Never miss a story

Get subscribed to our newsletter


×
मनोरंजन

यूएई का गोल्डन वीजा पाकर सम्मानित महसूस कर रहा हूं : संजय दत्त

नेताओं द्वारा गोल्डन वीजा पहल वास्तव में दूरदर्शी है, इसने देश को एक निवेशक-अनुकूल राष्ट्र के रूप में विकसित होने में मदद की है|

संजय दत्त ने यह जानकारी साझा करते हुए कहा, प्रतिष्ठित वीजा प्राप्त करना एक सम्मान की बात है। (सोशल मीडिया)

अभिनेता संजय दत्त (Actor Sanjay Dutt) ने बुधवार को संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) (UAE) का गोल्डन वीजा प्राप्त करने पर यूएई सरकार का आभार व्यक्त किया। संजय दत्त ने यह जानकारी साझा करते हुए कहा, प्रतिष्ठित वीजा प्राप्त करना एक सम्मान की बात है। पिछले एक साल में दुबई मेरे परिवार के लिए एक घर बन गया है। इस पर विचार करने के लिए मैं यूएई की सरकार का उनके कभी न खत्म होने वाले समर्थन के लिए आभारी हूं। नेताओं द्वारा गोल्डन वीजा (Golden Visa) पहल वास्तव में दूरदर्शी है, इसने देश को एक निवेशक-अनुकूल राष्ट्र के रूप में विकसित होने में मदद की है और मुझे यकीन है कि आने वाले वर्षों में वह ऐसा करना जारी रखेंगे। जब भी उन्हें जरूरत होगी, मैं देश की मदद करने का संकल्प लेता हूं। क्योंकि मनुष्य के रूप में हमारा असली उद्देश्य यही है कि एक दूसरे को बढ़ने में मदद करें।

61 वर्षीय अभिनेता ने सोशल मीडिया (Social Media) पर भी खबर साझा की। इस जानकारी को फैंस के साथ शेयर करते हुए संजय दत्त ने अपनी तस्वीरें भी शेयर की हैं, जिनके साथ उन्होंने लिखा, हैशटैग जीडीआरएफएदुबई के महानिदेशक मेजर जनरल मोहम्मद अहमद अल र्मी की मौजूदगी में यूएई के लिए गोल्डन वीजा पाकर सम्मानित महसूस कर रहा हूं।


संजय दत्त ने इसके साथ ही हैशटैग फ्लाईदुबई के सीओओ हमद ओबैदल्ला को भी उनके समर्थन के लिए धन्यवाद दिया।

यह भी पढ़ें :- अभिषेक बनर्जी: ओटीटी के कारण अपनी बहुमुखी प्रतिभा साबित करने में सक्षम हुए।

बता दें कि यूएई सरकार ने 2019 में लंबी अवधि के निवास वीजा के लिए एक नई प्रणाली लागू की थी, जिससे विदेशियों को राष्ट्रीय प्रायोजक की आवश्यकता के बिना यूएई में रहने, अध्ययन करने और व्यवसाय करने के लिए गोल्डन वीजा प्रदान कर रहा है। यह पहल विदेशी निवेशकों और व्यापार मालिकों को देश में अपने व्यवसायों का पूर्ण स्वामित्व प्राप्त करने में मदद करती है।

काम के मोर्चे पर बात की जाए तो संजय दत्त अब भुज : द प्राइड ऑफ इंडिया, केजीएफ : चैप्टर 2, पृथ्वीराज और शमशेरा जैसी फिल्मों में दिखाई देंगे। (आईएएनएस-SM)

Popular

कोहली ने आज ट्विटर के जरिए एक बयान में इसकी घोषणा की। (IANS)

वर्तमान में भारतीय क्रिकेट टीम के सबसे बड़े खिलाड़ी और कप्तान विराट कोहली ने गुरूवार को घोषणा की कि वह इस साल अक्टूबर-नवंबर में होने वाले टी20 विश्व कप के बाद टी20 प्रारूप की कप्तानी छोड़ेंगे। उनका ये एलान करोड़ो दिलो को धक्का देने वाला था क्योंकि कोहली को हर कोई कप्तान के रूप में देखना चाहता है । कई दिनों से चल रहे संशय पर विराम लगाते हुए कोहली ने आज ट्विटर के जरिए एक बयान में इसकी घोषणा की। कोहली ने बताया कि वह इस साल अक्टूबर-नवंबर में होने वाले टी20 विश्व कप के बाद टी20 के कप्तानी पद को छोड़ देंगे।

ट्वीट के जरिए उन्होंने इस यात्रा के दौरान उनका साथ देने के लिए सभी का धन्यवाद दिया। कोहली ने बताया कि उन्होंने यह फैसला अपने वर्कलोड को मैनेज करने के लिए लिया है। उनका वर्कलोड बढ़ गया था ।

Keep Reading Show less

मंगल ग्रह की सतह (Wikimedia Commons)

मंगल ग्रह पर घर बनाने का सपना हकीकत में बदल सकता हैं। वैज्ञानिकों ने अंतरिक्ष यात्रियों के खून, पसीने और आँसुओ की मदद से कंक्रीट जैसी सामग्री बनाई है, जिसकी वजह से यह संभव हो सकता है। मंगल ग्रह पर छोटी सी निर्माण सामग्री लेकर जाना भी काफी महंगा साबित हो सकता है। इसलिए उन संसाधनों का उपयोग करना होगा जो कि साइट पर प्राप्त कर सकते हैं।

मैनचेस्टर विश्वविद्यालय के अध्ययन में यह पता लगा है कि मानव रक्त से एक प्रोटीन, मूत्र, पसीने या आँसू से एक यौगिक के साथ संयुक्त, नकली चंद्रमा या मंगल की मिट्टी को एक साथ चिपका सकता है ताकि साधारण कंक्रीट की तुलना में मजबूत सामग्री का उत्पादन किया जा सके, जो अतिरिक्त-स्थलीय वातावरण में निर्माण कार्य के लिए पूरी तरह से अनुकूल हो।

Keep Reading Show less

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली (instagram , virat kohali)

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली और कोच रवि शास्त्री का लोहा इन दिनों हर जगह माना जा रहा है । इसी क्रम में ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान मार्क टेलर ने कहा है कि भारतीय कप्तान विराट कोहली और कोच रवि शास्त्री हाल के दिनों में टेस्ट क्रिकेट के महान समर्थक और प्रमोटर हैं। साथ ही उन्होंने कोहली की तारीफ भी की खेल को प्राथमिकता देते हुए वो वास्तव में टेस्ट क्रिकेट खेलना चाहते हैं।"
ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान मार्क टेलर ने इस बात पर अपनी चिंता व्यक्त की ,कि भविष्य में टेस्ट क्रिकेट कब तक प्राथमिकता में रहेगा। उन्होंने कहा, "चिंता यह है कि यह कब तक जारी रहेगा। उनका यह भी कहना है किइसमें कोई संदेह नहीं है कि जैसे-जैसे हम बड़े होते जाते हैं और नई पीढ़ी आती है, मेरे जैसे लोगों को जिस तरह टेस्ट क्रिकेट से प्यार है यह कम हो सकता है और यह हमारी पुरानी पीढ़ी के लिए चिंता का विषय है।"

\u0930\u0935\u093f \u0936\u093e\u0938\u094d\u0924\u094d\u0930\u0940 भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व खिलाड़ी और वर्तमान कोच रवि शास्त्री (wikimedia commons)

Keep reading... Show less