Saturday, September 26, 2020
Home देश कोरोना काल में कैसे मनाया जाएगा स्कूलों में स्वतंत्रता दिवस? जानिए

कोरोना काल में कैसे मनाया जाएगा स्कूलों में स्वतंत्रता दिवस? जानिए

स्वतंत्रता दिवस के मौके पर स्कूल को पूरी तरह सजाया जाएगा। स्कूल प्रशासन के वरिष्ठ लोग और कुछ स्टाफ जाकर फ्लैग होस्टिंग करेंगे, जिसको स्कूल के बच्चे लाइव देख सकेंगे।

कोरोना की वजह से बच्चे भले ही अपने घरों में कैद हैं, लेकिन दिल्ली-एनसीआर के स्कूलों में स्वतंत्रता दिवस को मनाने की तैयारी की गई है। इस साल स्कूल के सभी बच्चे घर से ही स्वतंत्रता दिवस मनाएंगे। जिसके लिए स्कूल प्रशासन द्वारा ऑनलाइन सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी। जिस वक्त स्कूल में झंडा फहराया जाएगा, उस वक्त बच्चे अपने घरों से ही इसका हिस्सा बनेंगे और लाइव स्ट्रीमिंग के द्वारा स्कूल से जुड़ेंगे।

दिल्ली के शालीमार बाग स्थ्ति मॉडर्न पब्लिक स्कूल की प्रिंसिपल अल्का कपूर ने आईएएनएस को बताया, “कोरोना बीमारी से बच्चों को सुरक्षित रखना स्कूल प्रशासन और माता पिता की जिम्मेदारी है। हम इस साल की तरह देश भक्ति के कार्यक्रम आयोजित करेंगे, जिसमे कई तरह की एक्टिविटी बच्चों और स्कूल टीचर्स द्वारा कराई जाएगी।”

स्वतंत्रता दिवस के दिन जश्न मनाते स्कूल के बच्चे (Image: Wikimedia Commons)

उन्होंने कहा, “इस साल स्वतंत्रता दिवस के मौके पर हम 10 अगस्त से 15 अगस्त तक एक्टिविटी करेंगे, जिसको लेकर बच्चे, स्कूल टीचर और घर पर माता पिता सब तैयारी कर रहे हैं।”

यह भी पढ़ें: अब हर जिले के मशहूर उत्पादों को देश और दुनिया से जोड़ा सकेगा

उन्होंने कहा, “एक हफ्ते के इन सभी कार्यक्रमों को हम स्कूल की वेबसाइट पर भी अपलोड करेंगे। स्कूल के अलग-अलग क्लास के छात्रों द्वारा विभिन्न तरह के कार्यक्रम आयोजित होंगे। स्कूल के बच्चों द्वारा सेंड आर्ट, शैडो एक्ट और माइम एक्ट जैसे कार्यक्रम करने की तैयारिया चल रहीं हैं।”

उन्होंने कहा, “इस साल बच्चे घरों से ही स्वतंत्रता दिवस मनाएंगे, इसमे माता पिता भी हिस्सा लेंगे। स्कूल प्रशासन के कुछ टीचर्स द्वारा स्कूल जाकर फ्लैग होस्टिंग की जाएगी। हम फ्लैग होस्टिंग की लाइव स्ट्रीमिंग भी करेंगे।”

भारतीय ध्वज (Image: Pixabay)

गाजियाबाद में डीपीएस स्कूल की प्रिंसिपल पल्लवी उपाध्याय ने आईएएनएस को बताया, “इस साल 15 अगस्त को ऑनलाइन असेम्बली कराई जाएगी। हर क्लास के बच्चों के लिए अलग अलग कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे। पेंटिंग कॉम्पिटिशन कराया जाएगा, पोइट्री, नुक्कड़ नाटक आदि जैसे अन्य कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे। स्कूल के बच्चों को इतिहास से जुड़ी बातें भी बताई जाएंगी।”

यह भी पढ़ें: नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति को लेकर किए गए संबोधन में प्रधानमंत्री मोदी ने क्या कहा? पढ़ें

उन्होंने कहा, “स्वतंत्रता दिवस के मौके पर स्कूल को पूरी तरह सजाया जाएगा। स्कूल प्रशासन के वरिष्ठ लोग और कुछ स्टाफ जाकर फ्लैग होस्टिंग करेंगे, जिसको स्कूल के बच्चे लाइव देख सकेंगे। हम चाहते है कि बच्चे इस खास मौके पर हमारे साथ रहें और इसका हिस्सा बने।”

ग्रेटर नोएडा में पेसिफिक स्कूल की प्रिंसिपल सीमा कौर ने आईएएनएस को बताया, “15 अगस्त के मौके पर पूरी तरह से वर्चुअल एक्टिविटी कराई जाएगी। जिसमें क्राफ्ट एक्टिविटी होगी, इतिहास से जुड़ी महत्वपूर्ण बातें होंगी।”(आईएएनएस)

POST AUTHOR

न्यूज़ग्राम डेस्क
संवाददाता, न्यूज़ग्राम हिन्दी

जुड़े रहें

6,022FansLike
0FollowersFollow
164FollowersFollow

सबसे लोकप्रिय

धर्म निरपेक्षता के नाम पर हिन्दुओ को सालों से बेवकूफ़ बनाया गया है: मारिया वर्थ

यह आर्टिक्ल मारिया वर्थ के ब्लॉग पर छपे अंग्रेज़ी लेख के मुख्य अंशों का हिन्दी अनुवाद है।

विज्ञापनों पर पानी की तरह पैसे बहा रही केजरीवाल सरकार, कपिल मिश्रा ने लगाया आरोप

पिछले 3 महीनों से भारत, कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहा है। इन बीते तीन महीनों में, हम लगातार राज्य सरकारों की...

क्या अमनातुल्लाह खान द्वारा लिया गया ‘दान’, दंगों में खर्च हुए पैसों की रिकवरी थी? बड़ा सवाल!

फरवरी महीने में हुए दिल दहला देने वाले हिन्दू विरोधी दंगों को लेकर दिल्ली पुलिस आक्रमक रूप से लगातार कार्यवाही कर रही...

गाय के चमड़े को रक्षाबंधन से जोड़ने कि कोशिश में था PETA इंडिया, विरोध होने पर साँप से की लेखक शेफाली वैद्य कि तुलना

आज ट्वीटर पर मचे एक बवाल में PETA इंडिया का हिन्दू घृणा खुल कर सबके सामने आ गया है। ये बात...

दिल्ली दंगा करवाने में ‘आप’ पार्षद ताहिर हुसैन ने खर्च किए 1.3 करोड़ रूपए: चार्जशीट

इस साल फरवरी में हुए हिन्दू विरोधी दिल्ली दंगों को लेकर आज दिल्ली पुलिस ने कड़कड़डूमा कोर्ट में चार्ज शीट दाखिल किया।...

रियाज़ नाइकू को ‘शिक्षक’ बताने वाले मीडिया संस्थानो के ‘आतंकी सोच’ का पूरा सच

कौन है रियाज़ नायकू? कश्मीर के आतंकवादी संगठन हिजबुल मुजाहिद्दीन का आतंकी कमांडर बुरहान वाणी 2016 में ...

जब इन्दिरा गांधी ने प्रोटोकॉल तोड़ मुग़ल आक्रमणकारी बाबर को दी थी श्रद्धांजलि

ये बात तब की है जब इन्दिरा गांधी भारत की प्रधानमंत्री हुआ करती थी। वर्ष 1969 में इन्दिरा गांधी काबुल, अफ़ग़ानिस्तान के...

“कौन दिशा में लेके चला रे बटोहिया..” के सदाबहार गायक जसपाल सिंह की कहानी

“कौन दिशा में लेके चला रे बटोहिया” इस गाने को किसने नहीं सुना होगा। अगर आप 80’ के दशक से हैं...

हाल की टिप्पणी