक्षिण अफ्रीका, और शेंगेन क्षेत्र के 26 देशों के लोगों के लिए अमेरिका में प्रवेश पर प्रतिबंध बरकरार है, लेकिन अमेरिकी नागरिकों और कानूनी स्थायी निवासियों के जीवनसाथी और बच्चों के लिए छूट है।(आईएएनएस-ShM)

POST AUTHOR

न्यूज़ग्राम डेस्क
संवाददाता, न्यूज़ग्राम हिन्दी

जुड़े रहें

7,640FansLike
0FollowersFollow
177FollowersFollow

सबसे लोकप्रिय

धर्म निरपेक्षता के नाम पर हिन्दुओ को सालों से बेवकूफ़ बनाया गया है: मारिया वर्थ

यह आर्टिक्ल मारिया वर्थ के ब्लॉग पर छपे अंग्रेज़ी लेख के मुख्य अंशों का हिन्दी अनुवाद है।

विज्ञापनों पर पानी की तरह पैसे बहा रही केजरीवाल सरकार, कपिल मिश्रा ने लगाया आरोप

पिछले 3 महीनों से भारत, कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहा है। इन बीते तीन महीनों में, हम लगातार राज्य सरकारों की...

भारत का इमरान को करारा जवाब, दिखाया आईना

भारत ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान द्वारा संयुक्त राष्ट्र महासभा में दिए गए भाषण पर आईना दिखाते हुए करारा जवाब दिया...

दिल्ली की कोशिश पूरे 40 ओवर शानदार खेल खेलने की : कैरी

 दिल्ली कैपिटल्स के विकेटकीपर एलेक्स कैरी ने कहा है कि टीम के लिए यह समय है टूर्नामेंट में दोबारा शुरुआत करने का।...

जब इन्दिरा गांधी ने प्रोटोकॉल तोड़ मुग़ल आक्रमणकारी बाबर को दी थी श्रद्धांजलि

ये बात तब की है जब इन्दिरा गांधी भारत की प्रधानमंत्री हुआ करती थी। वर्ष 1969 में इन्दिरा गांधी काबुल, अफ़ग़ानिस्तान के...

गाय के चमड़े को रक्षाबंधन से जोड़ने कि कोशिश में था PETA इंडिया, विरोध होने पर साँप से की लेखक शेफाली वैद्य कि तुलना

आज ट्वीटर पर मचे एक बवाल में PETA इंडिया का हिन्दू घृणा खुल कर सबके सामने आ गया है। ये बात...

दिल्ली दंगा करवाने में ‘आप’ पार्षद ताहिर हुसैन ने खर्च किए 1.3 करोड़ रूपए: चार्जशीट

इस साल फरवरी में हुए हिन्दू विरोधी दिल्ली दंगों को लेकर आज दिल्ली पुलिस ने कड़कड़डूमा कोर्ट में चार्ज शीट दाखिल किया।...

क्या अमनातुल्लाह खान द्वारा लिया गया ‘दान’, दंगों में खर्च हुए पैसों की रिकवरी थी? बड़ा सवाल!

फरवरी महीने में हुए दिल दहला देने वाले हिन्दू विरोधी दंगों को लेकर दिल्ली पुलिस आक्रमक रूप से लगातार कार्यवाही कर रही...

हाल की टिप्पणी